• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

दुनिया का वो गरीब देश जिसने दौलत को ठुकरा प्रकृति को अपनाया

|

क्विटो। दुनियाभर में इस वक्त हर कोई प्रकृति कि दिन प्रतिदिन खराब होती दशा को लेकर चिंतित है। लेकिन विकास और धन के कारण अधिकतर देश इसके हनन से पीछे नहीं हट रहे हैं। हालांकि दुनियाभर में जलवायु परिवर्तन को लेकर कई जगह प्रदर्शन किए जा रहे हैं। लेकिन बावजूद इसके प्रकृति की भलाई के लिए ना के बराबर काम हो रहा है।

ecuador

वहीं दुनिया में एक देश ऐसा भी है जो चाहे तो अमीर बन सकता है, लेकिन इसके लिए उसे प्रकृति से दूर होना पड़ेगा। ऐसे में इस देश ने दौलत को ठुकरा प्रकृति को अपनाया है। हम बात कर रहे हैं, लातिन अमेरिका के दूसरे सबसे गरीब देश इक्वाडोर की। इस देश में तेल के कई भंडार हैं, लेकिन फिर भी इस देश ने तेल का लालच छोड़ प्रकृति को चुना है।

हराभरा जंगल और साफ पानी

हराभरा जंगल और साफ पानी

इस देश ने अरब देशों की तरह पैसे कमाने की बजाय पर्यावरण को जरूरी समझा है। यही वजह है कि यहां आपको हराभरा जंगल और साफ पानी मिल जाएगा। यहां के मूल निवासी नेपो और किचवा हैं। हालांकि यहां हाल के दशकों से तेल निकालने का काम किया जा रहा है, जिससे यहां के लोग काफी डरे हुए हैं। इन्हें ऐसा लगता है कि अगर तेल निकालने का काम जारी रहा, तो इनकी जान को खतरा हो सकता है।

85 करोड़ बैरल तेल छिपा हुआ है

85 करोड़ बैरल तेल छिपा हुआ है

अमेजन नदी के दूसरी ओर यहां यासुनी के काफी करीब तेल निकालने का काम शुरू हो गया है। लेकिन इक्वाडोर सरकार चाहती है कि ये देश ऐसा ही रहे। खासतौर पर यहां के लोग अपने पर्यावरण को बचाना चाहते हैं। ऐसा माना जाता है कि इन हरीभरी झाड़ियों और घने जंगलों के नीचे करीब 85 करोड़ बैरल तेल छिपा हुआ है। लेकिन उसकी बजाय यहां चिड़ियों की चहचहाट को बनाए रखने का फैसला लिया गया है।

तेल एक दिन खत्म हो जाएगा

तेल एक दिन खत्म हो जाएगा

यहां के यासुनी पार्क को यूनेस्को ने साल 1979 में विश्व जैव विविधता वाला क्षेत्र घोषित किया था। यहां के लोगों का मानना है कि तेल एक दिन खत्म हो जाएगा और हम महज तेल के दम पर अर्थव्यस्था को नहीं बनाना चाहते। ये देश सीमित तरीके अपने संसाधनों का प्रयोग करना चाहता है। जैव विविधता और जंगल को बचाए जाने के देश के फैसले की दुनिया के बाकी देश सराहना कर रहे हैं। यहां लोगों का कहना है कि वह शांत लहरों के बीच संगीत की लहरों पर थिरकते रहना चाहते हैं।

अनिल कपूर ने शेयर किया फैन का 30 साल पुराना खत, इस अभिनेत्री ने उड़ाया हैंडराइटिंग का मजाकअनिल कपूर ने शेयर किया फैन का 30 साल पुराना खत, इस अभिनेत्री ने उड़ाया हैंडराइटिंग का मजाक

English summary
latin american country ecuador chooses environment instead huge money by oil.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X