• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Lok Sabha Elections 2019: बीजेपी को रोकने के लिए झारखंड में भी महागठबंधन, जानिए किस सीट पर कौन सी पार्टी लड़ेगी

|

नई दिल्‍ली। लोकसभा चुनाव में अब कुछ ही समय बचा है। ऐसे में हर राजनीति दल अपनी-अपनी जीत की संभावनाएं तलाशने में जुटे हैं। कांग्रेस हो या बीजेपी हर कोई अपने कुनबे का विस्‍तार करने में लगा है। क्षेत्रीय दलों को साथ लाने की हर संभव कोशिश हो रही है। ऐसे में गठबंधन की राजनीति का नया चेहरा झारखंड में बना है। यहां कांग्रेस और झारखंड मुक्ति मोर्चा (जेएमएम) ने लोकसभा एवं विधानसभा चुनाव साथ मिलकर लड़ने का फैसला किया है। जानकारी के मुताबिक लोकसभा को लेकर सीटों का बंटवारा भी हो चुका है। कांग्रेस-7, झामुमो-4, झाविमो-2 और राजद-1 लोकसभा सीटों पर चुनाव लड़ेगी। कांग्रेस और झारखंड मुक्ति मोर्चा के बीच लिखित समझौता हुआ है।

Lok Sabha Elections 2019: बीजेपी को रोकने के लिए झारखंड में भी महागठबंधन, जानिए किस सीट पर कौन सी पार्टी लड़ेगी

लोकसभा में महागठबंधन कांग्रेस के नेतृत्व में जबकि विधानसभा चुनाव झामुमो के नेतृत्व में लड़ा जाएगा। लिखित समझौते के मुताबिक, लोकसभा में कांग्रेस जबकि विधानसभा में झामुमो अधिक सीटों पर चुनाव लड़ा जाएगा। 14 लोकसभा सीटों में से राजमहल, दुमका और गिरिडीह से झामुमो जबकि कांग्रेस लोहरदगा, खूंटी, रांची, धनबाद और जमशेदपुर से प्रत्याशी उतारेगी। अन्य सीटों में कौन कहां से लड़ेगा, इसपर विचार-विमर्श चल रहा है। सीटों के बंटवारे को लेकर बुधवार को दिल्ली में बैठक हुई थी।

झारखंड मुक्ति मोर्चा, झारखंड विकास मोर्चा और कांग्रेस के नेता खासे सक्रिय रहे। झारखंड मुक्ति मोर्चा के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन अपने विश्वस्त नेताओं के साथ मौजूद रहे, वहीं झारखंड विकास मोर्चा की कमान पार्टी के प्रधान महासचिव प्रदीप यादव और बंधु तिर्की ने संभाली। कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष डा. अजय कुमार, प्रदेश कांग्रेस प्रभारी आरपीएन सिंह और सह प्रभारी उमंग सिंघार के साथ इन नेताओं की कई दौर की वार्ता हुई। बताते हैं कि कांग्रेस ने झारखंड विकास मोर्चा के प्रधान महासचिव प्रदीप यादव को पार्टी में शामिल होने का ऑफर दिया है। झारखंड विकास मोर्चा गोड्डा सीट पर उन्हें चुनाव लड़ाना चाहता है, लेकिन कांग्रेस इस सीट पर दावेदारी नहीं छोड़ना चाहती। बीच का रास्ता निकालने के लिए कांग्रेस ने उन्हें आफर किया है कि वे पार्टी में शामिल होकर चुनाव लड़ें। हालांकि इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं हो पाई है।

किसके हिस्से में कौन सीट

कांग्रेस - रांची, लोहरदगा, खूंटी, धनबाद, गोड्डा, हजारीबाग, जमशेदपुर

झामुमो - दुमका, गिरिडीह, राजमहल, सिंहभूम

झाविमो - कोडरमा, पलामू

राजद - चतरा

आपको बता दें कि 2009 के लोकसभा चुनाव में भाजपा को 8 सीटें मिली थीं लेकिन पिछले लोकसभा चुनाव में उसके प्रदर्शन में काफी सुधार हुआ और वह 40.10 प्रतिशत वोट शेयर के साथ 14 में से 12 सीटें जीतने में कामयाब हुई। पिछले लोकसभा चुनाव में कांग्रेस, जेवीएम और जेएमएम को 34.7 प्रतिशत वोट मिले जो कि भाजपा से 5.4 फीसद कम रहा। कांग्रेस इस बार क्षेत्रीय दलों को साथ लेकर भगवा पार्टी को पीछे धकेलने का पूरी कोशिश कर रही है। झारखंड में हुए इस साल 3 उपचुनावों में 2 पर जेएमएम और 1 पर कांग्रेस को जीत मिली। 2014 के बाद हुए 7 उपचुनावों में भाजपा केवल 1 सीट जीत पाई और उसे 6 सीटों पर हार का सामना करना पड़ा।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
The Congress and JMM have finally reached a seat-sharing deal for the Lok Sabha polls in Jharkhand, but JVM is unhappy with the two seats it has been given with party chief Babulal Marandi even threatening to pull out of the pre-election alliance.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X