• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

आंध्र में अब बैनर से ब्लॉक की गई पूर्व राष्ट्रपति कलाम की मूर्ति, कल टूटी थी डा.अंबेडर की प्रतिमा

|

नई दिल्ली। आंध्र प्रदेश में डा.अम्बेडकर की मूर्ति क्षतिग्रस्त करने की घटना को अभी 24 घंटे भी नहीं बीता था कि अब एक नए मामले ने प्रदेश की वाईएसआर कांग्रेस पार्टी सरकार को विवादों में ला खड़ा किया है। ताजा विवाद वाईएसआर कांग्रेस नेता के बैनर को पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम की प्रतिमा के सामने लगाने से उपजा है, जिससे कलाम साहब की मूर्ति ब्लॉक हो गई है। मुख्य विपक्षी दल टीडीपी ने इसे पूर्व राष्ट्रपति के अपमान से जोड़ते हुए आंध्र सरकार को निशाना बनाया है।

YSR

लद्दाख गतिरोध: चीन ने 7वें दौर के कमांडर-स्तरीय वार्ता को सकारात्मक और रचनात्मक बताया

गत मंगलवार को अनंतपुर के धर्मवारम में स्थापित दिवंगत पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम की प्रतिमा के सामने वाईएसआरसीपी के नेता और धर्मवरम विधायक केथिरेड्डी वेंकटरामी रेड्डी का जन्मदिन मनाने के लिए बैनर लगा दिया था। टीडीपी ने इस कदम को पूर्व राष्ट्रपति की प्रतिमा का अनादर जोड़ते हुए इसकी तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की है।

YSR

आंध्र CM जगनमोहन रेड़्डी पर निशाना साधते हुए टीडीपी नेता और पूर्व मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू के बेटे नारा लोकेश ने एक ट्वीट में कहा, धर्मवरम में वाईएसआरसीपी नेता का बैनर पूर्व राष्ट्रपति डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम की प्रतिमा के आगे देखकर हैरत होती है। उन्होंने कहा कि पूर्व राष्ट्रपति की प्रतिमा ब्लॉक करके वाईएसआर कांग्रेस ने उनका अपमान किया है।

WHO ने आरोग्य सेतु ऐप की सराहना, कहा, 'कोरोना समूहों की पहचान में ऐप ने बड़ी मदद की'

उन्होंने आगे कहा, राज्य की जनता को अब वाईएसआर की प्रतिमाओं को स्वीकार करना चाहिए, क्योकि देश में योगदान करने वाले महान लोगों की कोई भी प्रतिमा अब आंध्र प्रदेश में मूल्यवान या सम्मानित नहीं रह गया है। इससे पहले आंध्र में बीआर अंबेडकर की प्रतिमा पर हमलाकर क्षतिग्रस्त कर दिया गया था।

YSR

उक्त घटना प्रदेश के पूर्वी गोदावरी जिले के कटरेनिप्पु गांव में हुआ था, जहां डॉ बाबासाहेब भीमराव अम्बेडकर की एक मूर्ति को अज्ञात उपद्रवियों द्वारा तोड़ जाने के बाद विवाद ने तूल पकड़ लिया था। प्रदेश में हाल के दिनों में ऐसी कई घटनाएं सामने आई हैं जब भारतीय संविधान के जनक की मूर्तियों को देश के कई हिस्सों में क्षतिग्रस्त करने का मामला सामने आ चुका है।

आंध्र प्रदेशः SC ने प्राइमरी स्कूलों में अंग्रेजी माध्यम को खत्म करने के आदेश के खिलाफ याचिका को स्थगित किया

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
It was not even 24 hours after the incident of the destruction of the statue of Dr. Ambedkar in Andhra Pradesh that a new case has brought the YSR Congress Party government of the state into controversy. The latest controversy stems from the YSR Congress leader's banner being placed in front of the statue of former President APJ Abdul Kalam, which has blocked the statue of Kalam Saheb. The TDP, the main opposition party in Andhra Pradesh, has targeted the Andhra government, linking it with the insult of the former president.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X