• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

पायल के बाद अब कैंसर से लड़ रही अर्शी नाज की जिंदगी बचाने आगे आए CM हेमंत सोरेन

|

रांची। झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहते हैं। हेमंत सोरेन जितते एक्टिव ट्विटर पर रहते हैं, उतनी ही तेजी से लोगों की मदद के लिए आगे भी आते हैं। लोग हेमंत सोरेन को प्यार से 'दादा' कहकर बुलाते हैं। अपनापन दिखाते हुए लोग उनसे मदद की उम्मीद करते हैं। वहीं मुख्यमंत्री सोरेन भी बढ़चढ़ कर लोगों की मदद करने के लिए आगे आते हैं। एक बार फिर से मुख्यमंत्री सोरेन ने दरियादिली दिखाई और कैंसर से जूझ रही बच्ची की मदद के लिए तुरंत मदद का हाथ बढ़ाया। झारखंड के धनबाद में रहने वाली आर्शी नाज कैंसर से जूझ रही है।

'दादा' सोरेन से मदद की उम्मीद

'दादा' सोरेन से मदद की उम्मीद

आर्शी के पिता इसराफिल अंसारी आर्थिक रूप से मजबूत नहीं है। कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी का इलाज इतना आसान भी नहीं है। परिवार के जानने वाले एक एक शख्स ने ट्विटर के जरिए मुख्यमंत्री हेमेंत सोरेन से मदद की गुहार लगाई। अर्शी ने भी वीडियो के जरिए मुख्यमंत्री से मदद की अपील की। हेमंत सोरेन ने भी देर नहीं की और फोरन धनबाद के जिलाधिकारी को आदेश जारी कर बच्ची की मदद को भरोसा दिलाया। मुख्यमंत्री ने आर्शी के ट्वीट को रिट्वीट करते हुए धनबाद के डीएम को निर्देश दिया कि मुख्यमंत्री गंभीर रोग उपचार योजना के जरिए बच्ची को तुरंत समुचिर सुविधा पहुंचाई जाए।

पायल की मदद कर जगाई पढ़ने की उम्मीद

पायल की मदद कर जगाई पढ़ने की उम्मीद

हालांकि ये कोई पहला मौका नहीं है जब हेमेंत सोरेन मदद के लिए आगे आए हो। इससे पहले उन्होंने रांची के नजदीक करमटोली में रहने वाली पायल कुमारी को मदद पहुंचाई थी। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के निर्देश पर प्रशासन ने चंद घंटों में ही पायल के लिए ट्राइसाइकिल की व्यवस्था की। 6 साल से बिस्तर पर पड़ी पायल पढ़ना चाहती है, लेकिन परिवार लाचार थे। बेटी के लिए एक व्हीलचेयर तक नहीं खरीद पा रहा था।

ट्वीटर पर मांगी मुख्यमंत्री से मदद

ट्वीटर पर मांगी मुख्यमंत्री से मदद

सोशल मीडिया पर किसी ने पायल की मदद के लिए मुख्यमंत्री से अपील की। हेमंत सोरेन ने फौरन ही बीडीओ और सीओ को निर्देश जारी कर पायल की मदद की। पायल को न केवल व्हीलचेयर मुहैया कराई गई बल्कि 50 किलो चावल, दो कंबल भी दिए गए। मुख्यमंत्री के निर्देश पर पायल का इलाज शुरू कर दिया गया। आयुष्मान कार्ड के तहत उसके इलाज की व्यवस्था की गई।

Yes Bank: कोर्ट में छलके राणा कपूर के आंसू,कहा-बच्चा खोने के बाद से मानसिक तौर पर बीमार हूं

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Jharkhand Cheif Minister Hament Sore Comes Forward to Help Cancer Patient Arshi Naaz.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X