• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

प्लाज्मा थेरेपी कोरोना मरीजों के इलाज में कारगर नहीं, क्लीनिकल मैनेजमेंट गाइडलाइंस हटाए जाने पर विचार

|

नई दिल्ली, 16 मई: कोरोना वायरस की दूसरी लहर का प्रकोप में भारत में जारी है। इस दौरान कोरोना की पहली लहर में बहुत हद तक इलाज में मददगार प्लाज्मा थेरेपी दूसरी लहर में ज्यादा प्रभावी नहीं है। कोरोना मरीजों की गंभीरता या मौत की संभावना को कम करने में प्लाज्मा थेरेपी ज्यादा कारगर नहीं पाया जा रहा है। ऐसे में प्लाज्मा थेरेपी को कोविड-19 के क्लीनिकल मैनेजमेंट गाइडलाइंस से हटाए जाने की संभावना जताई जा रही है। भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) की बैठक में ज्यादातर लोग इस बात के समर्थन में थे कि कोविड-19 मरीजों के इलाजों से संबंधित क्लीनिकल मैनेजमेंट गाइडलाइंस से प्लाज्मा थेरेपी को हटा दिया जाना चाहिए।

Plasma Therapy

सूत्रों के मुताबिक बैठक में हिस्सा लेने वाले आईसीएमआर के सदस्यों का कहना है कि कोविड-19 के वयस्क मरीजों के इलाज में प्लाज्मा थेरेपी प्रभावी नहीं दिख रहा है। कई मामलों में इसका अनुचित रूप से इस्तेमाल भी किया जा रहा है। हालांकि आईसीएमआर की ओर से इसको हटाने को लेकर फिलहाल कोई गाइडलाइन जारी नहीं की गई है। लेकिन रिपोर्टों में कगा गया है कि आईसीएमआर जल्द ही मामले में सलाह जारी करने वाली है। कोविड-19 टास्क फोर्स ने शुक्रवार (14 मई) को कोरोना वायरस से संक्रमित रोगियों के लिए दिए जाने वाले प्लाज्मा थेरेपी की समीक्षा करने के लिए बैठक की।

वर्तमान में कोविड-19 क्लीनिकल मैनेजमेंट गाइडलाइंस के मुताबिक कोरोना के लक्षणों की शुरुआत होने के हफ्ते भर (7 दिन) के भीतर प्लाज्मा दिया जा सकता है।

ये भी पढ़ें- कोरोना से ठीक होने के बाद फंगल इंफेक्शन 'म्यूकोरमाइकोसिस' का खतरा बढ़ा, जानिए लक्षणये भी पढ़ें- कोरोना से ठीक होने के बाद फंगल इंफेक्शन 'म्यूकोरमाइकोसिस' का खतरा बढ़ा, जानिए लक्षण

प्लाज्मा थेरेपी आईसीएमआर के क्लीनिकल मैनेजमेंट प्रोटोकॉल का हिस्सा है। 17 नवंबर, 2020 को आईसीएमआर ने प्लाज्मा थेरेपी को लेकर कहा था, प्लाज्मा थेरेपी वायरल संक्रमण के इलाज में पहले भी इस्तेमाल किया गया है। ये थेरेपी स्वाइन फ्लू, इबोला और सार्स (सीवियर एक्यूट रेस्पिरेटरी सिंड्रोम) के इलाज के दौरान अतीत में भी मरीजों को दिया गया है। हालांकि शरीर में इसका उपयोग ज्यादा नहीं करना होता है।

English summary
Plasma Therapy Not Effective ICMR Likely to Be Dropped Clinical Management Guidelines on Covid-19
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X