• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

प्रवासी मजदूरों के घर वापसी पर सोनू सूद बोले- 'गांव वाले गांव चले जाएंगे तो शहर वाले शहर कैसे बनाएंगे'

|

मुंबई, 20 अप्रैल: देश की राजधानी दिल्ली सहित कई बड़े शहरों में लॉकडाउन लगने की वजह से प्रवासी मजदूरों का पलायन जारी है। कई शहरों के बस स्टैंड और रेलवे स्टेशनों पर प्रवासी मजदूरों की भीड़ लगी है। सैकड़ों की संख्या में लोग बस अड्डे और रेलवे स्टेशनों पर जमा हो रहे हैं। ठीक वही नजारा देखने को मिल रहा है, जब पिछले कोरोना की पहली लहर में लॉकडाउन के दौरान दिखा था। इन सब हालातों को देखते हुए बॉलीवुड अभिनेता सोनू सूद ने ट्वीट किया है। सोनू सूद ने पिछले साल लॉकडाउन के दौरान लाखों प्रवासी मजदूरों अपने खर्च पर घर पहुंचाया था और कोरोना मरीजों की हर सम्भव मदद की थी। वो इस साल भी कोरोना मरीजों और जरूरतमंदों की मदद करने में लगे हुए हैं। सोनू सूद के ताजा ट्वीट से वो दर्द साफ झलक रहा है। सोनू सूद ने लिखा है, ''गांव वाले गांव चले जाएंगे तो शहर वाले शहर कैसे बनाएंगे।''

    प्रवासी मजदूरों के घर वापसी पर सोनू सूद बोले- गांव वाले गांव चले जाएंगे तो शहर वाले शहर कैसे बनाएंगे

    Sonu Sood

    अभिनेता सोनू सूद फिलहाल खुद कोरोना संक्रमित हैं और आइसोलेशन में हैं। शनिवार (17 अप्रैल) को सोनू ने कहा था कि वो कोविड-19 पॉजिटिव पाए गए हैं। कोरोना वैक्सीन लेने के 10 दिन सोनू सूद संक्रमित हुए थे। सोनू सूद को पंजाब ने हाल ही में कोरोना वायरस टीकाकरण कार्यक्रम के लिए ब्रांड एंबेसडर बनाया था।

    सोनू सूद फिलहाल होम क्वारंटीन में है। इसके बाद भी सोनू सूद लोगों की मदद कर रहे हैं। सोनू सूद के ट्विटर हैंडल से आपको ये पता चल जाएगा। सोनू सूद खुद कोरोना से जंग लड़ते हुए लोगों की मदद में लगे हैं। सोनू सूद सोशल मीडिया के जरिए लोगों हॉस्पिटल में बेड्स, ऑक्सीज दिलवाने की कोशिश कर रहे हैं।

    हाल ही में सोनू सूद ने नाकाम स्वास्थ्य व्यवस्था को लेकर भी अपनी प्रतिक्रिया दी है। सोनू सूद ने अपने एक ट्वीट में लिखा था, ''570 बेड की जरूरत है लेकिन सिर्फ 112 ही इंतजाम हो पाए हैं, 1477 रेमेडिसविर की जरूरत थी लेकिन 18 ही मिले हैं, हम नामाक हो गए हैं और हमारी स्वास्थ्य सिस्टम भी।''

    ये भी पढ़ें- Delhi Lockdown:राजीव चौक, नई दिल्ली समेत कई मेट्रो स्टेशन पर एंट्री बंद, प्रवासी मजदूरों का पलायन जारीये भी पढ़ें- Delhi Lockdown:राजीव चौक, नई दिल्ली समेत कई मेट्रो स्टेशन पर एंट्री बंद, प्रवासी मजदूरों का पलायन जारी

    English summary
    Sonu Sood on migrant workers move during lockdown says If villagers go to villages, then how will towns make cities
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X