• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

कांग्रेस के गठबंधन से इनकार पर बोले अरविंद केजरीवाल- कांग्रेस ने बीजेपी के साथ सीक्रेट गठबंधन किया है

|

नई दिल्ली: आम आदमी पार्टी और कांग्रेस के बीच दिल्ली में लोकसभा चुनावों के लिए गठबंधन की अटकलों पर सोमवार को विराम लग गया। राहुल गांधी से बैठक के बाद कांग्रेस की दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष शीला दीक्षित ने साफ कर दिया कि आने वाले चुनाव में कांग्रेस दिल्ली में अकेले चुनाव लड़ेगी और आम आदमी पार्टी के साथ कोई गठबंधन नहीं होगा। शीला दीक्षित के इस ऐलान के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने ट्विट कर प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कांग्रेस पर आरोप लगाया कि उसने बीजेपी के साथ सीक्रेट समझौता किया है। गौरतलब है कि पिछले शनिवार को आम आदमी पार्टी ने आने वाले लोकसभा चुनाव के लिए दिल्ली की सात सीटों में से 6 पर उम्मीदवारों के नामों का ऐलान कर दिया है।

'कांग्रेस के साथ बीजेपी का सीक्रेट गठबंधन'

अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट करते हुए लिखा कि जब पूरा देश मोदी और शाह की जोड़ी को हराना चाहता है, ऐसे समय में कांग्रेस एंटी-बीजेपी वोट को बांटकर बीजेपी की मदद कर रही है। ऐसी अफवाहें हैं कि कांग्रेस का बीजेपी के साथ सीक्रेट गठबंधन है। दिल्ली बीजेपी और कांग्रेस के गठबंधन से लड़ने के लिए तैयार है। जनता इस अनैतिक गठबंधन को हराएगी। गौरतलब है कि साल 2014 के चुनाव में कांग्रेस और आम आदमी पार्टी का दिल्ली में खाता नहीं खुला था। वहीं बीजेपी ने सात सीटों पर क्लीन स्वीप किया था।

'देश से बढ़कर पार्टी है'

अरविंद केजरीवाल के बाद गोपाल राय ने भी कांग्रेस को गठबंधन ना करने पर लताड़ा। उन्होंने ट्विट कर लिखा कि कांग्रेस ने अकेले चुनाव लड़ने का अंतिम ऐलान कर दिया है। ये दिखाता है कि ये बीजेपी को फायदा करेगा। ऐसा लगता है कि उनके लिए देश से बढ़कर पार्टी है। क्या कांग्रेस ने भाजपा के साथ अघोषित समझौता गठबंधन किया है।

'कांग्रेस अकेले लडे़गी चुनाव'

'कांग्रेस अकेले लडे़गी चुनाव'

राहुल गांधी से मुलाकात के बाद शीला दीक्षित ने कहा कि दिल्ली में आम आदमी पार्टी और कांग्रेस में गठबंधन नहीं होगा। हमने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को भी इस बारे में बताया है और वह भी सहमत थे। इस बैठक में सर्वसम्मति से यह फैसला लिया गया। हम अकेले पूरे साहस के साथ चुनाव लड़ेंगे। शीला के बयान के बाद ये तय हो गया है कि दिल्ली में लोकसभा चुनाव में त्रिकोणीय मुकाबला देखने को मिल सकता है। आम आदमी पार्टी की राज्य में सरकार और वहीं बीजेपी की केंद्र में सरकार है। कांग्रेस इन दोनों के खिलाफ सत्ता विरोधी लहर का फायदा उठाने की भरपूर कोशिश करेगी। दिल्ली की शीला दीक्षित के पास दिल्ली की कमान है और उन्हें दिल्ली की राजनीति का खासा अनुभव हैं और कांग्रेस हाईकमान इसका पूरा फायदा उठाना चाहती है।

आम आदमी पार्टी ने उम्मीदवार किए घोषित

आम आदमी पार्टी ने उम्मीदवार किए घोषित

आम आदमी पार्टी ने पिछले शनिवार को दिल्ली की सात सीटों में 6 सीटों पर लोकसभा चुनाव के लिए अपने उम्मीदवारों का ऐलान किया था। उसने वेस्ट दिल्ली को छोड़कर बाकी सीटों पर अपने उम्मीदवार घोषित कर दिए हैं। इससे पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा था कि कांग्रेस दिल्ली में गठबंधन नहीं करना चाहती है। बीजेपी के खिलाफ प्रस्तावित महागठबंधन को लेकर टीडीपी प्रमुख चंद्र बाबू नायडू और एनसीपी प्रमुख शरद पवार पूरी ताकत से लगे हुए हैं। उन्होंने राहुल गांधी से आग्रह किया था कि वो दिल्ली में बीजेपी को कड़ी चुनौती देने के लिए आम आदमी पार्टी से गठबंधन करे।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
arvind kejriwal says Congress is helping BJP by splitting anti BJP vote
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X