• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

NASA की ‘MARS क्रांति’ को राष्ट्रपति जो बाइडेन ने किया सैल्यूट, कामयाबी के बाद दिया गर्व करने वाला संदेश

|

Mars Perseverance Rover: वाशिंगटन: NASA ने मंगल ग्रह पर पर्सिवरेंस रोवर उतारकर पूरी दुनिया के अंतरिक्ष कार्यक्रम को एक नई दिशा दे दी है। मंगल ग्रह पर जिंदगी की तलाश में जुटी NASA ने एक और रोवर को मंगल ग्रह पर उतारने में कामयाबी हासिल की है, जिसकी पूरी दुनिया में सराहना हो रही है। नासा की इस उलबल्धि को राष्ट्रपति जो बाइडेन भी सलाम कर रहे हैं। राष्ट्रपति जो बाइडेन ने नासा की इस कामयाबी को टीवी पर लाइव देखा और NASA के वैज्ञानिकों को सैल्यूट भी किया।

NASA JOE BIDEN
    Nasa Mars Mission: मंगल पर सफलतापूर्वक उतरा NASA का Perseverance रोवर | वनइंडिया हिंदी

    जो बाइडेन ने कहा- ऐतिहासिक मिशन

    नासा की इस अंतरिक्ष क्रांति को लेकर पूरी दुनिया निगाहें थीं और खुद अमेरिकी राष्ट्रपति भी धड़कनें बढ़ा देने वाले इस मिशन को लगातार देख रहे थे। सात महीने बाद NASA का मार्स पर्सिवरेंस रोवर जैसे ही मंगल ग्रह पर उतरा ठीक वैसे ही राष्ट्रपति बाइडेन ने NASA के वैज्ञानिकों को सलाम करते हुए मिशन को ऐतिहासिक बताया।

    जो बाइडेन के बयान को जारी करते हुए राष्ट्रपति ऑफिस के ट्विटर अकाउंट से कहा गया कि 'NASA और NASA के इस मार्श मिशन से जुड़े सभी लोगों इस कामयाबी के लिए बहुत बहुत बधाई। नासा की इस सफलता ने एक बार फिर साबित किया कि अमेरिकी विज्ञान और महान अमेरिकी समाज किसी भी नामुमकिन चुनौती को पूरा कर सकता है'। राष्ट्रपति जो बाइडेन लगातार अपने दफ्तर में टीवी पर नासा के इस ऐतिहासिक मार्श मिशन को देख रहे थे। अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा के पर्सिवरेंस रोवर शुक्रवार यानि 19 फरवरी को मंगल ग्रह की सतह पर सफलतापूर्वक उतरा है। 7 महीने पहले मार्स पर्सिवरेंस रोवर ने धरती से टेकऑफ किया था और पर्सिवरेंस रोवर ने (Perseverance Rover) ने मंगल ग्रह की सतह पर भारतीय समय के मुताबिक 2 बजकर 25 मिनट के करीब लैंड किया। मार्स पर्सिवरेंस रोवर को नासा ने जेजेरो क्रेटर में सफलतापूर्वक लैंड कराया है। रोवर के लाल ग्रह पर पहुंचने के फौरन बाद ही नासा ने वहां की पहली तस्वीर भी जारी कर दी है। जिसे मंगल ग्रह के रहस्यों के उद्घाटन की दिशा में एक उपलब्धि माना जा रहा है।

    NASA की भारतीय वैज्ञानिक का कमाल

    इंटरनेशन समय 3 बजकर 55 मिनट पर NASA की भारतीय वैज्ञानिक और प्रोजेक्ट की ऑपरेशन लीड स्वाति मोहन ने नासा के इस रोवर के मंगल ग्रह की सतह पर सुरक्षित लैंडिंग की बात को कनफर्म किया। और इसके साथ ही अमेरिका पूरी दुनिया का पहला मुल्क बन गया है जिसने मंगल ग्रह पर सबसे ज्यादा रोवर उतारे हैं। माना जा रहा है कि नासा का यह रोवर मंगल ग्रह पर जीवन की संभावनाएं क्या हैं और क्या मंगलग्रह पर कभी जीवन रहा होगा, इसकी खोज करने में काफी अहम भूमिका निभाएगा। यह रोहर ऐसी जगहों को तलाशने का काम करेगा जहां जीवन होने की किसी भी संभावना यानि माइक्रोबियल लाइव का पता चलता हो। नासा का Perseverance रोवर जीवन से जुड़ी तमाम सबूतों, मिट्टी और पहाड़ों के टुकड़ों को कलेक्ट करेगा ताकि मार्श के लिए आगे जो मिशन भेजा जाए वो इन सबूतों को लेकर घरती पर वापस लौटे।

    मार्श पर उतरते ही Perseverance रोवर ने मंगल ग्रह की ब्लैक एंड व्हाइट तस्वीर धरती पर भेजा जिसमें चट्टानी जमीन Jezero क्रेटर देखा गया। इसके साथ ही उम्मीद की जा रही है कि मंगल ग्रह से पहला ऑडियो भी जल्द ही यह रोवर जल्द ही धरती पर भेजेगा। इनके साथ ही Perseverance रोवर मंगल ग्रह पर उन जानकारियों को भी इकट्ठा करने की कोशिश करेगा जिनके जरिए आने वाले समय में मंगल ग्रह पर इंसानी जीवन को खोजने में मदद करेगा। सबसे महत्वपूरण काम इस रोवर का मंगल ग्रह पर ऑक्सीजन और पानी को खोजने का है।

    Mars Perseverance Rover: मंगल की सतह पर सफलतापूर्वक उतरा NASA का रोवर, देखें लाल ग्रह की तस्वीर

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    NASA's historic Marsh mission has been praised by President Joe Biden. Joe Biden Salutes NASA scientists.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X