• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

'हनुमान को दलित' बताकर घिरे सीएम योगी, तेजस्वी ने पूछा- BJP शासित 19 राज्यों के मुख्यमंत्रियों की जाति क्या है?

|

नई दिल्ली। राजस्थान विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जिस तरह से हनुमान को दलित बताया, उसको लेकर हंगामा बढ़ता जा रहा है। जहां उनकी इस टिप्पणी पर कई हिंदू सगठनों ने योगी आदित्यनाथ के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। दूसरी ओर राजस्थान के सर्व ब्राह्मण समाज ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के खिलाफ नोटिस भेज दिया है। इस नोटिस में योगी आदित्यनाथ से माफी मांगने को कहा गया है। इस सबके बीच योगी आदित्यनाथ के बयान पर सियासत भी गरमाने लगी है। पूरे मामले पर राष्ट्रीय जनता दल के नेता और बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने योगी आदित्यनाथ पर तंज कसा है।

इसे भी पढ़ें:- Madhya Pradesh Elections: वोटिंग के बाद कमलनाथ ने दिखाया हाथ का 'पंजा'

तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर साधा निशाना

आरजेडी अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के बेटे और पार्टी के नेता तेजस्वी यादव ने ट्वीट करते यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ को घेरा है। तेजस्वी यादव ने कहा, "हनुमान जी की जाति बताने वाले UP सीएम अजय सिंह बिष्ट से पूछना चाहिए कि BJP शासित 19 राज्यों के मुख्यमंत्रियों की जाति क्या है? क्या कोई दलित BJP का मुख्यमंत्री है? अगर कोई दलित बीजेपी से CM नहीं है तो इसका मतलब योगीनुसार बीजेपी बजरंग बली हनुमान जी का भी सम्मान नहीं करती। शर्मनाक!"

आखिर योगी आदित्यनाथ ने क्या कहा था...

आखिर योगी आदित्यनाथ ने क्या कहा था...

बता दें कि राजस्थान के अलवर जिले के मालाखेड़ा में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए योगी आदित्यनाथ ने कहा था, "भगवान हनुमान एक ऐसे लोक देवता हैं जो अब स्वयं वनवासी हैं, गिरवासी हैं, दलित हैं, वचिंत हैं। पूरे भारतीय समाज को उत्तर से लेकर दक्षिण तक और पूरब से लेकर पश्चिम तक सबको जोड़ने का काम बजरंगबली करते हैं। इसलिए बजरंग बली का संकल्प होना चाहिए।"

बयान पर गरमाई सियासत

बयान पर गरमाई सियासत

इतना ही नहीं उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री चुनाव प्रचार के दौरान कहा कि राम के जो भक्त हैं वो भारतीय जनता पार्टी को वोट दें। जो रावण के भक्त हैं वो ही कांग्रेस को वोट देते हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि राम राज्य चाहिए तो बीजेपी को ही वोट दें। योगी आदित्यनाथ के बयान पर राजस्थान के सर्व ब्राह्मण समाज का कहना है कि बजरंग बली न तो दलित थे, ना वंचित और ना ही लोकदेवता। लिहाजा योगी आदित्यनाथ को अपने बयान पर माफी मांगनी चाहिए।

चुनाव प्रचार के लिए करीब 20 दिन यूपी से बाहर रहे योगी आदित्यनाथ

चुनाव प्रचार के लिए करीब 20 दिन यूपी से बाहर रहे योगी आदित्यनाथ

योगी आदित्यनाथ के बयान पर कांग्रेस के दिग्गज नेता प्रमोद तिवारी ने भी आपत्ति जताई है। उन्होंने कहा कि भाजपा अभी तक इंसान को बांटने का काम कर रही थी, लेकिन अब यह भगवान को भी जाति में बांट रहे हैं। बता दें कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव के मद्देनजर चुनाव प्रचार में जुटे हुए हैं। सीएम योगी करीब 20 दिन उत्तर प्रदेश से बाहर रहे हैं। इस दौरान सीएम योगी ने मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में ताबड़तोड़ रैलियों को संबोधित किया। बीजेपी नेताओं के मुताबिक मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बाद दूसरे नंबर के स्टार प्रचारक योगी आदित्यनाथ ही रहे हैं।

इसे भी पढ़ें:- NDA में कुशवाहा की नाराजगी ने बढ़ाई रामविलास पासवान की 'टेंशन', ये है वजह

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
RJD Leader Tejashwi yadav targets UP CM Yogi Adityanath on his statement on hanuman.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X