• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

Auto Fare Hike : दिल्ली में सफर महंगा, 20 फीसदी तक बढ़ेगा ऑटो और टैक्सी किराया

दिल्ली में ऑटो का बेस फेयर 20% बढ़ सकता है। यात्रियों को एसी टैक्सियों में 20 रुपये और नॉन-एसी में 17 रुपये का भुगतान करना होगा। फिलहाल, प्रत्येक बाद के किलोमीटर के लिए एसी में 16 रुपये और नॉन एसी में 14 रुपये लगते हैं।
Google Oneindia News

नई दिल्ली, 02 जुलाई : ऑटोरिक्शा, काली और पीली टैक्सियों में यात्रा करना महंगा (delhi auto fare) होने वाला है। अप्रैल में दिल्ली के ऑटो रिक्शा और टैक्सी के किराए की समीक्षा के लिए गठित किराया संशोधन समिति की सिफारिशों के आधार पर, दिल्ली सरकार के परिवहन विभाग ने टैक्सी किराया बढ़ाने (delhi taxi fare increase) को स्वीकृति दे दी है। खबरों के मुताबिक सरकार ने एक प्रस्ताव को अंतिम रूप दिया है, जिसे जल्द ही कैबिनेट के समक्ष रखे जाने की संभावना है। ऐसे में यात्रियों को अब सीएनजी ऑटो रिक्शा और टैक्सी में सफर करने पर जेब अधिक ढीली करनी पड़ेगी। संभावना है कि दो से तीन हफ्ते में नया किराया लागू हो जाएगा।

Recommended Video

Delhi Taxi Fare Hike: ऑटो, टैक्सी का बढ़ेगा किराया, करनी होगी जेब ढ़ीली | वनइंडिया हिंदी | *News
लगभग डेढ़ लाख लोगों को फायदा

लगभग डेढ़ लाख लोगों को फायदा

वर्तमान में, दिल्ली में करीब 97,000 ऑटो हैं चलते हैं। इनमें नए पंजीकृत ई-ऑटो भी शामिल हैं। ऑटो रिक्शा के अलावा दिल्ली में 12,000 पीली-काली टैक्सियां और 50,000 इकोनॉमी रेडियो टैक्सियां संचालित होती हैं। किराया बढ़ने पर सभी श्रेणियों को लाभ होने की उम्मीद है।

ऐसे बढ़ेगा किराया

ऐसे बढ़ेगा किराया

अधिकारियों ने कहा कि समिति ने काली और पीली टैक्सियों के मूल किराए में 60% की बढ़ोतरी की सिफारिश की थी। इसके मुताबिक टैक्सी में यात्रा के पहले 1.5 किमी के लिए 25 रुपये से 40 रुपये तक चुकाने होंगे। ऑटोरिक्शा में सफर करने पर 20 % किराया बढ़ेगा। पहले 1.5 किलोमीटर के लिए 25 रुपये से 30 रुपये तक चार्ज किए जाएंगे।

एसी और नॉन एसी का भाड़ा

एसी और नॉन एसी का भाड़ा

1.5 किलोमीटर के बाद जितने किलोमीटर का सफर होगा, इसके लिए यात्रियों को वातानुकूलित टैक्सियों में 20 रुपये और गैर-एसी में 17 रुपये प्रति किलोमीटर की दर से भुगतान करना होगा। मौजूदा दर 16 रुपये (एसी टैक्सी) और 14 रुपये (नॉन-एसी टैक्सी) है।

रात में यात्रा और महंगी

रात में यात्रा और महंगी

ऑटो रिक्शा में यात्रा करने वालों को पहले 1.5 किलोमीटर के सफर के बाद आगे के प्रत्येक किलोमीटर के लिए 9.5 रुपये के बजाय 11 रुपये का भुगतान करना होगा। वेटिंग और लगेज चार्ज वही रहेगा। रात में यात्रा करने के लिए नाइट चार्ज दिन के किराए से 25 फीसदी अधिक रहेगा।

नया किराया दो से तीन सप्ताह में लागू !

नया किराया दो से तीन सप्ताह में लागू !

किराया बढ़ाने के संबंध में दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने पुष्टि की कि विभाग ने किराया संशोधन प्रस्ताव को अंतिम रूप दे दिया है। उन्होंने कहा, 'हम जल्द ही इस प्रस्ताव को कैबिनेट के सामने लाएंगे।' एक बार कैबिनेट और लेफ्टिनेंट गवर्नर वीके सक्सेना द्वारा अनुमोदित होने के बाद, नए किराए को अधिसूचित किया जाएगा। परिवहन विभाग के अधिकारियों ने कहा कि नया किराया दो से तीन सप्ताह में लागू हो सकता है।

ईंधन की कीमतों में उछाल, किराया संशोधन की मांग

ईंधन की कीमतों में उछाल, किराया संशोधन की मांग

गौरतलब है कि अप्रैल में ईंधन की बढ़ती कीमतों के खिलाफ कैब और ऑटोरिक्शा यूनियनों के विरोध और हड़ताल के बाद सरकार ने किराया संशोधन समिति का गठन किया था। कई ऑटोरिक्शा और टैक्सी यूनियनों ने दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत से मुलाकात की थी। सरकार से सीएनजी कीमतों पर सब्सिडी के अलावा संशोधन या किराए की मांग की गई थी।

उबर कैब का किराया भी बढ़ा

उबर कैब का किराया भी बढ़ा

इसके अलावा अप्रैल में ही, ऐप-आधारित कैब एग्रीगेटर उबर ने ईंधन की कीमतों में वृद्धि के विरोध के मद्देनजर यात्रा किराए में 12% की वृद्धि की थी। वृद्धि यात्रा के मूल किराए पर की गई, लेकिन उबर टैक्सी सर्विसेज (uber taxi services) बढ़ी हुई मांग के कारण मूल्य वृद्धि (demand increase price surge) से नहीं जोड़ा गया था।

तीन साल पहले संशोधित हुआ किराया

तीन साल पहले संशोधित हुआ किराया

किराया संशोधन पैनल की अध्यक्षता विशेष आयुक्त (राज्य परिवहन प्राधिकरण) ने की थी। इसमें परिवहन विभाग के वरिष्ठ अधिकारी, एक तकनीकी विशेषज्ञ और नागरिक समाज के सदस्य शामिल थे। समिति मोटर वाहन अधिनियम, 1988 की धारा 67 (1) के तहत गठित की गई। बता दें कि पिछली बार दिल्ली में ऑटोरिक्शा के किराए को जून 2019 में संशोधित किया गया था।

ये भी पढ़ें- ओला और उबर की सर्विस पर सवाल! 13 महीने में क्यों आईं 3000 शिकायतें? अब सरकार ने मांगा जवाबये भी पढ़ें- ओला और उबर की सर्विस पर सवाल! 13 महीने में क्यों आईं 3000 शिकायतें? अब सरकार ने मांगा जवाब

Comments
English summary
Travelling in autorickshaws and black-and-yellow taxis in Delhi to become costlier. 20 percent hike in base fare.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X