• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

पीएम मोदी-अमित शाह गुरुवार से शुरू करेंगे ताबड़तोड़ रैलियों का सिलसिला

|

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लोकसभा चुनाव के लिए प्रचार की शुरुआत गुरुवार से करेंगे। प्रधानमंत्री मोदी और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ताबड़तोड़ रैलियों की शुरुआत करेंगे. दोनों ही नेता 125 और 150 रैलियों को संबोधित करेंगे। पीएम मोदी और शाह मार्च माह के आखिरी हफ्ते से इन रैलियों की शुरुआत करेंगे और मई के दूसरे हफ्ते तक रैलियों को संबोधित करेंगे। बता दें कि पहले चरण का मतदान 11 अप्रैल को होगा, जबकि सातवें और आखिरी चरण का मतदान 19 मई को संपन्न होगा।

200 जगहों पर एक साथ अभियान

200 जगहों पर एक साथ अभियान

पीएम मोदी और अमित शाह की रैलियों का कार्यक्रम तय हो चुका है। भाजपा ने चुनाव प्रचार के लिए राष्ट्रीय अभियान की शुरुआत विजय संकल्प सभा के साथ की थी, जिसमे 200 जगहों पर एक साथ देशभर में इस अभियान की शुरुआत हुई थी। हालांकि पीएम मोदी इसका हिस्सा नहीं थे। इस तरह के कई कार्यक्रम 26 मार्च को 250 जगहों पर किए जाएंगे। पार्टी के एक नेता ने बताया कि पीएम मोदी 28 मार्च से मेरठ में चुनाव प्रचार की शुरुआत करेंगे। इसके बाद वह जम्मू में एक और रैली को संबोधित करेंगे।

इसे भी पढ़ें- गिरिराज के बयान पर कन्हैया ने ली चुटकी, 'मंत्री जी ने तो 'बेगूसराय को वणक्कम' कह दिया'

ओडिशा और बंगाल में रैलियां

ओडिशा और बंगाल में रैलियां

29 मार्च से 1 अप्रैल तक पीएम मोदी ओडिशा में होंगे। इसके साथ ही वह असम और पश्चिम बंगाल में भी 30 मार्च से 3 अप्रैल के बीच रैलियों को संबोधित करेंगे। वह असम में दो और पश्चिम बंगाल में दो रैलियों को संबोधित करेंगे। पीएम 31 मार्च को ईंटानगर में भी जनसभा को संबोधित करेंगे, इस दौरान वह वीडियो कॉफ्रेंसिंग के जरिए मैं भी चौकीदार अभियान की शुरुआत करेंगे।

2014 में 425 रैलियां

2014 में 425 रैलियां

पार्टी के एक नेता ने बताया कि हम इस तरह से कार्यक्रम बना रहे हैं कि पीएम मोदी हर चरण में उन राज्यों में पहुंच सके जहां पर चुनाव होना है। बता दें कि लोकसभा चुनाव सात चरणों में संपन्न होंगे। पहले चरण का मतदान 11 अप्रैल को होगा, जबकि 19 मई को सातवे और आखिरी चरण का मतदान होगा। पीएम मोदी भाजपा के सबसे लोकप्रिय प्रचारक हैं, 2014 में चुनाव प्रचार उन्ही के इर्द-गिर्द रहा था। नरेंद्र मोदी को जब पीएम पद का उम्मीदवार घोषित किया गया था तो उसके बाद उन्होंने कुल 425 रैलियों को संबोधित किया था।

20 चरणो में रैलियां

20 चरणो में रैलियां

पिछले 90 दिनों में पीएम मोदी 100 रैलियों को संबोधित कर चुके हैं। पार्टी ने चुनाव प्रचार अभियान को कुल अलग-अलग हिस्सों में बांटा है। हर रैली के जरिए तीन से चार संसदीय सीट को शामिल करने की योजना है। उत्तर प्रदेश में इस तरह के कुल 20 चरण तैयार किए गए हैं, जिसमे पीएम मोदी रैलियों को संबोधित करेंगे। वहीं बिहार, पश्चिम बंगाल में भी मोदी 10 रैलियो को संबोधित करेंगे। इन दोनों ही राज्यों में सातों चरण में मतदान होगा।

आसान नहीं है राह

आसान नहीं है राह

भाजपा नेता ने बताया कि इस बार हमारे चुनाव प्रचार का केंद्र उत्तर प्रदेश, बिहार, पश्चिम बंगाल रहेगा। यूपी से सर्वाधिक सांसद संसद जाते हैं, जबकि पश्चिम बंगाल से 42 सांसद, बिहार से 40 सांसद, महाराष्ट्र से 48 सांसद संसद जाते हैं। यूपी, बंगाल, बिहार में कुल 162 सीटें हैं, जिसमे से 106 सीटों पर भाजपा ने पिछले चुनाव में जीत दर्ज की थी। यूपी में सपा-बसपा-आरएलडी के गठबंधन की वजह से भाजपा की राह मुश्किल है। वहीं बिहार में भाजपा को पांच दलों के गठबंधन के खिलाफ लड़ना है।

यूपी-बिहार, बंगाल-ओडिशा पर नजर

यूपी-बिहार, बंगाल-ओडिशा पर नजर

भाजपा नेता ने बताया कि यूपी-बिहार की कुल 120 सीटों में से हमने कुल 104 सीटों पर जीत हासिल की थी। ऐसे में एक बार फिर से मोदी शाह की रैलियों के बाद हम यूपी-बिहार में बेहतर प्रदर्शन करेंगे। पिछले चुनाव में भाजपा ने पश्चिम बंगाल में सिर्फ दो सीटों पर जीत दर्ज की थी, जबकि ओडिशा में सिर्फ एक सीट पर ही जीत मिली थी, ऐसे में देखने वाली बात है कि इन दोनों ही राज्यों में पार्टी कितनी सीटों पर जीत हासिल करती है।

इसे भी पढ़ें- कौन हैं 28 साल के तेजस्वी सूर्या, जिन्हें भाजपा के दिग्गज नेता अनंत कुमार की सीट से दिया गया टिकट

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Pm Modi and Amit Shah to start their poll campaign from thursday.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X