रिसॉर्ट पर छापा: कर्नाटक के सीएम सिद्धारमैया बोले- ये है राजनीतिक षड्यंत्र, पुलिस को रखा गया दूर

Subscribe to Oneindia Hindi

बेंगलुरु। कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु स्थित इग्लेटन गोल्फ रिसार्ट पर आयकर विभाग की छापेमारी के पर राज्य के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने टिप्पणी की है। उन्होंने कहा है कि राजनीतिक षड़यंत्रों के निहित आयकर विभाग का उपयोग किया गया। जो राजनीति में सही नहीं है। सिद्धरमैया ने कहा कि आयकर विभाग की छापेमारी से दौरान केंद्रीय रिजर्व पुलिस फोर्स (CRPF) का उपयोग किया गया जबकि स्थानीय पुलिस को इससे दूर रखा गया। गौरतलब है कि यह वही रिसॉर्ट है जहां कांग्रेस की गुजरात इकाई के 42 विधायक रुके हुए हैं। मिली जानकारी के अनुसार यह छापेमारी सुबह 7 बजे से चली। इसी क्रम में कर्नाटक के उर्जा मंत्री डीके शिवकुमार के घर समेत 39 अन्य ठिकानों पर छापे मारे गए।

रिसॉर्ट पर छापा: कर्नाटक के सीएम सिद्धरमैया बोले- ये है राजनीतिक षड़यंत्र, पुलिस को रखा गया दूर

आयकर विभाग ने उर्जा मंत्री के भाई डीके सुरेश के घर भी छापेमारी की। बताया गया कि करीब 10 अफसर, केंद्रीय रिजर्व पुलिस फोर्स के साथ रिसॉर्ट पहुंचे थे और छापेमारी की कार्रवाई की। इसके साथ ही करीब 20 अधिकारी शिवकुमार के घर पर पहुंचे। इसके साथ ही शिवकुमार के दिल्ली वाले घर से 5 करोड़ रुपए मिलने की सूचना भी दी गई।

आयकर विभाग ने कहा

आयकर विभाग की ओर से कहा गया कि किसी भी विधायक की कोई जांच नहीं की गई और ना ही किसी के कमरे की जांच की गई। वहीं कांग्रेस का आरोप है कि सरकार ने यह काम गुजरात में होने वाले राज्यसभा चुनाव के लिए कराया गया। बता दें कि इग्लेटन गोल्फ रिसार्ट उर्जा मंत्री डीके शिवकुमार का ही है। उन्हें ही इन विधायकों की मेजबानी की जिम्मेदारी कांग्रेस ने दी है।

ये भी पढ़ें: आयकर विभाग के छापे पर लोकसभा में भी मचा हंगामा, कांग्रेस ने कहा- विधायकों को डरा, धमका रहे हैं

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Karnataka CM Siddaramaiah comments on raid conducted by it department
Please Wait while comments are loading...