53 साल की विधवा मां का अकेलापन नहीं देख सकी बेटी, ऑनलाइन दूल्‍हा ढूंढ़ करा दी दूसरी शादी

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi
Japiur में Daughter ने कराई Widow Mother की शादी । वनइंडिया हिंदी

जयपुर। जैसे-जैसे समय बदल रहा है पुरानी सोच बदल रही है। नई सोच और नई ऊर्जा के साथ परंपरा के सांचे टूट रहे हैं। इसी बात को सच साबित करते हुए एक बेटी ने समाज और परिवार के विरोध से उपर उठकर अपनी विधवा मां की शादी करवाई है। मामला राजस्‍थान के जयपुर का है। जानकारी के मुताबिक जयपुर के एक स्कूल में पढ़ाने वाली गीता के पति मुकेश गुप्ता की 2016 में हार्ट अटैक से मौत हो गई। वह अपने पति की मौत का गम सहन नहीं कर सकीं और सदमे में चली गईं। इसी दौरान गीता की बेटी संहिता काम के सिलसिले में गुड़गांव आ गई। घर पर गीता अकेली थीं और अकेलेपन के चलते धीरे-धीरे वे डिप्रेशन में चली गईं।

संहिता ने मेट्रोमोनियल साइट पर बनाया मां का प्रोफाइल

संहिता ने मेट्रोमोनियल साइट पर बनाया मां का प्रोफाइल

मां को डिप्रेशन में जाता देख संहिता ने फैसला किया वो मां का अकेलापन समाप्‍त करेंगी। संहिता के मुताबिक "हर किसी को अपनी जिंदगी में एक पार्टनर की जरुरत होती हैं जिससे वह अपनी सारी बातें शेयर कर सके। मैंने अपनी मां को बिना बताए उनकी प्रोफाइल मैटरिमोनियल साइट पर अपडेट कर दी।" कुछ महीने बाद जब संहिता अपने घर गयी तो उन्होंने अपनी मां से बताया तो वो हैरान रह गईं। इन बातों पर संहिता की बड़ी बहन भी इसके खिलाफ हो गई। लेकिन धीरे-धीरे बात बनी और सब साथ हो गए।

कैसे आया रिश्‍ता

कैसे आया रिश्‍ता

बीते साल अक्टूबर में बांसवाड़ा से 55 वर्षीय केजी गुप्ता ने संहिता से संपर्क किया और शादी की इच्छा जताई। राजस्व इंस्पेक्टर के पद पर तैनात केजी गुप्ता की पत्नी का निधन कैंसर के चलते 2010 में हो गया था। गुप्ता ने बताया कि अकेलापन दूर करने के लिए पहले तो उन्होंने खुद को बैडमिंटन में व्यस्त रखने की कोशिश की थी। लेकिन अब स्वास्थ्य की भी समस्याएं पैदा होने लगी हैं। एक साथी ने उन्हें फिर से शादी करने की सलाह दी और मैट्रिमोनियल साइट पर एक प्रोफाइल तैयार कर दिया. गुप्ता के दो बेटे भी हैं।

शादी से पहले संहिता ने पूरी तरह की छानबीन

शादी से पहले संहिता ने पूरी तरह की छानबीन

संहिता से जब केजी गुप्ता ने संपर्क किया तो पूरी छानबीन करने के बाद उसने पाया कि यही उनकी मां के लिए सही मैच हो सकता है। नवंबर में गीता का एक ऑपरेशन हुआ था, इस दौरान केजी गुप्ता उन्हें देखने के लिए जयपुर आए और गीता को शादी के तैयार किया। अंत में 31 दिसंबर को दोनों की शादी हो गई। संहिता ने इस शादी पर कहा, 'वह अपनी मां के चेहरे पर मुस्कान देखकर बहुत खुश है। वह फिर से खूबसूरत दिखने लगीं हैं।'

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
In a sign of the changing times, a young woman has got her widowed mother married despite opposition from society and family.
Please Wait while comments are loading...

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.