जल्‍द खुलेगा जयललिता की मौत का रहस्‍य, दिए गए जांच के आदेश

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

चेन्‍नई। तमिलनाडु के कार्यवाहक मुख्‍यमंत्री ओ पन्‍नीरसेल्वम ने कहा है कि पूर्व मुख्यमंत्री जे जयललिता की मौत के मामले की न्यायिक जांच करायी जायेगी। बताया जा रहा है कि जांच कमीशन की अध्यक्षता पूर्व जज करेंगे। पन्‍नीरसेल्वम ने अपने आवास पर पत्रकारों से कहा कि जयललिता के 75 दिन अस्पताल में रहने के दौरान उन्हें उनसे मिलने नहीं दिया गया। उन्होंने बताया कि जयललिता की मौत के मामले में उन्होंने जांच के आदेश दे दिए हैं। पन्‍नीरसेल्वम ने कहा, 'अम्मा करीब 16 साल तक सीएम रहीं। मैं दो बार सीएम बना, यह सब कुछ अम्मा की इच्छा पर हुआ। मैंने हमेशा अम्मा की राह का अनुसरण किया।'

जल्‍द खुलेगा जयललिता की मौत का रहस्‍य, दिए गए जांच के आदेश

मुझे इस्तीफा देने के लिए मजबूर किया गया- पन्नीरसेलवम 

जयललिता की समाधि पर चालीस मिनट तक ध्यान लगाने के बाद पन्नीरसेलवम ने मीडिया के सामने आकर जो कहा उसने तमिलनाडु की राजनीति में भूचाल पैदा कर दिया। पन्‍नीरसेलवम ने कहा, 'मैंने इस्तीफा इसलिए दिया क्योंकि मुझे इस्तीफा देने के लिए मजबूर किया गया। मुझे लगातार अपमानित किया जा रहा था।' ये भी पढ़ें- अम्‍मा की आत्‍मा ने पन्‍नीरसेल्‍वम से की बात! जानिए क्‍या कहा?

समर्थक चाहेंगे तो इस्तीफा वापस ले लूंगा

पन्‍नीरसेल्वम यहीं नहीं रुके, उन्होंने शशिकला का नाम तो नहीं लिया लेकिन जो कहा उससे साफ है कि उन्हें जयललिता की जगह शशिकला मंजूर नहीं। पन्‍नीरसेलवम ने कहा, 'अम्मा चाहती थीं कि मैं मुख्यमंत्री बनूं और मधुसूदन पार्टी के महासचिव बनें। अगर समर्थक चाहेंगे तो मैं इस्तीफा वापस ले लूंगा। जो लोगों के हित की रक्षा कर सकता है उसे ही मुख्यमंत्री बनना चाहिए।'

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Caretaker Tamil Nadu chief minister O Panneerselvam+ on Wednesday said a committee will be constituted to probe the mystery surrounding the death of former chief minister J Jayalalithaa.
Please Wait while comments are loading...