• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

जोमैटो द्वारा गैर हिंदू से खाना लेने से इनकार करने वाले अमित शुक्ला के बारे में बड़ा खुलासा

|

नई दिल्ली। जोमैटो से खाना मंगाने के बाद गैर हिंदू द्वारा उसे लेने से इनकार करने वाले अमित शुक्ला लगातार सुर्खियों में बने हैं। अब उन्हें पुलिस की ओर से नोटिस जारी किया गया है। साथ ही अमित के पुराने रिकॉर्ड को भी खंगाला जा रहा है। पुराने रिकॉर्ड में अमित के बारे में चौंकाने वाली बात सामने आई है। पूर्व में ऑर्डर किए गए खाने की जानकारी जब इकट्ठा की गई तो पता चला है कि अमित ने पहले भी मांसाहारी खाना मंगाया है और उसने गैर हिंदू डिलिवरी ब्वॉय से खाना रिसीव भी किया है।

ऑर्डर कैंसल करने से इनकार

ऑर्डर कैंसल करने से इनकार

बता दें कि मध्य प्रदेश के जबलपुर के रहने वाले अमित शुक्ला ने ऑनलाइन ऐप जोमैटो से खाना ऑर्डर किया था, वह चाहते थे कि सावन के महीने में जो भी डिलिवरी मैन उन्हें खाना देने आए वह मुसलमान ना हो, लिहाजा उन्होंने जोमैटे से दूसरा डिलिवरी मैन भेजने के लिए कहा और मुस्लिम डिलिवरी मैन से खाना लेने से इनकार कर दिया। जिसके बाद जोमैटो ने अमित के ऑर्डर को कैंसल कर दिया। यही नहीं जोमैटो ने अमित को ट्वीट करके धर्म का पाठ भी पढ़ा दिया, जिसके बाद से यह मामला लगातार सुर्खियों में है।

रिकॉर्ड में सामने आई बड़ी बात

रिकॉर्ड में सामने आई बड़ी बात

जबलपुर पुलिस अधीक्षक अमित सिंह ने बताया कि हमने अमित को नोटिस जारी किया है। इस नोटिस के जरिए उन्हें चेतावनी दी जाएगी कि अगर भविष्य में वह इस तरह की हरकत करते हैं तो उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी, साथ ही उनपर हम नजर रख रहे हैं। अमित सिंह ने कहा कि जोमैटो का रिकॉर्ड खंगाला जा रहा है, जिसमे पता चला है कि अमित ने पूर्व में जोमैटो से मांसाहारी हैदराबादी बिरयानी ऑर्डर किया था और इसे गैर हिंदू डिलिवरी मैन ने डिलिवर किया था और इसपर अमित ने किसी भी तरह की कोई आपत्ति जाहिर नहीं की थी। अमित सिंह ने कहा कि अमित ने जो किया है वह संवैधानिक मूल्यों के खिलाफ है।

जोमैटो ने दिया जवाब

जोमैटो ने दिया जवाब

बता दें कि मंगलवार को अमित ने रात में ट्वीट किया था और लिखा कि मैंने अभी-अभी जोमैटो का ऑर्डर कैंसल किया है क्योंकि उन्होंने डिलिवरी के लिए गैर हिंदू डिलिवरी मैन को अलॉट किया था। उन्होंने कहा कि वो डिलिवरी मैन का नाम नहीं बदल सकते हैं और पैसे भी वापस नहीं करेंगे। मैंने कहा कि आप मुझे डिलिवरी लेने के लिए बाध्य नहीं कर सकते हैं, मैं पैसे वापस नहीं चाहता हूं। जिसके बाद जोमैटो की ओर से ट्वीट करके लिखा गया कि खाने का कोई धर्म नहीं होता, खाना ही धर्म है।

इसे भी पढ़ें- अमित शाह को कपिल सिब्बल ने दी चुनौती, हिम्मत है तो गोडसे को आतंकी कहिए

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Big revelation about Amit Shukla who order food from Zomato and refuses to accept from non hindu.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X