• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

US: Capitol Police की नाकामी, पहले से था हिंसा होने का इनपुट फिर भी नहीं की तैयारी

|

US Capitol Siege: वाशिंगटन डीसी। अमेरिका में 6 जनवरी को कैपिटल बिल्डिंग में हुई हिंसा के बारे में एफबीआई और न्यूयॉर्क पुलिस विभाग ने कैपिटल पुलिस ने पहले ही आगाह कर दिया है। कैपिटल बिल्डिंग की सुरक्षा करने वाली कैपिटल पुलिस को एजेंसियों ने बताया था कि 6 जनवरी को ट्रंप समर्थक वहां पहुंचकर बड़े पैमाने पर हिंसा कर सकते हैं। यही नहीं एफबीआई ने देशभर के कई चर्चित अतिवादी दक्षिणपंथियों से जनवरी की शुरुआत में ही संपर्क किया था और उन्हें ट्रंप के समर्थन में होने वाली रैली के लिए वाशिंगटन न जाने की चेतावनी दी थी।

एफबीआई ने साझा की थी जानकारी

एफबीआई ने साझा की थी जानकारी

एफबीआई ने साझा की थी जानकारी

एनबीसी ने एफबीआई के एक सीनियर अधिकारी के हवाले से बताया कि एफबीआई के पास ऐसे अतिवादी तत्वों के बारे में विश्वसनीय और कार्रवाई करने लायक जानकारी थी जो 6 जनवरी को वाशिंगटन पहुंचकर हिंसा में शामिल होने वाले थे। रिपोर्ट के मुताबिक एफबीआई ने ये जानकारी कैपिटल पुलिस को भी दी थी।

एफबीआई अधिकारी ने नाम न लेने की शर्त पर बताया कि ऐसे अतिवादी ट्रंप समर्थकों से एफबीआई ने संपर्क किया था और उन्हें प्रदर्शन में शामिल होने के लिए वाशिंगटन न जाने की चेतावनी भी दी थी।

नेशनल गार्ड की मदद का ऑफर ठुकराया

नेशनल गार्ड की मदद का ऑफर ठुकराया

विभिन्न अधिकारियों के हवाले से एनबीसी ने अपनी रिपोर्ट में कहा है न्यूयॉर्क पुलिस डिपार्टमेंट ने भी कैपिटल पुलिस को 6 जनवरी को हिंसा के बारे में सटीक और महत्वपूर्ण जानकारियां दी थीं। न्यूज चैनल के मुताबिक ये जानकारी बहुत ही खास थी। साथ ही इसमें सोशल मीडिया पर हो रही हिंसा भड़काने वाले बयानों का भी विश्लेषण किया गया था।

इसके अलावा एक और महत्वपूर्ण जानकारी सामने आई है कि हिंसा के तीन दिन पहले ही नेशनल गार्ड ने कैपिटल पुलिस को मदद करने का प्रस्ताव दिया था जिसे कैपिटल पुलिस ने इनकार कर दिया था। एसोसिएटेड प्रेस के मुताबिक पहले से ही हिंसा के तमाम इनपुट मिले थे जिसके कैपिटल पुलिस ने नजरअंदाज कर दिया और सिर्फ ये सोचकर तैयारी कर रखी थी कि प्रदर्शनकारी फ्री स्पीच के अधिकार के तहत पहुंच रहे हैं।

हिंसा ने पूरे अमेरिका को हिलाया

हिंसा ने पूरे अमेरिका को हिलाया

6 जनवरी को वाशिंगटन की कैपिटल बिल्डिंग में हुई हिंसा ने पूरे अमेरिका को हिला दिया था। प्रदर्शनकारी कांग्रेस के अंदर घुस गए थे और बिल्डिंग पर कब्जा कर लिया था। कैपिटल बिल्डिंग की सुरक्षा में तैनात कैपिटल पुलिस हिंसक प्रदर्शनकारियों को रोकने में असफल रही थी। बाद में नेशनल गार्ड को बुलाना पड़ा जिसके बाद बिल्डिंग को खाली कराया जा सका। इस हिंसा में 5 लोगों की मौत हुई थी। मरने वालों में एक पुलिस अधिकारी भी थे।

घटना के बाद जिम्मेदार लोगों की तलाश में मेट्रोपोलिटन पुलिस के साथ ही अमेरिका की संघीय एजेंसी को भी लगाया गया है। क्योंकि हिंसा में शामिल कई प्रदर्शनकारी दूसरे राज्यों के रहने वाले हैं और अप वापस अपने राज्य जा चुके हैं। ऐसे में इन लोगों को पकड़ने के लिए एफबीआई की मदद ली जा रही है।

America: कैपिटल बिल्डिंग से 2 ब्लॉक दूर खड़ी थी हथियारों से भरी गाड़ी, जांच रिपोर्ट से खुलासा

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
us capitol siege fbi and nypd share information with capitol police before incident
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X