• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

हैलो टैक्सी की निदेशक डाइस मेनन गिरफ्तार, निवेशकों के 250 करोड़ लेकर हुई थी फरार

|

नई दिल्ली। मोबिलिटी ऐप हैलो टैक्सी के निदेशिका डाइस मेनन को मंगलवार को दक्षिणी गोवा में पुलिस ने निवेशकों के साथ 250 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी करने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है। टॉनी रिसोर्ट से गिरफ्तार की गई मेनन के खिलाफ जून 2019 में हैलो टैक्सी की होल्डिंग कंपनी एसएमपी इम्पेक्स प्राइवेट लिमिटेड के खिलाफ धोखाधड़ी की प्राथमिकी दर्ज की गई थी, लेकिन लगभग दो महीने बाद तलाश करने के बाद फरार मेनन को गिरफ्तार किया जा सका।

fraud

आंध्र में अब बैनर से ब्लॉक की गई पूर्व राष्ट्रपति कलाम की मूर्ति, कल टूटी थी डा.अंबेडर की प्रतिमा

900 से अधिक निवेशकों से 250 करोड़ रुपए का धोखाधड़ी का आरोप है

900 से अधिक निवेशकों से 250 करोड़ रुपए का धोखाधड़ी का आरोप है

गौरतलब है दिल्ली की एक अदालत द्वारा अपराधी करार देने के बाद से मेननन फरार चल रही थी। मेनन पर 900 से अधिक निवेशकों से 250 करोड़ रुपए का धोखाधड़ी का आरोप है, जिसने उन्हें मासिक आधार पर 200 फीसदी तक रिटर्न का वादा किया था।। पुलिस ने मेनन की वोल्वो कार को भी जब्त कर लिया है और उसे अदालत में पेश किया गया है।

निवेशकों को फंसाने के लिए स्मार्ट और चतुर व्यक्तियों को नियुक्त किया

निवेशकों को फंसाने के लिए स्मार्ट और चतुर व्यक्तियों को नियुक्त किया

निवेशकों को फंसाने के लिए कंपनी ने स्मार्ट और चतुर व्यक्तियों को नियुक्त किया। संयुक्त पुलिस आयुक्त (EOW) ओ पी मिश्रा ने बताया कि आरोपी महिला निर्देशक ने पीड़ितों को प्रभावित करने और उन्हें अपने जाल में फंसाने के लिए अपने हॉस्पिटिलिटी उद्योग की पृष्ठभूमि और सोशल स्टेट्स का इस्तेमाल किया।

बहु-स्तरीय विपणन स्कीम से जुड़ने के बाद निवेशकों को आकर्षित किया

बहु-स्तरीय विपणन स्कीम से जुड़ने के बाद निवेशकों को आकर्षित किया

मेनन को गिरफ्तार करने वाले दिल्ली पुलिस के आर्थिक अपराध शाखा (ईओडब्ल्यू) के अधिकारी ने बताया कि उसने एक बहु-स्तरीय विपणन (एमएलएम) स्कीम से जुड़ने के बाद निवेशकों को आकर्षित किया। वह आमतौर पर पांच सितारा होटलों में कार्यक्रम बैठकों और सेमिनारों का आयोजन किया करती थी

ब्याज की उच्च दरों का वादा करने के बाद कंपनी ने निवेशकों को धोखा दिया

ब्याज की उच्च दरों का वादा करने के बाद कंपनी ने निवेशकों को धोखा दिया

वर्ष 2019 में दर्ज एक पुलिस शिकायत के अनुसार कंपनी में महिला और चार सह-निदेशकों सरोज महापात्रा, राजेश महतो, सुंदर भाटी और हरीश भाटी ने ब्याज की उच्च दरों का वादा करने के बाद लोगों को धोखा दिया। चार अन्य आरोपियों में शामिल महतो को 23 अगस्त को गिरफ्तार किया गया था, जिसने शुरुआत में निवेशकों का विश्वास जीतने के लिए रिटर्न दिया, लेकिन बाद में निवेशकों द्वारा बड़ी रकम जमा करते ही भुगतान रोक को दिया गया।

कंपनी के प्रमोटरों ने निवेशकों के पैसे छीने थेः हैलो टैक्सी वरिष्ठ अधिकारी

कंपनी के प्रमोटरों ने निवेशकों के पैसे छीने थेः हैलो टैक्सी वरिष्ठ अधिकारी

जुलाई में पूर्व-सीईओ महापात्रा सहित हैलो टैक्सी के वरिष्ठ अधिकारियों ने आरोप लगाया था कि कंपनी के प्रमोटरों ने निवेशकों के पैसे छीने थे और उन्हें गलत तरीके से उन निवेशकों के क्रोध का सामना करना पड़ा, जिन्हें मालिकों द्वारा छला गया था।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Dice Menon, the director of mobility app Hello Taxi, was arrested by the police in South Goa on Tuesday for allegedly cheating investors with Rs 250 crore. A fraud FIR was registered against Menon, who was arrested from Tawi Resort, in June 2019 against SMP Impex Pvt Ltd, the holding company of Hello Taxi, but absconding Menon was arrested after a search after nearly two months.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X