• search
जयपुर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

जयपुर में टायर फटने के बाद रिम पर कार दौड़ाता रहा युवक, 13 थानों की पुलिस मिलकर भी नहीं पकड़ सकी

|

जयपुर। राजस्थान की राजधानी जयपुर की सड़कों पर 'रफ्तार' ने कई लोगों को जान जोखिम डाल दी। एक युवक कार को तेज गति से दौड़ाता रहा। गाड़ी का टायर फट गया तो भी वह नहीं रुका। उसने महज 60 मिनट में 50 किलोमीटर तक कार को भगा डाला। शहर में 13 थानों की पुलिस भी मिलकर उसे नहीं पकड़ पाई। वह हर पुलिस थाने की नाकाबंदी तोड़कर भागता रहा। फिर एक ब्लॉक होने पर वह फंस गया और पकड़ में आया। इसके बाद जो खुलासा हुआ वो चौंकाने वाला था।

झुंझुनूं के अलीपुर का रहने वाला है आरोपी रोमिक

झुंझुनूं के अलीपुर का रहने वाला है आरोपी रोमिक

जयपुर की विधायकपुरी पुलिस के अनुसार झुंझुनूं के गांव अलीपुर का रहने वाला 25 वर्षीय रोमिक भामू जयपुर में ऑनलाइन एजुकेशन एप कंपनी में जॉब करता है। गुरुवार देर रात वह पिता की कार लेकर अपने दोस्त हितेश व मनीष के साथ नाहरगढ़ किले की तरफ निकला था। सीकर-जयपुर रोड पर रात करीब एक बजे हरमाड़ा इलाके में पुलिस ने नाकाबंदी कर रखी थी।

इन पुलिस थाना इलाकों से गुजरा

इन पुलिस थाना इलाकों से गुजरा

वे नाकाबंदी तोड़कर भाग गए। नाकाबंदी तोड़ने पर विश्वकर्मा पुलिस थाने को कार रोकने के लिए सूचना दी गई। विश्वकर्मा थाने में मौजूद पुलिसकर्मियों ने कोशिश की, लेकिन कार की रफ्तार तेज होने से वे उसे रुकवा नहीं सके। इसके बाद सीकर रोड से विद्याधर नगर, शास्त्री नगर, पीतल फैक्ट्री, पानीपेच चौराहा, बनीपार्क होते हुए जयसिंह हाइवे पर पहुंचा। यहां से कलेक्ट्री सर्किल, खासाकोठी चौराहा से अशोक नगर में अहिंसा सर्किल पहुंच गया। इस बीच कार का अगला टायर रोड डिवाइडर से टकराकर फटा, लेकिन कार नहीं रुकी। लोहे की रिम सड़क से घिसटने पर चिंगारियां निकलती रहीं।

अलवर के एक विधायक की कार को टक्कर मारी

अलवर के एक विधायक की कार को टक्कर मारी

इसके बाद कार स्टेच्यू सर्किल, नारायण सिंह सर्किल, त्रिमूर्ति सर्किल, मोती डूंगरी सर्किल पहुंची। वहां एक बेरिकैड को टक्कर मारकर मोतीडूंगरी थाने के कांस्टेबल रतनाराम को घायल कर दिया। फिर कार गुरुद्वारा मोड़, ट्रांसपोर्ट नगर, एमआई रोड होते हुए रात करीब 2 बजे सर्किट हाउस पहुंची। वहां अलवर के एक विधायक की कार को टक्कर मारी। आगे रास्ता बंद था तो पीछा कर रहे एएसआई मुकेश कुमार ने आरोपी रोमिक को पकड़ा। एक घंटे के दौरान उसने कार को 50 किलोमीटर दौड़ा दिया और 13 थानों के सौ से ज्यादा पुलिसकर्मियों के पकड़ में नहीं आया। पुलिस पूछताछ में उसने बताया कि उसके पास लाइसेंस नहीं होने के कारण घबरा गया था। इसलिए पुलिस को देख कार दौड़ाता रहा।

खाकी ने खाकी को पीटा : जयपुर ADCP बोले-'कमिश्नर नहीं बचाते तो भरतपुर में पुलिसकर्मी मुझे गोली मार देते'

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
young man ran a car on the rim after a tire burst in Jaipur
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X