• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

राजनाथ सिंह बोले-​राष्ट्र के विकास के लिए सुरक्षा ​​पहली ​प्राथमिकता

|

नई दिल्ली। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह​​ ने गुरुवार को आत्मनिर्भर सप्ताह के अवसर पर अहम बैठक की। बैठक को संबोधित करते हुए राजनाथ सिंह ने कहा कि, हम विदेशी सरकार, विदेशी सप्लायर्स और विदेशी रक्षा उत्पादों पर निर्भर नहीं रह सकते हैं। यह आत्मनिर्भर भारत की भावना के अनुकूल नहीं है। किसी भी ​​राष्ट्र के विकास के लिए सुरक्षा उसकी पहली ​प्राथमिकता होती है। ​जो​ राष्ट्र स्वयं अपनी सुरक्षा कर सकने में समर्थ हैं, वही ​विश्व स्तर पर अपनी मजबूत छवि बना पाने में कामयाब हुए हैं​​​​​।​​​

    Rajnath Singh बोले- 5 सालों में मिलेंगे 4 लाख करोड़ के Defense Equipment के ऑर्डर | वनइंडिया हिंदी

    Atmanirbharta Saptah: Rajnath Singh says Security is its first priority for development of any nation

    रक्षा मंत्री ​ने गुरुवार को साउथ ब्लॉक में वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से ​​'​आत्म निर्भरता सप्ताह'​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​ ​​​​समारोह ​को संबोधित करते हुए कहा कि हमें न केवल अपने राष्ट्रीय हितों की पूर्ति सुनिश्चित करने में सक्षम होना चाहिए, बल्कि जरूरत के समय अन्य लोगों की मदद करने में भी सक्षम होना चाहिए। रक्षा क्षेत्र में आत्मनिर्भरता किसी भी अन्य क्षेत्र की तुलना में कहीं अधिक महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि, अगर DPSU और OFB को राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर प्रतिस्पर्धा करनी है तो पुरानी प्रथाओं को दूर करना होगा। हमें राज्य की रक्षा औद्योगिक परिसर को भारत की सेवा में मदद करने के लिए आधुनिक प्रबंधन तकनीकों, प्रौद्योगिकी जलसेक और सहयोगात्मक प्रयासों की आवश्यकता है।

    राजनाथ सिंह ने कहा कि, इस उद्देश्य के साथ सरकार ने ओएफबी के कॉरपोरेटीकरण की दिशा में कदम उठाए हैं। मुझे यकीन है कि यह कदम न केवल नियंत्रित मूल्य निर्धारण की बाधाओं को दूर करने में मदद करेगा, बल्कि कॉर्पोरेट प्रबंधन प्रथाओं और कुशल प्रणालियों को भी प्रभावित करेगा। पिछले 6 दिनों से 'आत्मनिर्भरता' की ओर लगातार कदम बढ़ाते हुए आप लोग​ सुविधाओं ​के आधुनिकीकरण​, उन्नयन​​​​​​​ ​और नए​​ इंफ्रास्ट्रक्चर​​ ​​​​​के निर्माण का महत्त्वपूर्ण कार्य कर रहे हैं।​ उन्होंने कहा कि ​आज​​​​​​​​​​ जितने भी ​उत्पाद और ​​सुविधाओं का शुभारंभ​ ​किया गया है, उनमें चाहे ​​वह डंप ट्रक​ ​​हों या ​​सुपर विशालकाय हाइड्रो इलेक्ट्रिक खुदाई​, आगे चलकर न केवल​ डिफेन्स में​ ही ​ बल्कि​ सिविल सोसायटी में भी आवश्यकता पड़ने पर अपनी ​सेवाएं​ दे सकेंगे​​।

    ​राजनाथ सिंह ने कहा कि मुझे जानकर अच्छा लगा कि बीईएमएल द्वारा लांच किया गया 150 टन भार क्षमता वाला इलेक्ट्रिक डंप ट्रक और 180 टन क्षमता का सुपर विशालकाय खनन खुदाई यंत्र- दोनों स्वदेशी रूप से डिजाइन करके निर्मित किए गए हैं। यह इलेक्ट्रिक डंप ट्रक खनन उद्योग की ज़रूरत को भी पूरा करेगा​​। हमें न केवल अपने राष्ट्रीय हितों की पूर्ति सुनिश्चित करने में सक्षम होना चाहिए, बल्कि जरूरत के समय में अन्य लोगों की भी मदद करने में सक्षम होना चाहिए।

    रक्षामंत्री ने कहा कि, रक्षा उत्पादन में स्वदेशीकरण को बढ़ावा देने के लिए, सरकार ने 101 वस्तुओं की एक नेगेटिव सूची जारी की है। रक्षा मंत्रालय का अनुमान है कि अगले पांच से सात वर्षों में घरेलू उद्योगों को लगभग चार लाख करोड़ के आदेश दिए जायेंगे। इसलिए यह घरेलू रक्षा उद्योग और राज्य संस्थाओं के लिए एक उत्कृष्ट अवसर है, जो स्वदेशी रक्षा विकास और निर्माण में अपने हिस्से को बढ़ाना चाहता है।

    IB का बड़ा अलर्ट, 15 अगस्त को लालकिले पर खालिस्तान का झंडा फहराने की साजिश

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Atmanirbharta Saptah: Rajnath Singh says Security is its first priority for development of any nation
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X