• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

देश की पहली महिला जासूस रजनी पंडित गिरफ्तार, नौकरानी बनकर पकड़वाया था कातिल प्रेमी को

|
    India की First Female Detective Rajani Pandit को Thane Police ने किया गिरफ्तार | वनइंडिया हिंदी

    मुंबई। लेडी शेरलॉक होम्स के नाम से मशहूर देश की पहली प्राइवेट महिला जासूस रजनी पंडित को ठाणे पुलिस ने अवैध रूप से सोर्सिंग और सीडीआर बेचने के आरोप में गिरफ्तार किया है। रजनी पर अपने क्लाइंट के लिए अवैध माध्यम से कॉल डिटेल रिकॉर्ड्स (सीडीआर) प्राप्त करने के आरोप है। आपको बता दें कि पुलिस ने 1 फरवरी को अवैध रूप से सोर्सिंग और सीडीआर बेचने वाले जासूसों के एक गिरोह का भंडाफोड़ किया था। इसमें पुलिस ने चार लोगों को गिरफ्तार किया था।

    क्लाइंट के कॉल डिटेल्स बेचती थीं रजनी

    क्लाइंट के कॉल डिटेल्स बेचती थीं रजनी

    पुलिस ने एक फरवरी को समरेश झा नाम के एक जासूस को गिरफ्तार किया था। गिरफ्तार किए गए जासूह समरेश ने पुलिस को बताया था कि वह कॉल डिटेल्स को रजनी के कहने पर मोटी कीमत पर बेचता था। आपको बता दें कि रजनी पंडित पूर्व पुलिस अधिकारी की बेटी हैं। पुलिस ने इस मामले में दो अन्य जासूसों संतोष पंडगले और प्रशांत सोनावाणे को नवी मुंबई से गिरफ्तार किया गया है। पुलिस रजनी से पूछताछ कर रही है। हालांकि इस मामले पर पुलिस को रजनी के खिलाफ कोई ठोस सबूत नहीं मिला है।

    दोस्त की मदद कर सॉल्व किया था पहला केस

    दोस्त की मदद कर सॉल्व किया था पहला केस

    रजनी ने 1991 में अपनी डिटेक्टिव एजेन्सी की शुरुआत की थी। तब वह केवल 25 साल की थीं। फिलहाल उनकी टीम में लगभग दो दर्जन लोग काम कर रहे हैं। रजनी पंड़ित के अनुसार वह अभी तक 75,000 केस सॉल्व कर चुकी हैं, जिसके लिए उन्हें कई अवार्ड भी मिले हैं। रजनी ने अपना पहला केस अपनी एक दोस्त की मदद के लिए किया था। दरअसल उनकी दोस्त किसी गलत संगत में फंस गई थी। जिसका उन्होंने पता लगाया और उसे वहां से निकाला। इसके बाद उन्हें इस काम में दिलचस्पी हो गई।

    नौकरानी बन पकड़वाया था कातिल को

    नौकरानी बन पकड़वाया था कातिल को

    उनके सबसे सफल केसों में से एक केस था, जिसमें एक महिला ने अवैध संबंधों के चलते अपने पति और बच्चों को मरवा दिया था। इस केस को सुलझाने के लिए रजनी पंड़ित उस महिला के घर में एक नौकरानी बनकर गईं थी। कई दिनों तक काम किया। इस दौरान महिला के कातिल प्रेमी को पकड़वाने के लिए उन्हें खुद की उंगली काट ली थी। डॉक्टर के पास जाने के लिए निकली रजनी पुलिस लेकर घर लौटी और उस कालित प्रेमी को गिरफ्तार करवाया।

    जीवनसंगी की तलाश है? भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें - निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

    थाणे की जंग, आंकड़ों की जुबानी
    वर्ष
    प्रत्याशी का नाम पार्टी स्‍थान वोट वोट दर मार्जिन
    2014
    विचरे राजन बाबुराव एसएचएस विजेता 5,95,364 57% 2,81,299
    संजीव गणेश नायक एनसीपी उपविजेता 3,14,065 30% 0
    2009
    Dr.sanjeev Ganesh Naik एनसीपी विजेता 3,01,000 40% 49,020
    Chaugule Vijay Laxman एसएचएस उपविजेता 2,51,980 34% 0
    2004
    Paranjape Prakash Vishvanath एसएचएस विजेता 6,31,414 48% 22,258
    Davkhare Vasant Shankarrao एनसीपी उपविजेता 6,09,156 46% 0
    1999
    प्रकाश परांजपे एसएचएस विजेता 3,91,446 43% 99,683
    नकुल पाटिल कांग्रेस उपविजेता 2,91,763 32% 0
    1998
    परांजपे प्रकाश विश्वनाथ एसएचएस विजेता 5,53,210 59% 2,49,579
    केन्या चंद्रिका प्रेमजी समाजवादी उपविजेता 3,03,631 33% 0
    1996
    परांजपे प्रकाश विश्वनाथ एसएचएस विजेता 4,66,773 52% 1,92,637
    हरिवंश सिंह रामकबल सिंह कांग्रेस उपविजेता 2,74,136 30% 0
    1991
    कपसे रामचंद्र गणेश भाजपा विजेता 3,02,928 47% 28,317
    हरिबंश सिंह राम अकबल सिंह कांग्रेस उपविजेता 2,74,611 43% 0
    1989
    कपसे रामचंद्र गणेश भाजपा विजेता 4,67,892 54% 88,264
    घोलप शांताराम गोपाल कांग्रेस उपविजेता 3,79,628 43% 0
    1984
    घोपल शांताराम गोपाल कांग्रेस विजेता 3,28,709 59% 1,15,390
    पाटिल जगन्नाथ शिवराम भाजपा उपविजेता 2,13,319 38% 0
    1980
    महलगी रामचंद्र काशीनाथ जेएनपी विजेता 1,85,831 40% 10,275
    हेगड़े प्रभाकर माधवराव कांग्रेस(आई) उपविजेता 1,75,556 38% 0
    1977
    महलगी रामचंद्र काशीनाथ बीएलडी विजेता 2,30,502 59% 82,746
    देशमुख पांडुरंग शिवराम कांग्रेस उपविजेता 1,47,756 38% 0

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    india's first female private detective Rajani Pandit was today arrested by Thane Crime Branch
    For Daily Alerts

    Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
    पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.

    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Oneindia sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Oneindia website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more