• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Hardik Pandya Birthday: आर्थिक तंगी के चलते छोड़नी पड़ी थी पढ़ाई, बैट खरीदने के लिए भी नहीं थे पैसे

|

नई दिल्ली। टीम इंडिया और मुंबई इंडियंस के ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya) इन दिनों इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2020) में अपने बल्ले और गेंदबाजी से कमाल दिखा रहे हैं। आज हार्दिक पांड्या अपना 27वां जन्मदिन मना रहे हैं। हार्दिक पांड्या की ताबड़तोड़ बैटिंग के तो करोड़ों दीवाने हैं लेकिन बहुत ही कम लोग जानते हैं कि इस मुकाम तक पहुंचने के लिए उन्होंने बहुत बुरा समय भी देखा है। एक समय ऐसा था जब उनके बाद क्रिकेट प्रैक्टिस के लिए किट खरीदने के लिए भी पैसे नहीं थे।

डोमेस्टिक क्रिकेट से की शुरुआत

डोमेस्टिक क्रिकेट से की शुरुआत

आईपीएल 2015 से अपने करियर की शुरुआत करने वाले हार्दिक पांड्या आज अपने आप में बहुत बड़ा ब्रांड बन गए हैं। उनकी फिटनेस और खेल के करोड़ों प्रशंसक हैं जो इस खिलाड़ी को फॉलो करते हैं। हार्दिक पांड्या ने सिर्फ पांच सालों में ही उस कामयाबी को पाया है जिसका सपना हर खिलाड़ी देखता होगा। बड़ौदा से डोमेस्टिक क्रिकेट खेलकर टीम इंडिया के लिए मैच खेलने वाले हार्दिक पांड्या के पास कभी बैट खरीदने के लिए भी पैसे नहीं होते थे।

11 अक्टूबर, 1993 में हुआ जन्म

11 अक्टूबर, 1993 में हुआ जन्म

जैसा कि आप जानते हैं हार्दिक पांड्या के साथ उनके भाई कुणाल पांड्या (Krunal Pandya) भी स्टार प्लेयर हैं। दोनों भाई अपनी लाइफस्टाइल के लिए अक्सर सुर्खियों में रहते थे। लेकिन आज से कुछ सालों पहले ऐसा बिल्कुल नहीं था। हार्दिक पांड्या और कुणाल पांड्या ने फर्श से अर्श तक पहुंचने के लिए बहुत कड़ी मेहनत की है। हार्दिक पांड्या का जन्म 11 अक्टूबर, 1993 में गुजरात के सूरत में हुआ था। जब वह पांच साल के थे तो उनके पिता का बिजनेस चौपट हो गया।

पाई-पाई के लिए मोहताज था पांड्या परिवार

पाई-पाई के लिए मोहताज था पांड्या परिवार

वह ऐसा समय था जब पूरा परिवार पाई-पाई के लिए मोहताज हो गया था। इतना ही नहीं घर की आर्थिक स्थिति खराब होने के चलते हार्दिक पांड्या को अपनी पढ़ाई तक छोड़नी पड़ी थी। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक उन्होंने सिर्फ 9वीं कक्षा तक ही पढ़ाई की है। पैसों की तंगी होने का बावजूद भी जब उनके पिता ने दोनों भाईयों में क्रिकेट के लिए ललक देखी तो उनका एडमिशन किरण मोरे की क्रिकेट एकेडमी में करा दिया।

इरफान पठान ने दिया था बैट

इरफान पठान ने दिया था बैट

एक इंटरव्यू में हार्दिक ने बताया था कि एक टाइम पर उनके पास बैट खरीदने के लिए भी पैसे नहीं थे। उस समय अच्छा बैट 7 से 8 हजार रुपए तक आता था और यह राशि उनके परिवार की आर्थिक हालत देखते हुए बहुत बड़ी थी। उस समय तक हार्दिक के पास एक बैठ था जिसे उन्हें इरफान पठान ने दिया था। हालांकि बचपन की स्थिति से उलट आज दो पांड्या बंधु करोड़ों रुपए कमा लेते हैं।

3 करोड़ रुपए देता है बीसीसीआई

3 करोड़ रुपए देता है बीसीसीआई

चूंकि आज हार्दिक पांड्या का जन्मदिन है तो हम उनकी सालाना कमाई के बारे में आपको बताने जा रहे हैं। मालूम हो कि हार्दिक भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) की कॉन्ट्रैक्ट लिस्ट के ग्रेड बी में शामिल हैं। इस ग्रेड में शामिल खिलाड़ियों को बीसीसीआई सालाना 3 करोड़ रुपए सैलरी देता है। इसके अलावा आईपीएल 2020 में मुंबई इंडियंस ने हार्दिक को 11 करोड़ रुपए में रिटेन किया है। वहीं दूसरी तरफ इस खिलाड़ी के पास कई सारे ब्रांड है जिससे वह करोड़ों कमाते हैं।

साल 2019 में की थी इतने करोड़ की कमाई

साल 2019 में की थी इतने करोड़ की कमाई

साल 2019 में हार्दिक पांड्या को फोर्ब्स ने टॉप-100 सेलिब्रिटी में शामिल किया था। फोर्ब्स की माने तो हार्दिक पांड्या ने साल 2019 में 24.87 करोड़ रुपए की संपत्ति हासिल की थी। क्रिकेट जगत का ये चमकता सितारा आज बुलंदियों पर है। मैदान पर चौके-छक्के लगाना हो या फास्ट बॉलिंग करना हार्दिक अपनी टीम के शानदार ऑलराउंडर खिलाड़ी हैं। कई बार उनकी फिटनेस की तुलना टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली से भी की जाती ही।

जानिए, क्यों वायरल हो रही हार्दिक पांड्या की वाइफ की ये तस्वीर, यूजर्स को घुटने में ऐसा क्या दिखा

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Hardik Pandya Birthday Had to leave education due to financial constraints no money to buy bat
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X