• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

शाहीन बाग के प्रदर्शनकारी बोले-Coronavirus से बचने के मास्‍क और सैनिटाइजर दे सरकार

|

नई दिल्‍ली। पूरे देश में कोरोना वायरस महामारी के प्रकोप को देखते हुए नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) का प्रदर्शन कर रहे शाहीन बाग के प्रदर्शनकारियों ने सरकार से मास्‍क और सैनिटाइजर्स की मांग की है। ये प्रदर्शनकारी सीएए के खिलाफ 15 दिसंबर 2019 से प्रदर्शन कर रहे हैं। प्रदर्शनकारियों ने सरकार से मांग की है कि प्रदर्शनस्‍थल पर स्‍क्रीनिंग की व्‍यवस्‍था की जाए। अब तक देश में कोरोना वायरस के 80 से ज्‍यादा मामले सामने आए हैं और दो लोगों की मौत हो चुकी है।

यह भी पढ़ें-क्‍या गर्मी बढ़ने पर खत्‍म हो जाएगा Coronavirus?

    CoronaVirus : Shaheen Bagh में CAA के खिलाफ Protest जारी, Protestors ने की ये मांग | वनइंडिया हिंदी
    प्रेस कॉन्‍फ्रेंस कर सकते हैं प्रदर्शनकारी

    प्रेस कॉन्‍फ्रेंस कर सकते हैं प्रदर्शनकारी

    कहा जा रहा है कि प्रदर्शनकारी जल्‍द ही दिल्‍ली दंगे पर एक प्रेस कॉन्‍फ्रेंस करने वाले हैं। इसी कॉन्‍फ्रेंस में वह कोविड-19 पर भी अपनी बात करेंगे। प्रदर्शनकारियों ने मांग की है कि वायरस से बचने के लिए उन्‍हें मास्‍क और सैनिटाइजर उपलब्‍ध कराया जाए। शाहीन बाग में इस समय सैंकड़ों प्रदर्शनकारी बैठे हैं जिसमें सबसे ज्‍यादा संख्‍या महिलाओं की है। पिछले तीन माह से ये सभी लोग सीएए और नेशनल रजिस्‍टर ऑफ सिटीजंस (एनआरसी) का विरोध कर रहे हैं। कुछ रिपोर्ट्स में हालांकि यह दावा भी किया गया है कि पिछले कुछ समय में यहां पर प्रदर्शनकारियों की संख्‍या में कुछ गिरावट भी आई है।

    12 दिसंबर से जारी प्रदर्शन

    12 दिसंबर से जारी प्रदर्शन

    12 दिसंबर को जब मोदी सरकार ने सीएए को मंजूरी दी थी, उस समय ही देशभर में विरोध प्रदर्शनों का सिलसिला शुरू हो गया था। इस एक्‍ट के तहत सरकार पाकिस्‍तान, बांग्‍लादेश, और अफगानिस्‍तान से आने वाले उन हिंदु, जैन, पारसी, क्रिश्चियन और बौद्ध धर्म के अनुयायियों को नागरिकता देगी जिन्‍हें अपने देश में अल्‍पसंख्‍यक होने की वजह से अत्‍याचार झेलने को मजबूर होना पड़ा। 31 दिसंबर 2014 से पहले भारत में आए लोगों को सरकार की तरफ से नागरिकता का प्रावधान किया गया है।

    सरकार ने कहा भीड़भाड़ वाले इलाकों से दूर रहें

    सरकार ने कहा भीड़भाड़ वाले इलाकों से दूर रहें

    कोरोना वायरस के मद्देनजर केंद्र और राज्‍य सरकार की तरफ से लोगों को सलाह दी गई है कि वे सार्वजनिक स्‍थलों और भीड़भाड़ वाले इलाकों से दूर रहे। सरकार की तरफ से हेल्‍पलाइन नंबर 011-23978046 मदद के लिए जारी किया गया है। इसके अलावा एक ई-मेल एड्रेस भी दिया गया है। COVID-19 से जुड़े सवालों के जवाबों के लिए लोग ncov2019@gmail.com मेल भेज सकते हैं।

    अमित शाह ने लगाया भड़काने का आरोप

    अमित शाह ने लगाया भड़काने का आरोप

    12 मार्च को केंद्रीय मंत्री अमित शाह ने संसद में कहा था कि सीएए को लेकर गलत तथ्‍य लोगों के बीच पेश किए जा रहे हैं। उन्‍होंने कांग्रेस की अंतरिम अध्‍यक्षा सोनिया गांधी पर हेट स्‍पीच का आरोप लगाया था। शाह ने कहा था कि उनकी हेट स्‍पीच ने शाहीन बाग के प्रदशर्नकारियों को भड़काने का काम किया है।

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Corounavirus: Protestors at Shaheen Bagh asked govt to provide masks and sanitizers.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X