भारत के खिलाफ एक हो गए हैं रूस, पाक और चीन, साउथ चाइना सी पर एक्‍सरसाइज

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

बीजिंग। दक्षिण एशिया में इस समय नए-नए समीकरण देखने को मिल रहे हैं। सोमवार को खबर आई थी कि रूस और पाकिस्‍तान इस वर्ष के अंत में एक ज्‍वाइंट वॉर एक्‍सरसाइज करने वाले हैं तो अब चीन और रूस ने साउथ चाइना सी पर एक्‍सरसाइज शुरू कर दी है। ऐसा लगने लगा है कि अमेरिका के साथ भारत की करीबियों के बाद अब रूस, पाकिस्‍तान और चीन भारत को अलग-थलग करने के मकसद से एक साथ आ रहे हैं।

china-russia-exercise

जापान और अमेरिका परेशान

साउथ चाइना सी पर रूस और चीन की इस एक्‍सरसाइज से अमेरिका खासा परेशान है। उसकी परेशानी पर चीन ने सवाल पूछा है। अमेरिका के अलावा जापान भी इस एक्‍सरसाइज को लेकर कई तरह से आशंकित है।

चीन के सरकारी न्यूजपेपर ग्‍लोबल टाइम्‍स की ओर से लिखा गया है कि चीन और रूस के नजदीक आने से अमेरिका और जापान जैसे देश काफी चिंतित हैं।

पढ़ें-भारत से बेरुखी और पाकिस्‍तान से मोहब्‍बत, रूस के बदलते तेवर

चीन और रूस से निपटना आसान नहीं

ग्‍लोबल टाइम्‍स एक एडीटोरियल में लिखा है दोनों देशों को परेशन होने दीजिए और अमेरिका और जापान अपनी ही उंगलियां जला रहे हैं। ग्‍लोबल टाइम्‍स के मुताबिक इस एक्‍सरसाइज से दोनों को परेशान होने की जरूरत नहीं है।

एडीटोरियल में अमेरिका को धमकी देते हुए लिखा गया है कि अगर कुछ देशों को लगता है कि पश्चिमी प्रशांत महासागर पर पश्चिम के कुछ देश अपना दबदबा बनाने चाहते हैं तो वे जान लें कि चीन और रूस से निपटना आसान नहीं है।

आठ दिनों की है एक्‍सरसाइज

चीन और रूस के बीच इस एक्‍सरसाइल को 'ज्‍वाइंट सी 2016' नाम दिया गया है और यह आठ दिनों तक चलेगा। चीन की नेवी के स्‍पोक्‍सपर्सन लियांग यंग के मुताबिक इस एक्‍सरसाइज में हाल के चीन और रूस के अब तक तक के सर्वोच्च

स्तर का मानकीकरण, लड़ाई और डिजिटलीकरण दिखेगा।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
While Russian and Pakistani army going to have a joint war exercise, China and Russia have launched a joint navel exercise in South China Sea.
Please Wait while comments are loading...