• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

कोरोना वायरस से निपटने के लिए भारत ने की ये तैयारी, चंडीगढ़ में संदिग्ध मरीज मिलने से मचा हड़कंप

|

नई दिल्ली। चीन में करीब 106 लोगों की मौत का कारण बन चुके कोरोना वायरस को लेकर भारत हाई अलर्ट पर है। चीन से आने वाले कई भारतीय नागरिकों पर विदेश मंत्रालय नजर रखे हुए है। इसी बीच पंजाब के मोहाली में कोरोना वायरस से संक्रमित संदिग्‍ध एक 28 वर्षीय मरीज को लेकर हडकंप मचा हुआ है। यह युवक हाल ही में चीन से भारत आया है और इसमें कथित रूप से कोरोना वायरस के लक्षण पाए गए हैं।

    Coronavirus को लेकर Indian Govt alert, हेल्पलाइन नंबर जारी । Oneindia Hindi
    पंजाब में हाई अलर्ट

    पंजाब में हाई अलर्ट

    बता दें कि देश की सभी राज्य सरकारें कोरोना वायरस को लेकर सतर्क हैं। हाल ही में तमिलनाडु में विदेशों से आने वाले यात्रियों की स्क्रीनिंग के लिए मदुरै हवाई अड्डे पर दो चिकित्सा शिविर लगाए गए हैं। वहीं, पंजाब के सभी अस्पतालों को अलर्ट जारी कर दिया गया है और हवाई अड्डों पर जांच की व्‍यवस्‍था पुख्‍ता की जा रही है। सुरक्षा के मद्दे नजर अमृतसर के श्री गुरु रामदास अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट और मोहाली स्थित चंडीगढ़ अंतरराष्‍ट्रीय हवाई अड्डे पर चीन से आने वाले लोगों की थर्मल सेंसर से जांच की जा रही है। चीन से लौटे संदिग्‍ध मरीज को चंडीगढ़ पीजीआई में भर्ती कराया गया है।

    चीन सरकार के संपर्क में है भारत

    चीन में रहने वाले भारतीयों को वहां से निकालने के लिए विदेश मंत्रालय ने भी काम शुरू कर दिया है। मंगलवार को विदेश मंत्रालय ने बताया कि हमने हुबेई प्रांत, चीन में कोरोना 2019 वायरस के प्रकोप से उत्पन्न स्थिति से प्रभावित भारतीय नागरिकों को निकालने की तैयारी शुरू कर दी है। उन्होंने बताया कि बीजिंग में हमारा दूतावास लॉजिस्टिक का काम कर रहा है और इस मामले पर चीनी सरकार के अधिकारियों और हमारे नागरिकों के संपर्क में है।

    चीन में फंसे भारतीय छात्रों पर विदेश मंत्री ने दिया ये बयान

    चीन के वुहान शहर में फंसे भारतीय छात्रों को लेकर विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा किनहमारे राजदूतावास चीन के साथ संपर्क में है, हम लोग अभी प्रयास कर रहे हैं कि उनको वापस कैसे लाया जाए, एडवाइजरी जारी की गई है। हमारी कोशिश है कि हमारे जो छात्र वुहान शहर में हैं उनको कैसे निकाला जाए।

    भारत ने की ये तैयारी

    उधर, दिल्ली में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने आज स्वास्थ्य मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ कोरोना वायरस के संबंध में तैयारियों की समीक्षा की। हर्षवर्धन ने कहा, भारत सरकार ने पूरी दुनिया में सबसे पहले इसके लिए इंतजाम शुरू किए। 7 बड़े एयरपोर्ट पर हर एक यात्री जो चीन से आ रहा है, उनको सबको हम स्क्रीन कर रहे हैं। इस सुविधा को अब हम 20 एयरपोर्ट तक बढ़ा रहे हैं।

    5 और लैब शुरू की जाएंगी

    कोरोना वायरस पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने आगे कहा, पहले पुणे की लैब में पूरे देश के सैंपल टेस्ट होते थे लेकिन अब इसे बढ़ाकर चार जगह और शुरू कर दिया गया है। इसके लिए जल्द ही 5 और लैब शुरू की जाएंगी। बता दें कि कोरोना वायरस के कारण चीन के लोग ही नहीं, अपितु भारतीय छात्र भी संकट में हैं। करीब 250 छात्र चीन के वुहान प्रांत में फंसे हैं। भारत सरकार ने छात्रों को निकलवाने के लिए चीनी सरकार से संपर्क किया है।

    देश का सबसे बड़ा ऑनलाइन फ्रॉड, बिजनेसमैन की 11 करोड़ से ज्यादा रकम 186 खातों के जरिए हड़पी

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Panic created after finding suspected patient of corona virus in Chandigarh Punjab
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X