• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

कुणाल कामरा के समर्थन में उतरे जस्टिस काटजू, बोले- अगर मैं विमान में उनसे मिला तो और भी अपमानजनक बात कहूंगा

|
    Kunal Kamra के समर्थन में उतरे Justice Katju, बोले- अगर मैं विमान में उनसे मिला तो...|Oneindia Hindi

    नई दिल्ली। टीवी एंकर अर्णब गोस्वामी के साथ जिस तरह से विमान के भीतर स्टैंडअप कॉमेडियन कुणाल कामरा ने बहस की उसके बाद कई विमान कंपनियों ने उनपर विमान में सफर करने पर प्रतिबंध लगा दिया है। कुणाल कामरा पर लगे बैन के बाद अब उनके समर्थन में कई हस्तियां उतर आई हैं। यहां तक कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भी इस बैन का विरोध किया है। कुणाल पर लगे बैन के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज जस्टिस मार्कंडेय काटजू ने एयरलाइंस कंपनियों पर तीखा हमला करते हुए उन्हें चुनौती दी है।

    हिम्मत है तो मुझे भी बैन करके दिखाएं

    हिम्मत है तो मुझे भी बैन करके दिखाएं

    जस्टिस काटजू ने ट्वीट करके लिखा है कि कुछ एयरलाइंस कंपनियों ने कुणाल कामरा को बैन कर दिया है क्योंकि उन्होंने भो-भो भगवान को कुछ कह दिया था। मैं कहना चाहता हू कि अगर मैं उनके साथ विमान में यात्रा करूं तो और भी अपमानजनक बात कहूंगा, क्योंकि मैं उन्हें पत्रकारिता के नाम पर धब्बा मानता हूं। तो देखते हैं कि जब मैं उनके साथ ऐसा करता हूं तो क्या विमान कंपनियां मुझपर भी बैन लगाने की हिम्मत करती हैं। काटजू के ट्वीट पर एक यूजर ने लिखा है कि अगर आपमे हिम्मत है तो इसे आप विमान के भीतर करिए सोशल मीडिया पर नहीं।

    इंडिगो के विमान में हुआ था विवाद

    इंडिगो के विमान में हुआ था विवाद

    बता दें कि कुणाल कामरा और पत्रकार अर्नब गोस्वामी इंडिगो एयरलाइंस की 6E 5317 फ्लाइट में सफर कर रहे थे। इस बीच कुणाल ने अर्नब से कुछ सवाल किए जिसको उन्होंने नजरअंदाज कर दिया और वे अपने लैपटॉप पर कुछ देखने में व्यस्त रहे। कुणाल कामरा ने इस दौरान अर्नब गोस्वामी के लिए अपशब्दों का इस्तेमाल किया था। इस घटना का वीडियो खुद कुणाल कामरा ने अपने ट्विटर अकाउंट से पोस्ट किया था, जिसके बाद कामरा के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग उठने लगी थी। इसके बाद एयरलाइंस ने उनके खिलाफ ये कार्रवाई की।

    उड्डयन मंत्री ने बैन करने का दिया था सुझाव

    उड्डयन मंत्री ने बैन करने का दिया था सुझाव

    इस पूरे विवाद के बाद नागरिक विमानन मंत्री हरदीप सिंह पुरी का भी बयान आया था। उन्होंने कहा था कि, किसी भी विमान के अंदर किसी तरह का डिस्टर्बेंस स्वीकार्य नहीं है। विमान के अंदर अशांति फैलाने, यात्रियों को परेशान करना और आक्रामक व्यवहार अस्वीकार्य है। यह यात्रियों की सुरक्षा को भी खतरे में डालता है। उन्होंने कहा था कि मेरा सुझाव है कि दूसरी विमानन कंपनियां भी कामरा पर समान प्रतिबंध लगाएं।

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    After ban on Kunal Kamra Justice Katju dares airlines companies.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X