मायावती ने पीएम के सर्वे को बताया फर्जी, बोलीं लोकसभा भंग करिए

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। बसपा सुप्रीमो मायावती ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर एक बार फिर से जोरदार हमला बोला है।

मायावती ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मोबाइल एप के जरिए नोटबंदी पर किए गए सर्वे को फर्जी करार दिया है।

मायावती ने कहा कि यह सर्वे पूरी तरह से फर्जी है, देश में 90-95 फीसदी खासतौर पर जहां ना एटीएम हैं, ना बैंक हैं, जो अभी भी आसमान के नीचे लाइन में खड़े हैं तो इन लोगों ने कैसे यह राय दे दी कि वह पीएम के फैसले के साथ हैं।

 Mayawati

#demonetization: सुबह-सुबह ATM पहुंचे राहुल गांधी, लाइन में लगे लोगों से की बात

मायावती ने कहा कि मैं पीएम को कहना चाहती हूं कि अगर यह फैसला सही है जिससे लोग त्राहि त्राहि कर रहे हैं और आप सही मत चाहते हैं तो लोकसभा भंग कराए और चुनावी मैदान में उतरे सामने आ जाएगा।

मायावती ने कहा कि अगर पीएम में हिम्मत है तो वह लोकसभा को भंग कराएं और चुनावी मैदान में उतरें, सही मायने में यह जनमत होगा।

उन्होंने कहा कि इस तरह के फर्जी सर्वे की कोई विश्वसनीयता नहीं है।

अब 21 नहीं, बल्कि सिर्फ 6 दिनों में प्रिंटिंग प्रेस से बैंकों तक पहुंचेगा कैश

वहीं मायावती ने एक बार फिर से दोहराया कि प्रधानमंत्री के सिर्फ 5-10 मिनट सदन में आकर और बैठकर चले जाने से काम नहीं चलेगा।

उन्हें सदन में आकर लोगों को सुनना पड़ेगा और उसके बाद उनके सवालों के जवाब देना चाहिए। उन्होंने कहा कि पूरा विपक्ष देश की जनता के हित में आवाज उठा रहा है।

वहीं राज्यसभा की कार्रवाई एक बार फिर से जोरदार हंगामे के साथ शुरु हुई।

खुद रिजर्व बैंक ने कहा, नकली नहीं है 10 रुपए का कोई भी सिक्का

एक तरफ जहां स्पीकर ने पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को सदन में बोलने की इजाजत दी लेकिन वह बोलने के लिए खड़े नहीं हुए और पूरा विपक्ष हंगामा करता रहा।

इस बीच मायावती ने एक बार फिर से दोहराया कि जबतक पीएम सदन में नहीं आते बहस शुरु नहीं होगी।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Mayawati calls PM survey fake says no discussion without him in the house. Mayawati says no discussion without PM Modi come in the house.
Please Wait while comments are loading...