• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

दर्दनाक: मरीज को खाट पर लेकर 12 किमी चलकर अस्‍पताल पहुंचे घरवाले, देखें वीडियो

|
Google Oneindia News

नई दिल्‍ली, 15 सितंबर। कोरोना महामारी के दौरान देश भर की स्‍वास्‍थ्‍य व्‍यवस्‍था की पोल खोलकर कर रख दी है। कोरोना की दूसरी लहर में कई राज्‍यों में समय पर इलाज न मिल पाने के कारण मरीजों ने सड़क पर ही दम तोड़ दिया। वहीं अब सोशल मीडिया पर एक और वीडियो वायरल हो रहा है। जिसको देखकर आपकी आंखे खुली की खुली रह जाएंगी और इस हार्ट टचिंग वीडियो को देखकर आप भी सहम जाएंगे।

 महिला मरीज को एम्बुलेंस की जगह खाट पर लाद कर ले जाना पड़ा

महिला मरीज को एम्बुलेंस की जगह खाट पर लाद कर ले जाना पड़ा

इस वीडियो को सोशल मीडिया पर पोस्‍ट करने वाले ने दावा किया है कि ये झारखंड की घटना ही। इस वीडियो में आप एक महिला मरीज को एम्बुलेंस की जगह खाट पर लाद कर दो व्‍यक्तियों को ले जाते देख सकते हैं। ये वीडियो झारखंड की खस्‍ताहाल स्‍वास्‍थ्‍य व्‍यवस्‍था की पोल खोल कर रख दिया है। इस वीडियो को देखकर साफ है कि मरीज को अस्पताल पहुंचने के लिए किसी भी तरीके की सुविधा उपलब्ध नहीं है।

    दर्दनाक: मरीज को खाट पर लेकर 12 किमी चलकर अस्‍पताल पहुंचे घरवाले, देखें वीडियो
    मरीज को खाट पर टांग 12 किलोमीटर चलकर अस्पताल लाये परिजन

    मरीज को खाट पर टांग 12 किलोमीटर चलकर अस्पताल लाये परिजन

    वीडियो में दो व्‍यक्ति महिला मरीज को खाट पर लिटा कर अस्‍पताल ले जाते हुए नजर आ रहे हैं। इस वीडियो को @sohansingh05 नाम के ट्विटर यूजर ने अपने पर्सनल ट्विटर अकाउंट पर शेयर किया है। इस वीडियो को हजारों से ज्यादा लोग देख चुके हैं। वीडियो को शेयर करते हुए शख्स ने कैप्शन में लिखा, ‘खटिया (खाट) पर झारखंड का हेल्थ सिस्टम। मरीज को खाट पर टांग 12 किलोमीटर चलकर अस्पताल लाये परिजन। झारखंड के साहेबगंज में एंबुलेंस नहीं मिलने पर महिला मरीज को खटिया पर लादकर अस्पताल पहुंचाया गया। '

    परिजनों ने बताया 108 नंबर पर फोन करने पर भी नहीं भेजी गई एंबुलेंस

    परिजनों ने बताया 108 नंबर पर फोन करने पर भी नहीं भेजी गई एंबुलेंस

    अस्‍पताल पहुंचने पर मरीज के परिजन ने कहा हमने 108 नंबर पर फोन किया लेकिन उन्‍होंने कोई गाड़ी उपलब्ध नहीं होने की बात कही। हमने मिन्‍नत की लेकिन बहुत देर तक आसरा देखने के बाद भी एंबुलेंस नहीं आई हमारी मरीज की हालत बिगड़ने लगी तो हमने पड़ोसी से खाट मांगी और उस पर लिटाकर अस्‍पताल पहुंचे। अगर समय पर नहीं आते तो मेरे मरीज की जान नहीं बच पाती।

    लोग झारखंड सरकार को जमकर कोस रहे हैं

    लोग झारखंड सरकार को जमकर कोस रहे हैं

    इस वीडियो को देखकर लोग दुखद बता रहे हैं और झारखंड सरकार को जमकर कोस रहे हैं। हालांकि इस मरीज का नाम क्‍या है इसका खुलासा नहीं हुआ है। एक यूजर ने लिखा ‘ईमानदारी से अपना टैक्स भरता हूं, मगर सरकार अच्छे से काम नहीं कर रही है, इससे मुझे दुख होता है।

    ‘झारखंड राज्य मे स्वास्थ्य व्यवस्था के ऐसा हाल है ?

    एक और यूजर ने लिखा ‘बेहद दुखद है ऐसे दृश्य!' एक यूजर ने आश्‍चर्य जताते हुए कहा, ‘झारखंड राज्य मे स्वास्थ्य व्यवस्था के ऐसे हाल है ? एक ने लिखा ‘बहुत दुख की बात है कि झारखंड में आने-जाने की व्यवस्था भी नहीं है.' वीडियो देख कुछ लोगों ने उम्‍मीद जताई कि इसके बाद कम से कम प्रदेश सरकार की आंख खुलेगी और मीरजों को बेहतर सुविधाएं मिलेगी। '

    English summary
    Painful: The family reached the hospital after walking 12 km with the patient on the cot, watch the video
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X