दुनिया की सबसे पुरानी भाप से चलने वाली ट्रेन फेयरी क्विन में करें सफर, ये है खासियत

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi
    Indian Railways: Fairy Queen- World's oldest Steam loco back in action | वनइंडिया हिंदी

    नई दिल्ली। विश्व के सबसे पुराने स्टीम इंजन फेयरी क्वीन एक बार फिर से चल पड़ी है। यात्री इस खास इंजन की सवारी का आनंद उठा सकेंगे। रेलवे बोर्ड ने दिल्ली कैंट से रेवाड़ी तक इसे चलाने की मंजूरी दे दी है। इसका परिचालन अगले वर्ष अप्रैल तक प्रत्येक महीने के दूसरे व चौथे शनिवार को होगा। शनिवार से शुरू हुई इस कमर्शल ट्रिप में पैसेंजरों को दिल्ली छावनी से रेवाड़ी तक ले जाएगा और वापस लाया जाएगा। इसके लिए बाकायदा टिकट भी लगाई गई हैं।

     यात्रा के लिए करनी होगी जेब ढीली

    यात्रा के लिए करनी होगी जेब ढीली

    स्टीम इंजन ट्रेन से सफर करने के लिए यात्रियों से अच्छा खासा किराया चुकाना होगा। इस ट्रेन से एक तरफ का किराया 3240 रुपये निर्धारित किया गया है। दोनों तरफ सफर के लिए 6480 रुपये देने होंगे। इसमें रेवाड़ी स्थित हेरीटेज लोको शेड घूमने का शुल्क भी शामिल है। भारतीय रेलवे खानपान एवं पर्यटन निगम (आइआरसीटीसी) की वेबसाइट से इसका टिकट बुक किया जा सकता है।

    भाप से चलने वाला विश्व का यह सबसे पुराना इंजन

    भाप से चलने वाला विश्व का यह सबसे पुराना इंजन

    1855 में इस इंजन का निर्माण किया गया था। भाप से चलने वाला विश्व का यह सबसे पुराना इंजन माना जाता है, जो अभी भी चालू हालत में है। रेलवे सूत्रों का कहना है कि लगभग पांच साल पहले भी इस इंजन के कुछ ट्रिप चलाए गए थे। अब फिर से इसे चालू किया जा रहा है। इस इंजन के साथ दो बोगी जोड़ी जा रही हैं, जिनमें 60 यात्रियों के बैठने की व्यवस्था की गई है और हर पैसेंजर के लिए टिकट भी तय की गई हैं।

    पर्यटन को मिलेगा बढ़ावा

    पर्यटन को मिलेगा बढ़ावा

    स्टीम इंजन ट्रेन पिछले साल महीने में एक दिन चलती थी। अब इसे अक्टूबर से अगले वर्ष अप्रैल तक महीने में दो बार चलाने का फैसला किया गया है। रेलवे अधिकारियों का कहना है कि पर्यटन को ध्यान में रखते हुए इसे चलाने का फैसला किया गया है। प्रत्येक फेरे में 60 यात्री सफर कर सकेंगे। दिल्ली कैंट से यह सुबह 10.30 बजे रवाना होगी और दोपहर एक बजे रेवाड़ी पहुंचेगी। वापसी में रेवाड़ी से उसी दिन शाम सवा चार बजे चलेगी और शाम सवा छह बजे दिल्ली कैंट पहुंचेगी।

     कई बॉलीवुड फिल्मों की शान बन चुकी है फेयरी क्वीन

    कई बॉलीवुड फिल्मों की शान बन चुकी है फेयरी क्वीन

    वर्ष 1855 में बने भाप के इस ईंजन का नाम वर्ल्ड बुक आफ रिकार्ड में भी दर्ज हो चुका है। फेयरी क्वीन 30 से 50 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से चलती है।फेयरी क्वीन के ईंजन में पानी के टैंक की क्षमता मात्र तीन हजार लीटर है और दिल्ली से रेवाड़ी तक सफर करने में इसे दो बार भरना पड़ता है।फेयरी क्वीन कई बॉलीवुड फिल्मों की शान बन चुकी है।

    गौरी लंकेश मर्डर: पुलिस के हाथ खाली, तीन आरोपियों के स्केच और वीडियो जारी

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Fairy Queen - world's oldest steam loco back in action from today

    Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
    पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.