• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

कई बैंकों के क्रेडिट कार्ड के जाल में फंसा युवक, बच्ची को बांहों में लेकर लगा दी छलांग, पत्नी भी कूद पड़ी

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली। एक प्राइवेट कंपनी में नौकरी करने वाला शख्स क्रेडिट कार्ड की बकाया रकम नहीं चुका पा रहा था और इससे तंग आकर उसने अपनी पत्नी और बच्ची के साथ चार मंजिला इमारत से छलांग लगा दी। इस दौरान उस शख्स की मौके पर ही मौत हो गई जबकि पत्नी और बच्ची बुरी तरह जख्मी हो गईं, जिनका इलाज दिल्ली के जीटीबी अस्पताल में चल रहा है।

8 लाख रु के कर्ज में था युवक

8 लाख रु के कर्ज में था युवक

ये दिल दहलाने वाले मामला ईस्ट दिल्ली के जगतपुरी इलाके का है। क्रेड‍िट कार्ड वालों के फोन से परेशान होकर पति-पत्नी ने 5 साल की बेटी के साथ चौथी मंज‍िल से कूदकर आत्महत्या की कोश‍िश की। इस दौरान सुरेश (34) की मौके पर ही मौत हो गई जबकि पत्नी मंजीत कौर और बेटी तान्या को गंभीर हालत में नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इस घटना से इलाके में सनसनी फैल गई है। पुलिस ने इस मामले में आत्महत्या की कोशिश का केस दर्ज कर लिया है।

ये भी पढ़ें:अब साक्षी का यूटर्न, इंस्टा से हटाई पति अजितेश के साथ डीपीये भी पढ़ें:अब साक्षी का यूटर्न, इंस्टा से हटाई पति अजितेश के साथ डीपी

चार मंजिला इमारत से बेटी को बांंहों में लेकर लगा दी छलांग

चार मंजिला इमारत से बेटी को बांंहों में लेकर लगा दी छलांग

डीसीपी मेघना यादव ने कहा कि क्रेडिट कार्ड के बकाए को लेकर सुरेश तनाव में था। चार मंजिला इमारत के ग्राउंड फ्लोर पर उनका परिवार रहता था और युवक गुरुग्राम की एक प्राइवेट कंपनी में नौकरी करता था। जबकि अस्पताल में होश में आने के बाद पत्नी ने पुलिस को बयान दिया, 'सुरेश ने कई बैंकों का क्रेडिट कार्ड ले रखा था और 8 लाख रु बकाया था। इसलिए बैंक के कर्मचारी दिन में कई-कई बार फोन करते थे, इसको लेकर सुरेश बहुत थे।'

स्कूटर की सीट पर गिरने से बची बच्ची, अस्पताल में हो रहा इलाज

स्कूटर की सीट पर गिरने से बची बच्ची, अस्पताल में हो रहा इलाज

परिवार और दोस्तों-रिश्तेदारों से मदद ना मिल पाने पर इन्होंने आत्महत्या करने की सोची। मंजीत कौर का कहना है, 'मेरे पति कहते थे कि रोज-रोज की टेंशन से बेहतर है मर जाना।' इन्होंने सोमवार को सुबह करीब 3.30 बजे चार मंजिला इमारत से छलांग लगा दी थी। पत्नी ने कहा, 'मेरे पति बच्ची को अपनी बांहों में लेकर कूद गए और उसके बाद मैंने भी छलांग लगा दी।' तेज आवाज सुनकर आसपास के लोग बाहर निकल आए, उन्होंने देखा कि तीनों खून से लथपथ पड़े थे। बच्ची नीचे खड़े स्कूटर की सीट पर गिरी थी इस वजह से वह बच गई। लेकिन सुरेश की मौके पर ही मौत हो गई।

Comments
English summary
debt-ridden man jumped from the terrace of four storeyed building with family, died
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X