• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

दिल्ली हिंसा पर बोले चिदंबरम- असंवेदनशील लोगों को सत्ता सौंपने की कीमत चुका रहे लोग

|

नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली के कई हिस्सों में भड़की हिंसा पर कांग्रेस सांसद पी चिदंबरम ने कहा है कि आम लोगों को अदूरदर्शी और असंवेदनशील लोगों को सत्ता सौपने की कीमत चुकानी पड़ रही है। चिदंबरम ने मंगलवार को कई ट्वीट कर केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधा है। नागरिकता कानून के खिलाफ और समर्थन में लोगों के आमने-सामने आने के बाद उत्तर-पूर्वी दिल्ली में रविवार से हिंसा जारी है। रविवार से शुरू हुई हिंसक घटनाओं में अब तक सात लोगों की जान चली गई है।

 putting insensitive leaders in power

पी चिदंबरम ने मंगलवार को कहा, सरकार में ना तो संवेदनशीलता है और ना ही दूरदर्शिता। भारत में नागरिकता कानून 1955 लागू था और उसमें किसी संशोधन की जरूरत नहीं पड़ी थी तो कानून में अब संशोधन की जरूरत क्यों पड़ी? कांग्रेस ने सीएए को लेकर आगाह किया था कि ये विभाजनकारी कानून साबित होगा, ऐसे में इसे आप ना लेकर आएं। सरकार ने हम लोगों की बातों को अनसुना कर दिया। सरकार अब भी अगर जागे तो देर नहीं हुई है। उच्चतम न्यायालय का फैसला आने तक सीएए पर रोक लगाए और इसका विरोध कर रहे लोगों से बातचीत करे।

पूर् केंद्रीय मंत्री चिदंबरम ने कहा, सोमवार को दिल्ली में जिस तरह से हिंसा हुई और जानमाल का नुकसान हुआ, उससे स्तब्ध हूं। किसी भी तरह की हिंसा की कड़ी निंदा होनी चाहिए। चिदंबरम सीएए, एनआरसी और एनपीआर को लेकर लगातार केंद्र सरकार पर हमलावर हैं। एक दिन पहले उन्होंने पीएम मोदी पर तंज करते हुए कहा था वो देश आए अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंपसे पूछें कि क्या असम से 19 लाख लोगों को प्रत्यर्पित करना संभव है। किस देश ने 19 लाख लोगों को प्रत्यर्पित किया है? यदि नरेंद्र मोदी को कोई शक है तो वह ट्रम्प से सवाल पूछ सकते हैं और वह जवाब देंगे

 putting insensitive leaders in power

बता दें कि बीते दो दिन से उत्तर पूर्वी दिल्ली में हिंसक घटनाएं हो रही हैं। सीएए के खिलाफ और समर्थन में लोगों के आमने-सामने आने के बाद बाबरपुर, मौजपुर, करावलनगर, चांदबाग, जाफरबाद, गोकुलपुरी में हिंसा हुई है। हिंसा में अब तक सात लोगों की मौत हो चुकी है। हिंसा में जान गंवाने वाले सात लोगों में दिल्ली पुलिस के हेड कांस्टेबल रतनलाल भी शामिल हैं। कम से कम 50 अन्य लोग घायल हुए हैं। कई इलाकों में हालात लगातार तनावपूर्ण बने हुए हैं।

पढ़ें- दिल्ली: भाजपा नेता कपिल मिश्रा के खिलाफ हिंसा भड़काने के मामले में शिकायत दर्ज

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
delh p Chidambaram on violence over CAA People paying price putting insensitive leaders in power
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X