• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

ICMR 70 जिलों में शुरू करने जा रहा सीरो सर्वे, इस आयु के बच्‍चों को भी किया जाएगा शामिल

|

नई दिल्‍ली, 8 जून: भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसएमआर) के Sars-CoV-2 के प्रसार की व्यापकता का पता लगाने के लिए चौथे दौर का सीरो सर्वे करने जा रहा है। जो वायरस कोरोनोवायरस बीमारी (कोविड -19) का कारण बनता है, इस महीने ये सर्वे देश भर के 70 जिलों में शुरू होगा।

corona

राज्यों को लिखे पत्र में ICMR के महानिदेशक ने यह भी कहा कि इस सर्वेक्षण में 6 साल और उससे अधिक उम्र के बच्चों को शामिल किया जाएगा। आम जनता के अलावा 21 राज्यों के इन 70 जिलों के जिला अस्पतालों में स्वास्थ्य कर्मियों के रक्त के नमूने भी लिए जाएंगे। इन 70 जिलों के 21 राज्यों के जिला अस्पतालों में सामान्य आबादी के अलावा स्वास्थ्य कर्मियों के बल्‍ड सैंपल लिए जाएंगे।

इसलिए सर्वे में बच्‍चों को भी किया गया है शामिल

बता दें कोरोना की तीसरी लहर बच्‍चों के लिए घातक बताई जा रही है यहीं कारण है कि इस सर्वे में बच्‍चों को ब्लड का सैंपल लिया जाएगा। 4 जून को लिखे गए पत्र में, ICMR के महानिदेशक, बलराम भार्गव ने कहा, "ICMR जून 2021 में 'कोविड -19 के लिए राष्ट्रीय सीरो-सर्वेक्षण' का चौथा दौर आयोजित करेगा। यह सीरो सर्वेक्षण उसी 70 में आयोजित किया जाएगा। जिन जिलों में पहले तीन राउंड आयोजित किए गए थे। सर्वेक्षण में इन जिलों के जिला अस्पतालों में काम करने वाले 6 साल और उससे अधिक उम्र के सामान्य आबादी और स्वास्थ्य देखभाल कर्मचारियों को शामिल किया जाएगा।

इन जिलों में होगा ये सर्वे

"सीरो सर्वेक्षण के निष्कर्ष भारत में वर्तमान कोविड -19 स्थिति का पता लगाने में मदद करेंगे।"जिन 21 राज्यों में सेरो सर्वेक्षण के लिए चुनिंदा जिलों से नमूने एकत्र किए जाएंगे उनमें आंध्र प्रदेश (कृष्णा, एसपीएसआर नेल्लोर, विजयनगरम), असम (उदालगुरी, कामरूप मेट्रोपॉलिटन, करबियांगलोंग), बिहार (मुजफ्फरपुर, पूर्णिया, बेगूसराय, मधुबनी, बक्सर, अरवल) शामिल हैं। , छत्तीसगढ़ (बीजापुर, कबीरधाम, सरगुजा), गुजरात (महिसागर, नर्मदा, सबर कांथा), झारखंड (लतेहार, पाकुड़, सिमडेगा), कर्नाटक (बेंगलुरु शहरी, चित्रदुर्ग, कालाबुरागी), केरल (पलक्कड़, एर्नाकुलम, त्रिशूर), मध्य प्रदेश (देवास, उज्जैन, ग्वालियर), महाराष्ट्र (बीड, नांदेड़, परभणी, जलगाँव, अहमदनगर, सांगली), ओडिशा (रायगड़ा, गंजम, कोरापुट), पंजाब (गुरदासपुर, जालंधर), हरियाणा (कुरुक्षेत्र), राजस्थान (दौसा, जालोर, राजसमंद), तमिलनाडु (तिरुवन्नामलाई, कोयंबटूर, चेन्नई), तेलंगाना (कामारेड्डी, जंगों, नलगोंडा), और उत्तर प्रदेश (अमरोहा)।

मोदी सरकार की बदली हुई वैक्सीन नीति करेगी टीकाकरण की राह आसान, जानिए क्यों है ये बड़ा कद

क्‍यों करवाया जा रहा है सीरो सर्वे

एक सीरो सर्वेक्षण में रक्त के नमूनों का परीक्षण आईजीजी (इम्युनोग्लोबुलिन जी) एंटीबॉडी की उपस्थिति के लिए किया जाता है जो वायरस के कारण पिछले संक्रमण का निर्धारण करते हैं। सीरो सर्वेक्षण यह निर्धारित करने के लिए भी महत्वपूर्ण हैं कि बीमारी समुदाय में प्रवेश कर चुकी है या नहीं। चेन्नई ICMR का नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ एपिडेमियोलॉजी पिछले सभी सर्वेक्षणों के लिए नोडल एजेंसी रही है और संभवत: चौथे सर्वेक्षण की भी निगरानी करेगी।

https://hindi.oneindia.com/

English summary
ICMR is going to start sero survey in 70 districts, children of this age will also be included
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X