• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

ट्रंप ने तुरंत इस्तीफा नहीं दिया तो उनके खिलाफ लाया जाएगा महाभियोग- स्पीकर पेलोसी

|

Impeachment Against Donald Trump: वाशिंगटन डीसी। अमेरिका की कैपिटल बिल्डिंग में हिंसा के बाद ट्रम्प के लिए व्हाइट हाउस के आखिरी बचे दिन मुश्किल भरे होने जा रहे हैं। हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव्स की स्पीकर नैंसी पेलोसी ने कहा है कि अगर ट्रम्प ने तत्काल पद से इस्तीफा नहीं दिया तो हाउस उनके खिलाफ महाभियोग लाएगा। हाउस में डेमोक्रेट के बहुमत को देखते हुए इसे होना मुश्किल भी नहीं है। अगर ऐसा होता है तो ट्रम्प के खिलाफ एक ही कार्यकाल में ये दूसरी महाभियोग की कार्रवाई होगी।

हाउस डेमोक्रेट कॉकश से पेलोसी ने की चर्चा

हाउस डेमोक्रेट कॉकश से पेलोसी ने की चर्चा

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का कार्यकाल 20 जनवरी को समाप्त हो रहा है और बाइडेन अमेरिका के अगले राष्ट्रपति के रूप में शपथ लेंगे। हालांकि ट्रम्प ने शांतिपूर्ण ढंग से व्यवस्थित ढंग से सत्ता हस्तांतरण की बात कही है लेकिन कैपिटल बिल्डिंग में हिंसा के बाद अब डेमोक्रेट उन्हें ऑफिस में नहीं देखना चाहते हैं और तुरंत उन्हें पद से हटा देना चाहते हैं। इसे लेकर ही स्पीकर नैंसी पेलोसी ने शुक्रवार को हाउस के डेमोक्रेट कॉकश के साथ लंबी चर्चा की और ट्रम्प के खिलाफ महाभियोग की संभावना पर विचार किया।

मीटिंग के बाद पेलोसी ने कहा कि "सभी सदस्य चाहते हैं कि राष्ट्रपति तुरंत इस्तीफा दें। अगर वे ऐसा नहीं करते हैं तो मैने रूल्स कमेटी को 25वें संविधान संशोधन के तहत आगे बढ़ने और महाभियोग प्रस्ताव के लिए तैयार रहने को कहा है।" पेलोसी ने कहा कि "नियमों के अनुसार हाउस के पास सभी अधिकार सुरक्षित हैं। इसमें 25वां संविधान संशोधन, महाभियोग का प्रस्ताव या महाभियोगा का विशेषाधिकार शामिल है।"

    US Capitol Hill Violence के दौरान Donald Trump अपने परिवार के साथ कर रहे थे मस्ती!| वनइंडिया हिंदी
    25वें संशोधन पर जोर

    25वें संशोधन पर जोर

    भारतीय-अमेरिकी सांसद प्रमिला जयपाल ने कहा है कि महाभियोग की कार्रवाई जल्द से जल्द होनी चाहिए। हम अभी इसे शुरू करते हैं। सांसद काईअली काहेल ने कहा

    हमारे पास ऐसा राष्ट्रपति नहीं हो सकता है जो लोगों के बीच हिंसा को उकसाता है। या जो अमेरिकी लोगों की लोकतांत्रिक प्रक्रिया और चुनाव के अधिकार को खत्म करने की कोशिश करता है। समर्थकों की उत्तेजित भीड़ के सामने उनकी टिप्पणी जिसके चलते कैपिटल पर हिंसा भड़की, पूरी तरह अक्षम्य है।"

    खास बात है कि हाउस के अधिकांश सांसद ट्रंप को हटाने के लिए 25वें संशोधन की बात कर रहे हैं। इस संशोधन के तहत विशेष परिस्थितियों में उप राष्ट्रपति और कैबिनेट के पास राष्ट्रपति को हटाने का अधिकार होता है। हालांकि अभी तक उपराष्ट्रपति माइक पेंस ने ट्रंप के खिलाफ ऐसा कोई कदम उठाने का इरादा नहीं जताया है।

    ट्रम्प पर विद्रोह भड़काने का आरोप

    ट्रम्प पर विद्रोह भड़काने का आरोप

    सांसद एडम शिफ ने कैपिटल हिंसा की तुलना देश के खिलाफ विद्रोह से करते हुए कहा "ट्रम्प ने विद्रोह को भड़कार देश और संविधान के खिलाफ अपना सबसे खराब अपराध किया है। जब तक वह अपने पद पर बने रहेंगे अपनी शक्तियों के गलत इस्तेमाल का खतरा कम नहीं होगा बल्कि बढ़ता जाएगा। देश को आगे किसी नुकसान से बचाने के लिए उन्हें तुरंत ऑफिस छोड़ देना चाहिए। सबसे अच्छा तरीका तो ये है कि वह तुरंत इस्तीफा दें दे। अगर ऐसा नहीं होता है तो उपराष्ट्रपति और कैबिनेट 25वें संशोधन के तहत उन्हें राष्ट्रपति पद से हटा दें।

    हाउस मेजॉरिटी नेता स्टेनी हॉयर ने कहा कि ट्रंप को तुरंत ऑफिस से हटना चाहिए। 25वां संशोधन सबसे अच्छा और तेज तरीका है लेकिन ऐसा नहीं होता है तो कांग्रेस को उनके खिलाफ महाभियोग पर विचार करना चाहिए।

    ट्विटर ने फिर की बड़ी कार्रवाई, ट्रंप का ट्विटर अकाउंट सस्पेंड करने के बाद Team Trump का भी हैंडल निलंबित

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    impeach donald trump House will move if he doesn't resign says pelosi
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X