• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

दुनिया के कुख्यात ड्रग माफिया 'अल चापो' गुजमैन की बेटी बनी कोरोना वॉरियर

|

नई दिल्ली- मेक्सिको का सबसे कुख्यात ड्रग माफिया अल चापो की बेटी अल्जानड्रिना गुजमैन ने कोरोना वायरस के खिलाफ जारी जंग में मदद का हाथ बढ़ाया है। मेक्सिको में कोविड-19 के मामले बहुत तेजी से बढ़ते जा रहे हैं, ऐसे में अल चापो की बेटी ने अपने पिता की कंपनी को इसके खिलाफ जंग में उतार दिया है। वह खुद उम्रकैद की सजा काट रहा है, लेकिन उसकी कंपनी के जरिए उसकी बेटी जो राहत बांट रही है, उसमें उसकी तस्वीरें लगाई गई हैं और उसका जमकर प्रचार किया जा रहा है।

कोरोना वैक्सीन: ऑक्सफोर्ड ही नहीं, ये 6 वैक्सीन भी पहुंच चुकी हैं थर्ड फेज के ट्रायल में

ड्रग माफिया की बेटी की दरियादिली

ड्रग माफिया की बेटी की दरियादिली

मेक्सिको के कुख्यात माफिया डॉन अल चापो की बेटी अल्जानड्रिना गुजमैन कोरोना वायरस के खिलाफ संघर्ष में अपनी कंपनी 'अल चापो 701' का इस्तेमाल कर रही है। इसके जरिए वह खाने-पीने की चीजें, मास्क, हाथ धोने का साबुन और जरूरी सामानों के बॉक्स बनाकर जरूरतमंदों तक पहुंचा रही है। अपनी ओर से इस सहायता को उसने 'चापो प्रॉविजन्स' का नाम दिया है, जिसके डिब्बों पर उसने अपने पिता अल चापो की तस्वीरें छपवा रखी है। यही नहीं वो जो मास्क बंटवा रही है उसमें भी अल चापो की तस्वीर छापी गई है। वैसे आमतौर पर ये कंपनी कानूनी तौर पर कपड़े और शराब बेचने का काम करती है। इस वक्त अल चापो गुजमैन के फेसबुक पेज पर इससे संबंधित प्रोडक्शन और उसके वितरण की जानकारी और अपडेट लगातार बताई जा रही है। इस फेसबुक पेज पर मैसेज लिखा गया है, 'हम काम कर रहे हैं और योगदान दे रहे हैं। हमें आपके घर आकर ये चाफो हैंडआउट्स देने में खुशी महसूस होगी।'

फोर्ब्स पत्रिका की अमीरों की लिस्ट में शामिल हो चुका है डॉन

फोर्ब्स पत्रिका की अमीरों की लिस्ट में शामिल हो चुका है डॉन

'अल चापो 701' कंपनी के नाम की ब्रैंडिंग के पीछे भी एक दिलचस्प कहानी है। दरअसल, 2009 में फोर्ब्स पत्रिका ने अल चापो को अपनी रैंकिंग में दुनिया का 701वां अमीर इंसान बताया था। तब उसकी कुल संपत्ति 100 करोड़ डॉलर बताई गई थी। मैक्सिको के तमाम ड्रग माफिया अपने स्वभाव से खूंखार माने जाते रहे हैं। लेकिन, जब वहां के ड्रग माफियाओं के खिलाफ आपराधिक मामलों की भरमार होने लगी तो उन्होंने सोशल मीडिया के जरिए अपनी छवि चमकानी शुरू कर दी। मेक्सिको के ड्रग माफियाओं के सरगना अल चापो की बेटी की नई कवायद भी उसी छवि सुधारने की एक कोशिश की तरह लगती है, जिसमें उसके पिता के गैंग के सदस्य लोगों तक राहत पहुंचाने में लगे पड़े हैं। इसके पीछे एक वजह ये भी है कि यह ड्रग माफिया गरीबों के बीच से ही उठे हैं, इसलिए वह उन्हीं के बीच में रहकर अपना ऑपरेशन भी चलाते रहे हैं। इस वक्त खुद अल चापो गुजमैन तो कोलोरैडो के सुपरमैक्स जेल में उम्रकैद की सजा काट रहा है।

मेक्सिको में तेजी से बढ़ रहे हैं कोरोना मरीज

मेक्सिको में तेजी से बढ़ रहे हैं कोरोना मरीज

जहां तक कोरोना वायरस संक्रमण का सवाल है, मेक्सिको में 6,300 से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं और 486 लोगों की मौत भी हो चुकी है। जबकि, इस महीने की शुरुआत में वहां कोरोना वायरस के सिर्फ 1,200 मामले ही सामने आए थे। बता दें कि मेक्सिको से सटे अमेरिका में इस वक्त हालात बेहद नाजुक है, जहां कुल पौने सात लाख से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं और 34 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। जबकि, पूरी दुनिया में केसों का संख्या 22 लाख से ज्यादा हो चुकी है और मौतों का आकड़ा एक लाख अड़तालीस हजार को भी पार कर चुका है।

इसे भी पढ़ें- remdesivir नाम की दवा खाकर बहुत जल्दी ठीक हो रहे हैं Coronavirus के मरीज-रिपोर्ट

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
The daughter of the world's notorious drug mafia 'Al Chapo' Gujman's becomes coronavirus Warrier
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X