रोहिंग्या मुसलमानों का समर्थन करने पर बीजेपी ने महिला नेता को निकाला, आलाकमान से करेंगी शिकायत

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। असम में एक बीजेपी महिला नेता को रोहिंग्या मुसलमानों का समर्थन करना महंगा पड़ गया। असम बीजेपी प्रदेश कार्यकारिणी ने उस महिला को पार्टी से निकाल दिया है। महिला का कहना है कि उसको छोटे मुद्दे को लेकर बलि का बकरा बनाया गया है।

असम में रोहिंग्या मुसलमानों का समर्थन करना पड़ा महंगा बीजेपी ने महिला नेता को पार्टी से निकाला बेनजीर के मुताबिक लोकल लेवल के कुछ भाजपा नेताओं को उनकी कार्यशैली पसंद नहीं आ रही थी इसलिए उन्हें इस छोटे से मुद्दे को लेकर बलि का बकरा बनाया गया है।

2012 से बीजेपी के साथ जुड़ी बेनजीर का कहना है कि गुरुवार को भाजपा प्रदेश अध्यक्ष रंजीत कुमार दास ने उन्हें पार्टी से निष्कासित करते हुए व्हाट्सएप पर सस्पेंसन लेटर भेजा। बेनजीर का कहना है कि इस तरह से पार्टी से निकालना मेरी बेइज्जती करना है, इस मुद्दे पर मैं पार्टी हाईकमान से शिकायत करूंगी।

Sushma Swaraj calls Sheikh Hasina, says India supports Bangladesh's stance on Rohingya issue

बेनजीर अरफां का कहना है कि उन्होंने रोहिंग्या मुसलमानों के समर्थन में एक मीटिंग में हिस्सा लिया था जिसके चलते उन्हें पार्टी से बाहर कर दिया गया। रोहिंग्या मुसलमानों के समर्थन में इस मीटिंग का आयोजन यूनाइटेड माइनॉरिटी पिपुल्स फोरम द्वारा किया गया था।बेनजीर अरफां ने कहा कि जो सस्पेंसन लेटर उन्हें मिला है उसमें लिखा गया है- किसी दूसरी संस्था द्वारा आयोजित कार्यक्रम जो कि रोहिंग्या मुसलमानों के समर्थन के लिए था उसमें आपने बिना पार्टी की मर्जी से हिस्सा लेकर पार्टी के नियमों को तोड़ा है जिस कारण आपको तत्काल प्रभाव से पार्टी से बर्खास्त किया जाता है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
bjp suspended women leader for supporting rohingya refugees
Please Wait while comments are loading...