• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

जानिए क्‍या हुआ था 27 फरवरी को कैसे विंग कमांडर अभिनंदन पहुंचे थे पीओके

|

नई दिल्‍ली। यह पूरा हफ्ता, एक ऐसे हफ्ते में त‍ब्‍दील हो गया है जिसके बारे में आने वाले कई दिनों तक जिक्र होगा। 26 फरवरी यानी मंगलवार को इंडियन एयरफोर्स (आईएएफ) के पाकिस्‍तान के बालाकोट में जैश-ए-मोहम्‍मद के ठिकानों पर हवाई हमले की खबरें आईं। पाकिस्‍तान के खैबर पख्‍तूनख्‍वा में हुए इस हमले में भारत की सेना पहली बार एलओसी पार करके पाक में दाखिल हुई थी। लोग इस एयर स्‍ट्राइक जश्‍न भारत में मना ही रहे थे कि 27 फरवरी को एक नई खबर आ गई। जम्‍मू कश्‍मीर के राजौरी जिले में आने वाले नौशेरा में पाकिस्‍तान के फाइटर जेट्स ने घुसपैठ की। इस घुसपैठ में भी आईएएफ, पाकिस्‍तान पर हावी रही। लेकिन हमारे पायलट विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान, को पाकिस्‍तान की सेना ने पकड़ लिया। इंडियन एयरफोर्स ने एक के बाद एक ट्वीट में 27 फरवरी की पूरी कहानी बयां की है।

यह भी पढ़ें-मातृभूमि की रक्षा के लिए विंग कमांडर अभिनंदन की मां ने बेटे को ऐसे किया तैयार

सुबह 10 बजे पाकिस्‍तान के जेट्स कश्‍मीर में दाखिल

सुबह 10 बजे पाकिस्‍तान के जेट्स कश्‍मीर में दाखिल

27 फरवरी को सुबह करीब 10 बजे इंडियन एयरफोर्स को बड़ी संख्‍या में पाकिस्‍तान एयरफोर्स के फाइटर जेट्स भारतीय सीमा की तरफ बढ़ते हुए नजर आए। ये जेट्स झांगर की तरफ आ रहे थे। जेट्स ने राजौरी के सुंदरबनी इलाके में इंडियन एयरस्‍पेस का वॉयलेशन किया। अलग-अलग स्‍तर पर लगातार जेट्स की संख्‍या बढ़ती जा रही थी।

आईएएफ के कई जेट्स रवाना

आईएएफ के कई जेट्स रवाना

आईएएफ की तरफ से मिग-21 बाइसन, सुखोई-30 एमकेआई, मिराज-2000 को इस घुसपैठ का जवाब देने का जिम्‍मा दिया गया। पाकिस्‍तान एयरफोर्स के फाइटर जेट्स भारत के सैन्‍य संस्‍थानों को निशाना बनाना चाहते थे। आईएएफ जेट्स ने इन्‍हें इंटरसेप्‍ट किया और उनकी योजना को विफल कर दिया। आईएएफ ने बताया है कि पाकिस्‍तान के जेट्स ने कुछ बम इंडियन आर्मी के कंपाउंड्स पर गिराए लेकिन वह किसी तरह को नुकसान नहीं कर सके।

अभिनंदन ने गिराया एफ-16

अभिनंदन ने गिराया एफ-16

इसके बाद एरियल कॉम्‍बेट में पाकिस्‍तान के एक एफ-16 को आईएएफ के मिग-21 ने गिरा दिया। एफ-16 क्रैश हुआ और एलओसी के दूसरी तरफ गिरा। आईएएफ ने भी एक मिग खो दिया था। इस लड़ाई में पायलट सुरक्षित निकल गए लेकिन उनका पैराशूट पीओके की तरफ चला गया। यहां पर उन्‍हें पाक की सेना ने पकड़ लिया। एयरफोर्स ने शुक्रवार को विंग कमांडर अभिनंदन का स्‍वागत किया है। एयरफोर्स ने विंग कमांडर को योद्ध करार दिया है और कहा कि वायुसेना को उन पर गर्व है।

आईएएफ और देश का नाम ऊंचा

आईएएफ और देश का नाम ऊंचा

इंडियन आर्मी, एयरफोर्स और नेवी की ज्‍वॉइन्‍टप्रेस कॉन्‍फ्रेंस में इस बात की पुष्टि कर दी गई कि विंग कमांडर अभिनंदन ने एफ-16 को ढेर किया। अभिनंदन ने राजौरी जिले के नौशेरा तक आ गए एफ-16 को लौटने ही नहीं दिया। एयर मार्शल (रिटायर्ड) बीके पांडेय ने वन इंडिया हिंदी के साथ बातचीत में कहा, 'निश्चित तौर पर यह एक उपलब्धि है। विंग कमांडर अभिनंदन ने जो कुछ भी किया उसने यह साबित कर दिया है कि इंडियन एयरफोर्स और इसके पायलट कुछ भी करने का दम रखते हैं।'

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
In a series of Tweets, Indian Air Force has told the whole story what exactly happened on 27th February and how Abhinandan reached Pakistan.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X