सेना ने कहा, 6 महीने में पीओके से आतंकियों का नामो-निशान मिटा देंगे

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। भारतीय सशस्त्र सेना का कहना है कि सिर्फ 6 महीने की कार्रवाई में हम पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में मौजूद आतंकियों के ठिकानों को नष्ट कर देंगे। सरकार से जुड़े नुमाइंदों से ये बातें कही गई हैं।

loc

सशस्त्र सेना से जुड़े अधिकारियों ने दी जानकारी

ईटी में छपी खबर के मुताबिक वरिष्ठ सैन्य अधिकारियों ने ऑफ रिकॉर्ड बातचीत में कहा कि भारत ने हाल ही में की गई सर्जिकल स्ट्राइक के बारे में लोगों को बताया।

पंजाब पुलिस ने जब्त की संदिग्ध पाकिस्तानी नाव, सर्च ऑपरेशन जारी

इस बीच भारतीय सशस्त्र सेना ने सरकार से कहा कि ऑफ और ऑन स्ट्राइक से आतंकियों के ठिकाने उस तरह से ध्वस्त नहीं होंगे, इसके लिए हमें खास ऑपरेशन की जरूरत है। मध्यम अवधि की योजना के जरिए इन्हें खत्म किया जा सकता है।

इस बीच सशस्त्र सेना के वरिष्ठ रणनीतिकारों ने सरकार को बताया कि सर्जिकल स्ट्राइक के बाद देश को कश्मीर में इसके नतीजों के असर के लिए तैयार रहना चाहिए। बता दें कि आतंकियों ने रविवार को ही बारामूला में बीएसएफ के आर्मी कैंप पर हमला किया था।

'आतंकी ठिकानों को नष्ट करने का सही समय'

सशस्त्र सेना से जुड़े रणनीतिकारों के मुताबिक आतंकी ठिकानों को ध्वस्त करने के लिए बड़े ऑपरेशन को अंजाम देने की जरूरत है। इसके लिए हमें एक अभियान शुरू करना होगा।

ग्रेनेड के हमले से थे घायल, फिर भी आतंकियों पर गोलियां चलाते रहे नितिन

फिलहाल आतंकियों पर की हालिया कार्रवाई के बाद आतंकी बैकफुट पर आ चुके हैं। हालांकि एक मजबूत प्लान की जरूरत है। ये पूरा मध्य अवधि का प्लान होगा, जिसमें 6 महीने कैंपेन की जरूरत होगी।

भारतीय जनरल के मुताबिक पाकिस्तान स्थित और प्रायोजित आतंकी हैंडलर्स भारत में और आतंकी घुसपैठ करवा सकते हैं। जिससे कि सर्जिकल स्ट्राइक का बदला लिया जा सके। जिसकी वजह से पीओके में आतंकी लॉन्च पैड बढ़ने की आशंका है।

अधिकारियों ने कहा- आतंकी समूहों का मनोबल गिरा हुआ है

भारतीय सेना के अधिकारियों के मुताबिक इन्हें जल्द खत्म करना होगा। एलओसी पर कार्रवाई का मतलब है कि कश्मीर सुरक्षा को लेकर अहम कदम होगा।

231 करोड़ की ड्रग्स मिलने पर साइंटिस्ट पति और पत्नी गिरफ्तार

सेना से जुड़े अधिकारियों के मुताबिक घाटी में आतंकी समूहों के समर्थक गुटों का मनोबल गिरा हुआ है। ऐसे में आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई का बढ़िया मौका बन रहा है। इससे घाटी में इनको समर्थन भी कम मिलेगा।

आर्मी से जुड़े एक बड़े अधिकारी के मुताबिक पीओके में करीब 40 आतंकी ठिकाने मौजूद हैं। वहीं करीब 50 लॉन्च पैड, 200 से ज्यादा आतंकी एलओसी और पीओके क्षेत्र में मौजूद हैं। इन सभी को पाकिस्तान की सेना का समर्थन प्राप्त है। जिसकी वजह से मनोबल बढ़ता है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Indian armed forces told that only sustained six month campaign will damage the terror infrastructure in POK.
Please Wait while comments are loading...