• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

कर्नाटक के मंत्री बोले- पाकिस्‍तान जिंदाबाद कहने वाले लोग कोरोना वायरस जैसे

|

नई दिल्‍ली। कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु का फ्रीडम पार्क में AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी की सीएए विरोधी रैली में 19 वर्षीय कॉलेज स्‍टूडेंट अमूल्या लियोना ने पाकिस्‍तान जिंदाबाद के नारे लगाए थे। इसके बाद से विवादों का दौर शुरू हो गया है। कर्नाटक सरकार में मंत्री बीसी पाटिल ने ऐसे पाकिस्तान के समर्थन में नारे लगाने वालों को 'देखते ही गोली मारने' के कानून की वकालत की है। उन्होंने कहा कि ऐसा केंद्रीय कानून होना चाहिए, जिसके तहत पाकिस्तान के समर्थन में नारे लगाने वालों को गोली मारी जा सके।

कर्नाटक के मंत्री बोले- पाकिस्‍तान जिंदाबाद कहने वाले लोग कोरोना वायरस जैसे

पाटिल ने कहा 'ये लोग हमारे देश का अन्न खाते हैं, पानी पीते हैं। यहां सांस लेते हैं और पाकिस्तान जिंदाबाद करेंगे। क्या वह देशद्रोही नहीं हैं? ऐसे लोग कोरोना वायरस की तरह है।'' कृषि मंत्री ने कहा, ''मैं प्रधानमंत्री से आग्रह करूंगा कि ऐसे लोगों के खिलाफ कानून बनाया जाए और उन्हें उसी कानून के तहत गोली मार दी जाए। जिससे की देश विरोधी घटनाओं को रोकने में मदद मिलें।' उधर केंद्रीय मंत्री डीवी सदानंद गौड़ा ने कहा कि देशविरोधी नारे लगाने वालों को लेकर किसी भी तरह की दया नहीं दिखाई जाएगी और उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

निर्भया केस: दोषी अक्षय ने दाखिल की नई दया याचिका, 3 मार्च को होनी है सभी को फांसी

बता दें कि अमूल्या नाम की एक 19 वर्षीय लड़की ने पिछले हफ्ते सीएए-एनआरसी के विरोध में आयोजित रैली के दौरान 'पाकिस्तान जिंदाबाद' के नारे लगाए थे। रैली में एआईएमआईएम चीफ असदुद्दीन ओवैसी भी मौजूद थे। ओवैसी ने अमूल्या की नारेबाजी का विरोध किया जिसके बाद पुलिस उसे मंच से नीचे उतार ले गई और राजद्रोह की धारा में उसे गिरफ्तार कर लिया गया।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Karnataka minister BC Patil says people who say Pak zindabad are like coronavirus.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X