• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Corona Virus: 100 से अधिक लोगों पर रखी जा रही निगरानी, एक्शन में PMO

|

नई दिल्ली। चीन का जानलेवा कोरोना वायरल भारत के लिए नई मुसीबत बन गया है। चीन से आने वाले लोगों की एयरपोर्ट पर पुख्ता जांच की जा रही है, ताकि इसके खतरे को भारत में फैलने से रोका जा सके। केरल और महाराष्ट्र में 100 से अधिक लोगों को निगरानी में रखा गया है। ये वो लोग हैं जिन्हें संभावित कोरोना वायरस से संक्रमित की लिस्ट में रखा गया है और उनकी निगरानी की जा रही है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन ने कहा कि अभी तक कोरोना वायरस का एक भी सकारात्मक केस भारत में नहीं पाया गया है। हालांकि सात यात्रियों के सैंपल लिए गए हैं और उसे आईसीएमआर-एनआईवी लैब में रखा गया है।

virus

अभी तक एक भी मरीज नहीं पाया गया

इससे पहले इस लैब में चार और सैंपल की जांच की गई थी और उनके भीतर कोरोना वायरस नहीं पाया गया था। केरल एक वरिष्ठ स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि प्रदेश में 172 लोगों पर उनके घर में निगरानी रखी जा रही है, जबकि 7 लोगों पर अस्पताल में निगरानी रखी जा रही है। उन्होंने बताया कि आज 99 नए यात्री प्रदेश में पहुंचे हैं। इसके बाद कुल यात्रियों की संख्या 179 पहुंच चुकी है, जिनपर निगरानी रखी जा रही है। सिर्फ सात लोगों के भीतर कोरोना से मिलते जुलते लक्षण पाए गए हैं। हमने इनके सैंपल को टेस्ट के लिए नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वीरोलोजी भेजा है।

केरल और महाराष्ट्र में लोग भर्ती

जिन लोगों पर निगरानी रखी जा रही है, जिसमे थ्रिसूर, तिरुवनंतपुरम, पथनमित्ता, मलप्पुरम से कुल चार लोग हैं, जबकि तीन लोग एर्नाकुलम से हैं। वहीं महाराष्ट्र में तीन में से दो लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया, जिनके भीतर संभावित कोरोना वायरस के लक्षण दिखे हैं। हालांकि अभी तक इस बात की पुष्टि नहीं हुई है। इन लोगों के सैंपल की रिपोर्ट अभी नहीं आई है। प्रधानमंत्री के मुख्य सचिव पीके मिश्रा ने इस बाबत दिल्ली में एक बैठक की। बैठक तमाम स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी शामिल हुए और उन्होंने इस वायरस को लेकर क्या सावधानी बरती जा रही है, इस बाबत जानकारी दी।

एक्शन में पीएमओ

जानकारी के अनुसार यह बैठक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निर्देश पर हुई है। इसमे कैबिनेट सेक्रेटरी, होम सेक्रेटरी, फॉरेन सेक्रेटरी, डिफेंस सेक्रेटरी, हेल्थ सेक्रेटरी, सिविल एविएशन सेक्रेटरी और अन्य विभागों के शीर्ष अधिकारी शामिल हुए। सूत्रों की मानें तो स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने पीके मिश्रा को कोरोना वायरस को लेकर अस्पतालों व लैब की तैयारी की जानकारी दी। इसके अलावा पीके मिश्रा ने इस बाबत अन्य मंत्रालयों द्वारा क्या सावधानी बरती जा रही है इसकी भी जानकारी ली। इस बीच नेशनल सेंटर फॉर डिजीस कंट्रोल ने 24*7 हेल्पलाइन नंबर कॉल सेंटर का गठन किया है, जिसका नंबर +91-11-23978046 है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Corona virus: Almost 100 people kept under observation PMO in action.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X