रामायण के रचयिता वाल्‍मीकि के लिए मध्य प्रदेश की मंत्री अर्चना ने प्रयोग किया 'डाकू' शब्द, मांगी माफी

Subscribe to Oneindia Hindi

भोपाल। मध्य प्रदेश की बाल विकास मंत्री अर्चना चिटनीस अपने उस बयान पर फंस गई हैं, जिसमें उन्होंने आदि कवि वाल्मिकि को डाकू कह दिया था। उनके इस बायन के बाद वाल्‍मीकि और दलित समाज के लोगों ने नाराजगी है। बयान पर विवाद बढ़ता देख अर्चना को माफी मांगनी पड़ी। अर्चना चिटनीस, राज्य स्थित मंदसौर में में आयोजित अखिल भारतीय वाल्‍मीकि समाज से 13वें अधिवेशन के दौरान एक सभा संबोधित कर रही थीं।  

अर्चना ने कहा था...

अर्चना ने कहा था...

इस दौरान अर्चना ने कहा कि 'वाल्मीकि की रामायण भगवान राम से शुरू नहीं होती, डाकू रत्नाकर जब स्नान कर निकले और दो क्रोंच पक्षियों को जिन्हें हम सारस कहते हैं प्रेम मग्न होकर नाचते देखकर भाव विह्वल हो रहे थे।'

डाकू शब्द सुनकर सभा में हंगामा

डाकू शब्द सुनकर सभा में हंगामा

महर्षि वाल्मिकि के लिए डाकू शब्द सुनकर सभा में मौजूद लोगों ने तुरंत सभा बंद करा दी और हंगामा करने लगे। वाल्मिकि समाज के लोगों ने कहा कि उन्होंने इस कार्यक्रम में अर्चना को सम्मान दिया था, लेकिन मंत्री ने ही उनके देवता को डाकू कह दिया जो उनका अपमान है। विवाद बढ़ते ही अर्चना ने वाल्मिकि से माफी मांग ली।

'गलती मानती हूं'

'गलती मानती हूं'

अर्चना ने कहा कि 'उन्होंने वाल्मीकि जी की महानता और एकता की बात की, हो सकता है एक घंटे के भाषण में एक गलत शब्द कह दिया हो, और फिर कुछ ऐसी बात कह दी हो जो उन्हें समझ में ना आयी हो, इसके लिए वो पूरी विनम्रता से अपनी गलती मानती हैं और पश्चताप करती हैं।'

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Madhya Pradesh minister archana chitnis comments on valmiki

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.