• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Melania की ख़बर पर Trump ने दिया जवाब, हेटर्स मेलानिया के बारे में लिखने लगे गंदी बात

|

वाशिंगटन। US First Lady Melania Trump: डोनाल्ड ट्रंप 2016 में अमेरिका के राष्ट्रपति बने और उनके व्हाइट हाउस छोड़ने में बस कुछ ही दिन बचे हैं। इस बीच शायद की ऐसा कोई दिन न रहा हो जब डोनाल्ड ट्रंप सोशल मीडिया पर आलोचना के निशाने पर न आए हों। ये अच्छा भी है कि एक स्वस्थ लोकतंत्र में लोग राष्ट्रपति की कमियों के बारे में बात करें उसके काम पर अपनी राय रखें। लेकिन क्या हो जब ये आलोचना नफरत में बदल जाए और राष्ट्रपति की बुराई करने के लिए लोग उनकी पत्नी के बारे में सोशल मीडिया पर अपमानजनक टिप्पणी करने लगें। डोनाल्ड ट्रंप के साथ कई बार ये हो चुका है।

ट्रम्प के एक खबर पर जवाब देने से शुरू हुई बात

ट्रम्प के एक खबर पर जवाब देने से शुरू हुई बात

ट्रंप ने क्रिसमस के एक दिन बाद एक मीडिया हाउस की खबर को रिट्वीट किया जिसमें फर्स्ट लेडी को फैशन मैगजीन में कवर न करने के बारे में खबर की गई थी। दरअसल बेरिटबार्ट न्यूज ने ट्विटर पेज पर स्टोरी को शेयर करते हुए लिखा 'फैशन प्रेस के अभिजात्य वर्ग ने अमेरिकी इतिहास में पहली बार पिछले 4 सालों से फर्स्ट लेडी को कवर पेज से बाहर रखा है।' इस स्टोरी में लिखा गया था कि कैसे मेलानिया ट्रंप ने 2195 डॉलर के जूते और 6610 डॉलर का कोट पहना। इस स्टोरी को रिट्वीट करते हुए ट्रंप ने लिखा 'अब तक की सबसे बड़ी! फेक न्यूज...' मीडिया हाउस की खबर पर ट्रंप ने जब जवाब दिया तो उसके ऊपर ऐसे भद्दे कमेंट की बाढ़ सी आ गई।

ट्रम्प हेटर्स कर रहे मेलानिया का चरित्र हनन

ट्रम्प हेटर्स कर रहे मेलानिया का चरित्र हनन

यहां ट्रंप का जवाब ज्यादा महत्वपूर्ण नहीं रह गया था। ट्रंप का शेयर करना था कि ट्रम्प हेटर्स को जैसे मौका मिल गया कि वे मेलानिया के बारे में जितनी गंदी बातें कह सकते थे वो जवाब में कह डालें। इसके बाद ट्विटर पर मेलानिया का चरित्र हनन किया जाने लगा। इस दौरान ये भी नहीं ध्यान रखा गया कि किसी देश की फर्स्ट लेडी के बारे में लिखा जा रहा है। भले ही आप कितनी नफरत करते हों किसी देश की फर्स्ट लेडी वहां कम से महिलाओं का प्रतिनिधित्व करती है। उसके बारे में कोई असभ्य बात कहना उस समाज का चेहरा दिखाता है।

फैशन मैगजीन में जगह न दिए जाने को लेकर एक यूजर ने लिखा शायद कोई (मैगजीन) भी ऐसी सॉफ्ट पोर्न मॉडल को नहीं देखना चाहता जो अक्सर सेक्स ट्रैफिकर्स के साथ देखी जाती हो। एक दूसरे यूजर ने तो मेलानिया ट्रंप को प्रास्टीट्यूट तक कह दिया। "ज्यादातर फैशन मैगजीन प्रास्टीट्यूट और ऑर्डर करके मंगाई गई रूसी दुल्हनों को नहीं कवर करती हैं। इसके साथ ही मेलानिया की GQ मैगजीन में छपी एक पुरानी तस्वीर भी लगाई है।

पूर्व सुपर मॉडल होने के लिए बनी निशाना

पूर्व सुपर मॉडल होने के लिए बनी निशाना

दरअसल मेलानिया ट्रंप स्लोवेनियाई मूल की हैं। हालांकि यह इटली का पड़ोसी देश है लेकिन युगोस्लाविया के कम्युनिष्ट फेडरेशन का हिस्सा होने के चलते अमेरिका में दक्षिणपंथी लोग इसे भी रूस की तरह ही देखते हैं। इसके साथ ही मेलानिया पूर्व सुपर मॉडल भी रही हैं और ट्रंप से शादी के पहले वह कई तरह के प्रोजेक्ट का हिस्सा रही हैं। डोनाल्ड ट्रंप के राष्ट्रपति बनने के पहले भी वह कई मैगजीन के कवर पेज पर दिख चुकी हैं। यही वजह है कि ट्रंप के विरोधी मेलानिया के मॉडल होने के चलते ट्रम्प को निशाना बनाते रहते हैं। यही नहीं मेलानिया के बारे में भी गंदी बातें लिखते रहते हैं।

एक यूजर ने ट्वीट के रिप्लाई में मेलानिया को कॉलगर्ल कह दिया। वहीं एक यूजर ने मेलानिया को शिष्ट कहने पर तंज कसते कह दिया। बहुत शिष्ट हैं, वह अपनी स्कूलिंग करने पोर्न हब यूनिवर्सिटी गई थी।

English summary
us first lady melania trump shamed by opponents on social media
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X