खून से पत्र लिखने वाली बहनों को मुख्यमंत्री ने मिलने को बुलाया

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

बुलंदशहरयूपी में इंसाफ के लिए लोगों को दर-दर भटकना पड़ता है, पुलिस स्टेशन पर सुनवाई नहीं होने की वजह से लोगों को इंसाफ के लिए ऐसे कदम उठाने पड़ते हैं। कुछ ऐसा ही बुलंदशहर की बेटियो को इंसाफ के लिए करना पड़ा है, यहां दो बहनों ने मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को खून से पत्र लिखा, जिसके बाद मुख्यमंत्री ने उन्हें मिलने के लिए बुलाया है।

CM Akhilesh Yadav calls the girls to meet who wrote letter to him with blood

मासूम बेटियों ने जब सीएम को पत्र लिखा तो पूरे महकमे में हड़कंप मच गया, इस पत्र के बाद डीएम और एसएसपी हरकत में आये और वह बच्ची के घर पहुंच गये। साथ ही आश्वासन दिया का मामले की जल्द जांच कराकर आरोपी के खिलाफ कार्यवाही की जाएगी। लेकिन मासूम बेटियों की गुहार के बाद खुद मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने उन्हें मिलने के लिए बुलाया है।

आपको बता दें कि बुलंदशहर के निवासी अन्नू बंसल को 14 जून जिंदा जलाकर मार दिया गया था। अन्नू को महज इसलिए जलाकर मार दिया गया क्योंकि उसने सिर्फ बेटियों को जन्म दिया और वह बेटे को जन्म नहीं दे सकी। जिसके बाद मासूम बेटियों ने मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को खून से पत्र लिखकर इंसाफ की गुहार लगायी थी। जिसके बाद मुख्यमंत्री ने उन्हें मिलने के लिए बुलाया है।

फेसबुक पर मासूम कैंसर पीड़ित के लिए लगायी गुहार सुनी अखिलेश ने

मासूम बेटियों ने आरोप लगाया है कि पुलिस मामले की जांच नहीं कर रही है और अभी तक सिर्फ एक व्यक्ति की गिरफ्तारी हुई है। मृत अन्नू के भाई नवीन जिंदल ने अन्नू के पति सहित 11 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कराया था, लेकिन अभी तक अन्य लोगों की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। मासूम लतिका व तानिया ने पत्र में लिखा है कि उन्हें जान से मारने की धमकी दी गयी है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
CM Akhilesh Yadav calls the girls to meet who wrote letter to him with blood. Both sister wrote CM for justice to her mother who was burnt alive.
Please Wait while comments are loading...