• search
मेरठ न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

युवक को गोली मारकर रोड पर मरता छोड़ गया, तमंचा के साथ थाने जाकर बोला- गिरफ्तार कर लो

|

मेरठ। उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले में 6 अगस्त को एक इंसानियत को शर्मसार कर देने वाला वीडियो सामने आया था। यहां क्रिकेट खेलने को लेकर हुए विवाद के चलते दूसरे पक्ष ने हाईवे पर रितिक को रोक कर गोली मार दी थी। इस दौरान युवक हाथ जोड़कर वहां से गुजरने वाले लोगों से जान बचाने की भीख मांगता रहा, लेकिन किसी ने उसकी मदद नहीं की, जिससे उसकी मौत हो गई। वहीं, बुधवार को आरोपित उज्ज्वल तमंचा लेकर आत्मसमर्पण करने थाने पहुंच गया। इस दौरान पुलिस आरोपित को पहचान भी नहीं पाई। उसके बताने पर पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया।

नहीं पहचाने सकी पुलिस

नहीं पहचाने सकी पुलिस

6 अगस्त को मेरठ के खरखौदा थाना क्षेत्र में क्रिकेट खेलने को लेकर हुए विवाद में बिजौली निवासी रितिक की डीएवी कॉलेज के पास गांव के ही उज्ज्वल पुत्र शिवकुमार, अंकुर पुत्र देशराज एवं एक अज्ञात युवक ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। पुलिस ने मंगलवार रात अंकुर पुत्र देशराज को मुख्य अभियुक्त बनाकर तमंचा बरामद कर गिरफ्तार कर लिया था। वहीं, सुबह तमंचा लेकर उज्ज्वल थाने पहुंचा तो पुलिस उसे पहचान भी नहीं सकी। उज्ज्वल ने हंसते हुए पहरे पर खड़े होमगार्ड को अपना नाम बताया और तमंचा निकालकर थाने में दारोगा को दे दिया। उज्ज्वल को देख पुलिसकर्मी चकित रह गए। पुलिस ने दोनों अभियुक्तों को जेल भेज दिया।

सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था वीडियो

सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था वीडियो

रितिक को गोली लगने के बाद जान बचाने की गुहार लगाने का वीडियो वायरल हो रहा है। इस दौरान रितिक की किसी ने मदद नहीं की। इसमें मौके पर खड़े लोगों और पुलिस पर सवाल उठ रहे हैं। वहीं, बुधवार को हत्यारोपित उज्ज्वल द्वारा बिना किसी भय के तमंचा लेकर थाने में समर्पण की वीडियो भी वायरल हो रही है, जिसे लेकर पुलिस की जमकर आलोचना हो रही है।

क्या कहा पुलिस ने

क्या कहा पुलिस ने

पुलिस अधीक्षक देहात अविनाश पांडेय ने बताया कि पुलिस के दबाव के कारण हत्यारोपित उज्ज्वल ने थाने में समर्पण किया है। दोनों आरोपितों को जेल भेज दिया है। पुलिस पर लगे आरोप बेबुनियाद हैं। विवेचना में अंकुर ने ही गोली मारी है। जांच करके आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।

ये भी पढ़ें:- मेरठ: हाथ जोड़कर मांगता रहा जान बचाने की भीख, किसी ने नहीं की मददये भी पढ़ें:- मेरठ: हाथ जोड़कर मांगता रहा जान बचाने की भीख, किसी ने नहीं की मदद

English summary
After murder accused walks into police station with pistol to surrender
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X