• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

अभिनंदन की रिहाई के बीच पाकिस्तान की एक और खतरनाक साजिश का खुलासा, मिले सुराग

|

नई दिल्ली। लंबे इंतजार और आखिरी वक्त तक पाकिस्तानी सेना की तरफ से की गई पैंतरेबाजी के बाद आखिरकार भारतीय वायुसेना (Indian Air Force) के विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान (Abhinandan Varthaman) ने अपने देश की धरती पर कदम रख दिया। संसद में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के शांति की पहल के तौर पर भारतीय पायलट अभिनंदन को छोड़ने के ऐलान के बावजूद पाकिस्तान अपनी हरकतों से बाज नहीं आया और पूरे दिन विंग कमांडर की रिहाई को लटकाए रखा। विंग कमांडर की रिहाई को पाकिस्तान पर भारत की एक बड़ी कूटनीतिक जीत के तौर पर देखा जा रहा है। इस बीच भारत की खुफिया एजेंसियों को पाकिस्तान की एक और बड़ी साजिश के सुराग मिले हैं।

बड़ी साजिश की फिराक में ISI

बड़ी साजिश की फिराक में ISI

इंडिया टुडे की खबर के मुताबिक, भारतीय खुफिया एजेंसियों को कुछ ऐसे सुराग मिले हैं, जिनसे पाकिस्तान की एक बड़ी साजिश का खुलासा हुआ है। दरअसल खुफिया सूत्रों को पता चला है कि जम्मू कश्मीर में तैनात सुरक्षाबलों के जवान पाकिस्तान की मिलिट्री इंटेलिजेंस (MI) और आईएसआई के निशाने पर हैं। खुफिया एजेंसियों के हाथ एक पाकिस्तानी नंबर की चैट लगी है, जिसमें दावा किया जा रहा है कि पाकिस्तानी मिलिट्री एजेंसी और कश्मीर में सक्रिय आईएसआई के एजेंट घाटी में तैनात सुरक्षाबलों के राशन स्टॉक में जहर मिलाने की योजना बना रहे हैं।

ये भी पढ़ें- अभिनंदन की रिहाई से ठीक पहले पाकिस्तान ने ठुकराई भारत की बड़ी मांग

राशन डिपो की सुरक्षा पुख्ता करने के निर्देश

राशन डिपो की सुरक्षा पुख्ता करने के निर्देश

खुफिया नोट के मुताबिक, जम्मू कश्मीर में सुरक्षाबलों के सभी शिविरों में राशन डिपो की सुरक्षा पुख्ता तौर पर सुनिश्चित करने के लिए जरूरी कदम उठाए जाने की बात कही गई है। खुफिया सूत्रों ने यह भी कहा है कि देशभर में सुरक्षाबलों के लिए खरीदे गए हर तरह के राशन को किसी भी अप्रिय घटना या इस तरह की कोशिश से निपटने के लिए अलग-अलग स्तर पर जांच की जाएगी। खुफिया सूत्रों का यह सुराग ऐसे वक्त पर मिला है जब सीमा पर भारत-पाकिस्तान के बीच चल रहे विवाद के कारण घाटी में भी तनाव का माहौल बना हुआ है। शुक्रवार को ही पाकिस्तानी सेना की ओर से की गई गोलीबारी में कश्मीर में तीन लोगों की मौत हुई थी।

भारत वापस आए अभिनंदन

भारत वापस आए अभिनंदन

आपका बता दें कि इससे पहले शुक्रवार को पाकिस्तान के लड़ाकू विमान को धूल चटाने वाले भारतीय वायुसेना के जांबाज विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान पाक की गिरफ्त से रिहा होकर भारत वापस आए। अटारी वाघा बॉर्डर पर पाकिस्तान के रेंजर्स ने अभिनंदन को बीएसएफ को सौंपा और बीएसएफ ने उन्हें भारतीय वायुसेना के अधिकारियों को सौंप दिया। अभिनंदन की रिहाई के दौरान वाघा बॉर्डर 'भारत माता की जय' और 'वंदे मातरम' के नारों से गूंज उठा। अभिनंदन के स्वागत के लिए बड़ी संख्या में लोग वाघा बॉर्डर के पास जमा हुआ हुए थे।

गिरफ्त में भी दिखाई बहादुरी

गिरफ्त में भी दिखाई बहादुरी

बीते बुधवार को पाकिस्‍तान के फाइटर जेट्स का पीछा करते हुए विंग कमांडर अभिनंदन वर्थमान का जेट मिग-21 क्रैश हो गया और पाक की सीमा में गिर गया। पाक सेना ने उन्‍हें पकड़ लिया, लेकिन इससे पहले कि सेना उन्‍हें पकड़ती विंग कमांडर अभिनंदन ने बहादुरी दिखाते हुए सारे जरूरी दस्तावेज नष्ट कर दिए। अभिनंदन ने कुछ दस्तावेजों को निगल लिया, जबकि कुछ को तालाब में फेंककर नष्ट कर दिया। स्थानीय लोगों से घिरे अभिनंदन ने करीब 15 मिनट तक हवा में फायरिंग की, ताकि लोग उनके करीब ना आ सकें, लेकिन उन्होंने किसी भी स्थानीय नागरिक पर गोली नहीं चलाई। पाकिस्तानी सेना ने जब उन्हें गिरफ्तार कर लिया तो भी उन्होंने बहादुरी का परिचय दिया और कोई भी जानकारी पाकिस्तानी सेना को देने से मना कर दिया। अभिनंदन की वापसी को लेकर देशभर में दुआएं की गईं और आखिरकार उनकी रिहाई का रास्ता खुल गया।

ये भी पढ़ें- विंग कमांडर अभिनंदन के परिवार को पाक के विदेश मंत्री ने भेजा था मैसेज, क्या था वो संदेश?

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Intel Note: Pakistani MI and ISI Agents Plans To Mix Poison In Ration Of Security Forces.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X