• search
लखनऊ न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

IAS सौम्या पांडेय गाजियाबाद से भेजी गईं कानपुर, 22 दिन पहले जन्मी बेटी को लेकर आ रही थी ऑफिस

|

लखनऊ। प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने बुधवार को दो आईएएस अधिकारियों के तबादले किए है। मुख्य विकास अधिकारी (CDO) जोगिंदर सिंह को बरेली विकास प्रधिकरण का उपाध्यक्ष बनाया गया है। तो वहीं, गाजियाबाद जिले के मोदीनगर में बतौर एसडीएम पद पर तैनात आईएएस सौम्या पांडेय को कानपुर देहात का सीडीओ बनाया गया है। बता दें कि आईएएस सौम्या पांडेय की एक तस्वीर हाल ही में सोशल मीडिया पर वायरल हो गई थी। तस्वीर वायरल होने के बाद लोग अब महिला आईएएस अधिकारी की खूब तारीफ कर रहे हैं।

    IAS Soumya Pandey: 22 दिन की बेटी साथ आ रहीं थी ऑफिस अब हुआ ट्रांसफर | वनइंडिया हिंदी
    22 दिन पहले दिया बेटी को जन्म

    22 दिन पहले दिया बेटी को जन्म

    सौम्या पांडेय मूल रूप से प्रयागराज जिले की रहने वाली है, और 2017 बैच की आईएएस अधिकारी हैं। जिनकी गाजियाबाद के मोदीनगर एसडीएम के पद पर यहा पहली नियक्ति थी। 22 दिन पूर्व उन्होंने एक प्यारी सी बिटिया को जन्म दिया हैं। हालांकि, डिलीवरी के बाद उनका मैटरनिटी लीव पर पूरा हक है, लेकिन उन्होंने महज एक महीने की मैटरनिटी लीव ली है इसके बाद वो काम पर वापस लौट आई हैं। अब वह अपने ऑफिस में कामकाज के साथ-साथ मां होने का फर्ज भी वो बखूबी निभा रही हैं।

    IAS सौम्या के काम के प्रति निष्ठा की हो रही है तारीफ

    IAS सौम्या के काम के प्रति निष्ठा की हो रही है तारीफ

    काम के प्रति उनकी निष्ठा को देखकर लोग भी उनकी तारीफ करते नजर आ रहे हैं। राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने सौम्या पांडे की तारीफ की और कहा कि इस तरह की निष्ठा सभी को अपने कर्तव्य के प्रति रखनी चाहिए। वहीं राज्य सभा सांसद प्रियंका चतुर्वेदी ने कहा है कि इतने छोटे बच्ची को दफ्तर लाना गलत है। बच्चे के जन्म के बाद मां और बच्ची दोनों को आराम की जरूरत होती है। उन्हें सुपर वूमन बनना छोड़कर बच्ची की सेहत पर ध्यान देना चाहिए।

    क्या कहा IAS सौम्या पांडेय ने

    क्या कहा IAS सौम्या पांडेय ने

    दरअसल, एक आईएएस अधिकारी होने के कारण उनपर कई प्रशसानिक भार हैं और कोरोना काल में उनकी जिम्मेदारियां और बढ़ गई हैं। इधर कोरोना काल में नवजात के पालन पोषण की चिंता अलग से। आईएएस सौम्या इन दोनों परिस्थितियों के बीच सामंजस्य बैठा रही हैं। वे नन्हीं बच्ची को लेकर अपने कार्यालय आ रही हैं और अपने दायित्वों का निर्वहन कर रही हैं। आईएएस सौम्या पांडेय ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि, 'जिस पद पर उन्हें रखा गया है उसके साथ इंसाफ करना उनकी जिम्मेदारी है। कोविड-19 को ध्यान में रखते हुए वह अपने साथ-साथ बच्ची का भी विशेष ध्यान रखती हैं। सभी फाइलों को भी वह बार-बार सैनिटाइज करती हैं।'

    ये भी पढ़ें:- कोविड-19 के बीच IAS सौम्या पांडेय बनीं और के लिए मिसाल, 22 दिन पहले जन्मी बेटी के साथ जॉइन की ड्यूटी

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    IAS soumya Pandey transferred from Ghaziabad to Kanpur
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X