• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

YouTube पर नहीं चलेंगे कोरोना वैक्सीन से जुड़े फेक कंटेंट, 2 लाख वीडियो को किया बैन

|

नई दिल्ली। दुनिया के सबसे बड़े वीडियो सर्च इंजन यूट्यूब (YouTube) ने कोरोना वायरस महामारी काल में वैक्सीन को लेकर गलत जानकारी देने वाले कंटेंट के खिलाफ सख्त एक्शन लेने का फैसला किया है। उल्लेखनीय है कि इस समय दुनिया कोविड-19 महामारी से जूझ रही है, सभी को कोरोना वैक्सीन का बेसब्री से इंतजार है। इस बीच सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म और यूट्यूब जैसी कई वेबसाइटों पर कोरोना वैक्सीन को लेकर भ्रांतियां भी फैलाई जा रही है। ऐसे फेक वीडियो और कंटेंट के खिलाफ अब यूट्यूब कड़ी कार्रवाई शुरू कर दी है।

वैक्सीन पर गलत जानकारी दे रहे कई यूट्यूबर

वैक्सीन पर गलत जानकारी दे रहे कई यूट्यूबर

आपको बता दें कि यूट्यूब पर रोजाना करोड़ों वीडियो अपलोड होते हैं और उससे ज्यादा देखे जाते हैं। ऐसे में कई कोरोना वायरस वैक्सीन के मुद्दे को ट्रेंडिंग में देखते हुए कई यूट्यूबर गलत और झूठी जानकारी भी दे रहे हैं। ऐसे कंटेट के खिलाफ अब यूट्यूब ने एक्शन लेना शुरू कर दिया है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक यूट्यूब अब तक अपने प्लेटफॉर्म पर COVID-19 वैक्सीन से जुड़े 2 लाख से अधिक वीडियो पर बैन लगा चुका है।

2 लाख से ज्यादा वीडियो हटाए

2 लाख से ज्यादा वीडियो हटाए

YouTube पर कई ऐसे वीडियो हैं जिनमें कोरोना वैक्सीन को लेकर गलत जानकारी दी जा रही है। ऐसे वीडियो देखने के बाद लोग भी बहकावे में आ रहे हैं और कोरोना वायरस के चलते डर बढ़ता जा रहा है। इस मामले पर यूट्यूब का कहना है कि वह अपने प्लैटफॉर्म पर ऐसे कंटेंट प्रतिबंधित करेगा जिनमें कोविड-19 वैक्सीन के बारे में गलत जानकारी है। वैक्सीन को लेकर दी जा रही गलत जानकारी वाले कंटेंट को यूट्यूब अपने प्लेटफॉर्म से हटाएगा।

वैक्सीन को लेकर दी जा रही थी गलत सूचना

वैक्सीन को लेकर दी जा रही थी गलत सूचना

कंपनी ने आगे कहा, कई वीडियो में कोरोना वैक्सीन को जानलेवा, बांझपन का कारण या लोगों में माइक्रोचिप्स लगाए जाने की बात कही गई है। ऐसे सूचनाओं को हटाने का काम किया जा रहा है। बतौर यूट्यूब, उसने गलत जानकारी फैलाने वाले 2-लाख से ज्यादा वीडियो हटाए हैं। बैन किए गए इन वीडियो में दावा किया जा रहा था कि कोरोना वैक्सीन से लोगों की मौत हो रही है, इसके अलावा टीके से महिलाओं में बांझपन की समस्या भी आ रही है।

सही जानकारी देने वाले वीडियो ही रहेंगे

सही जानकारी देने वाले वीडियो ही रहेंगे

यूट्यूब के प्रवक्ता का कहना है कि बैन किए गए वीडियो में कोरोना से जुड़ी गलत जानकारी भी दी जा रही थी, इन वीडियो में लोगों को ऐसे मामलों में डॉक्टर की सहायता लेने से रोकने और मेडिकल ट्रीटमेंट के गलत तरीके को लेकर भ्रांतियां फैलाई जा रही थीं। प्रवक्ता के मुताबिक यूट्यूब के प्लेटफॉर्म पर कोरोना वायरस से संबंधित उन्हीं वीडियो को रखा जाएगा जिसमें सही जानकारी दी गई होगी।

देश में कोरोना की स्थिति

देश में कोरोना की स्थिति

भारत में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों का आंकड़ा 73 लाख के पार पहुंच गया है, गुरुवार को स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटे में कोरोना के 67 हजार 708 नए केस सामने आए हैं, जबकि 680 लोगों को मौत हुई है। पिछले 24 घंटे में नए कोरोना केस आने के बाद देश में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 73,07,098 हो गई है, जिसमें 8,12,390 सक्रिय मामले, 63,83,442 रिकवर मामले और 1,11,266 मौतें शामिल हैं।

Good News: नवंबर के आखिर तक आ सकते हैं ऑक्सफोर्ड की वैक्सीन के फाइनल नतीजे

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Fake content related to Coronavirus vaccine will not run on YouTube 2 lakh videos banned
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X