• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

धोखा देकर ब्वॉयफ्रेंड के साथ तिहाड़ जेल में चार दिन तक घंटों बिताए, फिर इस तरह खुली पोल

|

नई दिल्ली- राजधानी की अतिसुरक्षित मानी जाने वाली तिहाड़ जेल के अधिकारियों को एक महिला ने चार दिनों तक घंटों चकमा दिया, लेकिन किसी को भनक तक नहीं लगी। वह महिला एक एनजीओ वर्कर बनकर तिहाड़ जेल पहुंचती थी, इसलिए जेल अधिकारी उससे बिना कोई पूछताछ किए उसे कैदी के पास जाने की इजाजत दे देते थे। बाद में खुलासा हुआ कि वह कोई एनजीओ वर्कर नहीं है, बल्कि अपने ब्वॉयफ्रेंड के साथ वक्त गुजारने के लिए जेल आती थी।

हत्या का आरोपी है ब्वॉयफ्रेंड

हत्या का आरोपी है ब्वॉयफ्रेंड

टाइम्स ऑफ इंडिया की एक रिपोर्ट के मुताबिक दिल्ली के तिहाड़ में बंद जिस कैदी से मिलने उसकी गर्लफ्रेंड आती थी, वह हत्या के एक केस में बंद है। उसने एक मैट्रिमोनियल वेबसाइट के जरिए खुद को तिहाड़ जेल का कर्मचारी बताकर उस महिला से दोस्ती की थी। वह पिछले कई महीनों से उसके समर्क में था और जुलाई में जब उसे 26 दिन की पैरोल मिली थी, तब उन दोनों की मुलाकात हुई थी। सूत्रों के मुताबिक जेल नंबर दो में कैद हेमंत नाम के उस कैदी ने अपने गर्लफ्रेंड से शादी का वादा भी किया है। उसने जेल कैंपस में मौजूद इंडियन बैंक में एक एकाउंट भी खोल रखा है, जिसमें उस महिला को नॉमिनी बनाया है।

5 घंटे तक ब्वॉयफ्रेंड के साथ जेल में रही

5 घंटे तक ब्वॉयफ्रेंड के साथ जेल में रही

तहकीकात में ये बात सामने आ रही है कि वह महिला कुल चार दिन तक बिना किसी रुकावट के जेल के अंदर दाखिल होती रही और उसने अपने ब्वॉयफ्रेंड के साथ करीब 5 घंटे का वक्त आराम से गुजारा। महिला को पहली शादी से एक बेटी भी है। जब आरोपी हेमंत पैरोल खत्म होने के बाद वापस जेल लौट गया तो महिला ने तिहाड़ के अधिकारियों से एनजीओ सदस्य बनकर मुलाकात की और आरोपी हेमंत से मिलने की इजाजत मांगी। जेल अधिकारियों ने बिना महिला की पहचान की छानबीन किए उसे आरोपी से मुलाकात की इजाजत दे दी। दोनों ने जेल अधीक्षक के दफ्तर में ही एक साथ घंटों बिताए। बताया जा रहा है कि जेल में घुसने के दौरान उसने एनजीओ की ओर से कैदियों के बीच कपड़े बांटने की भी बात कही थी। एक बार तो वह अपने साथ एक बच्चे को भी लेकर आई थी।

कैसे हुआ इतने बड़े फर्जीवाड़े का खुलासा

कैसे हुआ इतने बड़े फर्जीवाड़े का खुलासा

तिहाड़ के भीतर जारी इश्किया का किसी को पता भी नहीं लगता अगर जेल अधिकारियों ने एक दिन महिला के नाम का जिक्र संबंधित एनजीओ के अधिकारियों से नहीं किया होता। इस घटना के खुलासे के बाद तिहाड़ के प्रवक्ता एआईजी राज कुमार ने कहा है कि शिकायत दर्ज करके जांच के आदेश दे दिए गए हैं। जेल अधीक्षक और दूसरे स्टाफ से भी पूछताछ की जा रही है। पुलिस की ओर से उस महिला की भी पूरी तहकीकात हो सकती है।

इसे भी पढ़ें- घाटी में तनाव का असर लालू की डाइट पर, जेल में नहीं मिल पा रहा पसंदीदा कश्मीरी सेबइसे भी पढ़ें- घाटी में तनाव का असर लालू की डाइट पर, जेल में नहीं मिल पा रहा पसंदीदा कश्मीरी सेब

English summary
Woman enters Tihar with fake credentials to meet boyfriend
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X