• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

यूनेस्को में भारत ने पाकिस्तान को दुनिया के सामने किया बेनकाब

|
    UNESCO: Kashmir मसले पर Pakistan को India का करारा जवाब | वनइंडिया हिन्दी

    पेरिस। जम्मू कश्मीर को लेकर पाकिस्तान के फर्जी प्रोपेगेंडा का भारत ने मुंहतोड़ जवाब दिया है। यूनेस्को जनरल कॉन्फ्रेंस में भारत ने पाकिस्तान के फर्जी दावों की हवा निकालते हुए पाक के डीएनए में आतंकवाद होने की बात कही। यूनेस्को जनरल कॉन्फ्रेंस में भारतीय प्रतिनिधिमंडल की अगुवाई कर रही अनन्या अग्रवाल ने कहा कि नगदी की तंगी झेल रहे पाकिस्तान के डीएनए में ही आतंकवाद है। उन्होने कहा कि पाकिस्तान के विक्षिप्त व्यवहार की वजह से आज पाक की अर्थव्यवस्था काफी कमजोर है, समाज कट्टरपंथी है और इसकी जड़ में आतंकवाद है।

    india

    परमाणु बम की धमकी देते हैं

    अनन्या अग्रवाल ने पाकिस्तान पर तीखा हमला बोलते हुए कहा कि यूनेस्को के मंच का गलत इस्तेमाल करने के चलते हम पाकिस्तान की कड़ी निंदा करते हैं। उन्होंने कहा कि 2018 में नाजुक अवस्था सूचकांक में पाकिस्तान 14 वें पायदान पर था। पाकिस्तान के अपने घर में हर तरफ घोर अंधेरा है, यहां कट्टरपंथी विचारधारा, आतंकवाद को बढ़ावा देने वाली कट्टरपंथी ताकतें पाक की सच्चाई हैं। पाकिस्तान के असली चेहरे को दुनिया के सामने रखते हुए अनन्या अग्रवाल ने कहा कि पाकिस्तान ऐसा देश है जिसके नेता यूएन के मंच पर खुले तौर पर परमाणु युद्ध की धमकी देते हैं और दूसरे देशों के खिलाफ जंग की धमकी देते हैं।

    पाक के नेता लादेन को हीरो बताते हैं

    अनन्या अग्रवाल ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के उस बयान का जिक्र किया जिसमे उन्होंने यूएन जनरल असेंबली में कहा था कि अगर दो परमाणु हथियार संपन्न देश भारत पाक के बीच युद्ध होता है तो इसके परिणाम सीमापार काफी भयानक होंगे। उन्होंने कहा कि क्या आप लोग इस बात का भरोसा करेंगे कि पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति जनरल परवेज मुशर्रफ ने हाल ही में कहा था कि ओसामा बिन लादेन और हक्कानी नेटवर्क पाकिस्तान के हीरो हैं।

    पाक को दिखाया आईना

    पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों की स्थिति को लेकर भी अनन्या अग्रवाल ने पाक को जमकर लताड़ लगाई। उन्होंने कहा कि 1947 में पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों की आबादी 23 फीसदी थी जोकि घटकर सिर्फ 3 फीसदी बची है। पाक में होने वाले जबरन धर्म परिवर्तन, कट्टर ईशनिंदा कानून का शिकार ईसाई, सिख, अहमदिया, हिंदू, शिया, पस्तून, सिंध और बलोच हुए हैं। महिलाओं के खिलाफ लिंगभेद के अपराध जैसे ऑनर किलिंग, एसिड अटैक, जबरन धर्म परिवर्तन, जबरन विवाद, बाल विवाह पाकिस्तान की बड़ी समस्या हैं। अनन्या अग्रवाल ने पाकिस्तान के आरोपों को सिरे से खारिज करते हुए कहा कि पाक का बयान खुद की कमियों को छिपाने का विफल प्रयास है।

    इसे भी पढ़ें- अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी ने दिए 51000 रुपए

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    India gave befitting reply to Pakistan in Unesco General conference.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X