80 किलो का है शुभांगी का पैर, हालत देखकर भावुक हुए सीएम शिवराज, दिया इलाज का भरोसा

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

भोपाल। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान उस वक्त भावुक हो उठे जब उन्होंने एक होनहार छात्रा को कॉलेज की सीढ़ियों पर बैठे देखा। छात्रा की हालत देख वो खुद को रोक नहीं पाए और भीड़ से निकलकर उससे मिलने के लिए पहुंच गए। दरअसल शुभांगी हाथी पांव जैसी गंभीर बीमारी से पीड़ित है, लेकिन जब उसने सुना की कॉलेज में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आ रहे हैं तो वो खुद को रोक नहीं पाई। शुभांगी अपने पिता और दोस्तों की मदद से कॉलेज तक तो पहुंच गई, लेकिन अपनी बीमारी की वजह से वो कॉलेज के भीतर नहीं जा सकी। लेकिन उसके इंतजार का फल मीठा रहा और मुख्यमंत्री ने उसके इलाज का खर्चा उठाने की बात कही।

 छात्रा की हालत देख भावुक हुए सीएम शिवराज

छात्रा की हालत देख भावुक हुए सीएम शिवराज

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह सरोजिनी नायडू गर्ल्स कॉलेज एक कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचें थे। वहां उन्होंने लड़कियों की शिक्षा के महत्व को लेकर जानकारी दी, लेकिन इस कार्यक्रम में कुछ ऐसा हुआ जिसे देखकर मुख्यमंत्री भावुक हो उठे। शिवराज सिंह चौहान जब वहां से लौट रहे थे तो उन्होंने सीढ़ियों पर शिवांगी को बैठे देखा, जो अपनी बीमारी की वजह से लाचार थी और शर्मिंदगी की वजह से अंदर नहीं जा सकी।

40 किलो की शुभांगी का 80 किलो का पैर

40 किलो की शुभांगी का 80 किलो का पैर

दरअसल शुभांगी उसी कॉलेज की छात्रा है, लेकिन हाथी पांव की बीमारी से पीड़ित है। उसकी हालत अब ऐसी हो चुकी है कि वो चल फिर नहीं सकती है। खड़े होने के लिए भी उसे दो लोगों के सहारे की जरूरत पड़ती है। शुभांगी का वजन 40 किलो का है, लेकिन उसके पैर का वजन 80 किलो तक पहुंच गया है। इस खतरनाक बीमारी की वजह से अब शुभांगी कॉलेज भी नहीं आ पाती है। शुभांगी को देखकर मुख्यमंत्री उससे मिलने के लिए सीढ़ियों तक पहुंच गए और वहीं नीचे बैठकर उससे बातें करने लगे।

इलाज का खर्च उठाएगी सरकार

इलाज का खर्च उठाएगी सरकार

शुभांगी की हालत देखकर मुख्यमंत्री भावुक हो उठे। उन्होंने शुभांगी को मदद का भरोसा दिया और कहा कि उसका इलाज सरकार करवाएगी। उन्होंने कहा कि देश-विदेश जहां भी इस बीमारी का इलाज होगा वो शुभांगी का इलाज करवाएंगे और जो भी खर्च आएगा वो सरकार करेगी। उन्होंने शुभांगी की बीमारी के कागज मंगाए हैं।मुख्यमंत्री के भरोसे के बाद शुभांगी के घरवालों की उम्मीद जाग गई है कि उनकी होनहार बेटी एक बार फिर से अपना भविष्य बना पाएगी और पहले की तरह चल फिर सकेगी।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Shivraj singh Chouhan met student Shubhangi Jain suffering from elephantiasis at the programme. Shubhangi could not walk. The Chief Minister said that the expenses for Shubhangi’s treatment would be taken care of by the government.

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.