• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

पायटल बनते ही युवक ने पूरा किया वादा, अपने गांव के बुजुर्गों को कराई फ्री में हवाई सैर

|

नई दिल्ली। हरियाणा में हिसार जिला के सारंगपुर गांव के एक युवक ने बचपन में सपना देखा था कि जब वह पायलट बना जाएगा तो गांव के लोगों को फ्री में हवाई जहाज की सैर कराएगा। जब उसका यह सपना पूरा हुआ तो उसने अपने गांव के 70 साल से अधिक के 22 लोगों को दिल्ली से अमृतसर की हवाई जहाज की सैर करवाई। इन बुजुर्गों ने तीन अक्तूबर को दिल्ली से हवाई जहाज में उड़ान भरी और अमृतसर पहुंचे। वहां वह स्वर्ण मंदिर, जलियांवाला बाग व बाघा बार्डर घूमे और फिर पांच अक्तूबर को वापस लौटे।

बुजुर्ग महिलाओं और पुरुषों अपने खर्चे पर हवाई यात्रा करायी

बुजुर्ग महिलाओं और पुरुषों अपने खर्चे पर हवाई यात्रा करायी

हिसार जिले के गांव सारंगपुर के विकास ज्याणी इंडिगो एयरलाइंस में पायलट हैं। विकास के गावं के बुजुर्ग ने बताया कि, जब विकास पायलट का कोर्स कर रहा था तो हमें कहता था कि मैं जब पायलट बनकर जहाज उड़ाऊंगा तो आपको जहाज में जरूर घुमाऊंगा। बेटे ने अब अपना कहा वादा पूरा किया तो हमें यह सपने जैसा लग रहा है। तीन अक्तूबर को विकास ने अपने गांव के हर बिरादरी के 70 साल से अधिक उम्र के 22 बुजुर्ग महिलाओं और पुरुषों अपने खर्चे पर हवाई यात्रा करायी।

 कभी नहीं सोचा था कि हवाई जहाज का सफर करेंगे

कभी नहीं सोचा था कि हवाई जहाज का सफर करेंगे

टाइम्स में छपी खबर के मुताबिक, इंडिगो एयरलाइंस से नई दिल्ली से अमृतसर की यात्रा करने वाले लोगों में 90 वर्षीय जीता देवी, 82 वर्षीय बिमला, 78 वर्षीय राममूर्ति, 78 वर्षीय कांकरी, 75 वर्षीय गिरदावरी, 80 वर्षीय अमर सिंह, 75 वर्षीय सुरजाराम, 75 वर्षीय खेमाराम, 72 वर्षीय आत्माराम, इंद्र, जगदीश, सतपाल शामिल है। उन्होंने बताया कि, उनके लिए ये सपने के सच होने जैसा है। उन्होंने कभी नहीं सोचा था कि, वह हवाई जहाज का सफर करेंगे।

सपा-बसपा से कट-बंधन के लिए कांग्रेस है जिम्मेदार, पढ़ें वो वादे जिनसे मुकर गई कांग्रेस

 बुजुर्गों को प्लेन में सफर कराना किसी तीर्थ से कम नहीं

बुजुर्गों को प्लेन में सफर कराना किसी तीर्थ से कम नहीं

विकास के पिता महेंद्र ज्याणी ने कहा कि बुजुर्गों को प्लेन में सफर कराना किसी तीर्थ से कम नहीं है। बेटे ने नेक काम किया है। 90 वर्षीय जीता देवी ने कहा कि, उन्होंने कभी ऐसी चीज का सपना तक देखा नहीं था। बहुत से लोग बुजुर्गों से वादे करते हैं लेकिन कुछ लोग अपने बचन पर कायम रहते हैं। 78 वर्षीय राममूर्ति औऱ 78 वर्षीय कांकरी ने कहा कि, यह उनकी जिंदगी का सबसे शानदार अनुभव था। उन्होंने साथ के लोगों की भी प्रशंसा की जिन्होंने उन्हें फ्लाइट में मदद की।

फोटो साभार: सचिन गुप्ता के फेसबुक से

MeTooIndia : कंगना का सोनम पर तीखा वार, कहा-बाप नहीं मेहनत मेरी पहचान, होती कौन हो जज करने वाली

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
pilot Vikas Jyani arranged for air travel for 22 residents aged 70 and above in his village
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X