मारी गई दुनिया की मोस्ट वॉन्टेड ISIS महिला आतंकी, खुद थी आतंक का दूसरा नाम

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

दमास्कस। दुनिया की मोस्ट वॉन्टेड महिला आतंकी की लिस्ट में शुमार ब्रिटेन की सैली जोन्स यानी व्हाइट विडो एक हवाई हमले में मारी गई है। अंग्रेजी मीडिया के मुताबिक सैली सीरिया और इराक बॉर्डर के पास जून में मारी गई थी। अमेरिकी खुफिया एजेंसी सीआईए ने यूके की खुफिया एजेंसियों को बताया कि सैली की मौत जून में एक हवाई हमले से हुई थी जिसे अमेरिका ने अंजाम दिया था।

White Widow Sally Jones

कहा जा रहा है कि सैली को आखिरी बार रक्का में देखा गया था जब वो मायदिन शहर के लिए निकल रही थी। सैली की मौत की खबर सच है या नहीं, इसकी जांच चल रही है। सैली जोन्स का जन्म साउथ-इस्ट लंदन के ग्रीनविट में हुआ था। वो एक रॉक सिंगर थी। सैली की जिंदगी तब बदल गई जब वो जुनैद हुसान नाम के शख्स से मिली जो पेशे से कंप्यूटर हैकर था और आईएसआईएस के लिए काम करता था। सैली ने क्रिश्चन धर्म छोड़कर इस्लाम अपना लिया था और 2013 में वो अपने पति के पास सीरिया चली गई।

सैली की गतिविधियां आईएसआईएस में धीरे-धीरे बढ़ने लगी। अगस्त 2015 में उसके पति कि मौत के बाद ब्रिटिश मीडिया ने उसे 'द व्हाइट विडो' का टाइटल दिया था। इसके बाद ये कुख्यात अपराधी इसी नाम से जानी जाने लगी। सैली खुद आतंक का दूसरा नाम थी। उसके बारे में कहा जाता था कि वो राह चलते लोगों के सिर कलम कर देती थी। सैली और उसका पति यूरोप से लोगों को आईएसआईएस में भर्ती करते थे। सैली ट्विटर के जरिये लोगों से कॉन्टैक्ट करती थीं और उन्हें यूके में बम धमाकों के लिए उकसाती थी। कई रिपोर्ट्स के मुताबिक वो अनवर-अल-अवालिकी महिला बटालियन की कमांडर भी थी।

ये भी पढ़ें: ओवरटाइम करने से महिला रिपोर्टर की मौत, महीने में 159 घंटे किया था ज्यादा काम

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
British ISIS terrorist Sally Jones who was famous as White Widow is killed in an air strike with her 12 year-old son.
Please Wait while comments are loading...

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.